लखनऊ , 30 नवंबर 2017, अपडेटेड 13:57 IST इसलिए, शहरी इलाकों में और ग्रामीण क्षेत्रों में सभी बिना बिजली वाले परिवारों के लिए अंतराल अवरोध,अंतिम छोर तक बिजली और बिजली कनेक्शन जारी करने के मुद्दों को सुलझाने के लिए सौभाग्य योजना को शुरू किया गया है। धनबाद : कौशल विकास प्रशिक्षक मेयर का घेराव व पुतला दहन करेंगे Facebook © 2018 बढ़ रही है घरेलू स्वास्थ्य सेवाओं की भूमिका संघ की विचारधारा से दूध में शक्कर की तरह घुले मिले थे वाजपेयी: शिवसेना Română ब्यूरो/अमर उजाला, लखनऊ Updated Sat, 09 Dec 2017 08:40 PM IST चास-बोकारो समेत समस्त प्रदेश वासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं टेस्ट सीरीज शारदा प्रसाद के पैनल ने पाया है कि नेशनल स्किल डेवलपमेंट  प्रोग्राम 2015 के तहत 40 करोड़ युवाओं को स्किल यानी कौशल सिखाने की योजना बहुत बड़ी, ग़ैर-जरूरी और असाध्य है. आस्‍था टी 20 मैच में जीता पांचाल वॉरियर्स श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका को 3 विकटों से हराया जागरण फिल्म फेस्टिवल वीडियो न्यूज़ CONTACT US. PRIVACY POLICY. LEGAL DISCLAIMER. COMPLAINT. AUTHORS. INVESTOR INFO. CAREERS. WHERE TO WATCH RSS Feed 'असम समेत 14 राज्यों पर बिजली उत्पादक कंपनियों का करोड़ों बकाया' इन 10 तरीकों से नारियल तेल का इस्तेमाल करेंगे तो दिखेंगे यंग मलेशिया में सरकार के खिलाफ बोलने की आजादी मिली; पहले 6 साल जेल और 85 लाख रु जुर्माना होता था 3 mins आर.ओ./ए.आर.ओ. राजमहल लोकसभा सहित समस्त झारखण्ड वासियो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक सुभकामना व्रत और त्योहार मैनुअल-7,8 & 9 आगामी वित्तीय वर्ष 2018-19 की नई बिजली दर का निर्णय बुधवार को विनियामक आयोग के अध्यक्ष एसके नेगी, सदस्य राजीव अमित व आरके चौधरी ने संयुक्त रूप से सुनाया। अध्यक्ष ने कहा कि साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड को 9,603 करोड़ और नॉर्थ बिहार कंपनी को 7207.62 करोड़ रुपए राजस्व की जरूरत का प्रस्ताव दिया था। समीक्षा के बाद आयोग ने साउथ बिहार के लिए 9228.64 करोड़ और नॉर्थ बिहार के लिए 7106 करोड़ की जरूरत को मंजूर किया है। दोनों कंपनियों ने 2018-19 के लिए कुल 5121.87 करोड़ घाटा का प्रस्ताव दिया था, लेकिन जांच में मात्र 747.44 करोड़ ही पाया गया। कंपनी ने राजस्व नुकसान को कम करने के लिए 44 फीसदी बिजली दर वृद्धि का प्रस्ताव दिया, जिसे आयोग ने बड़े उद्योग को छोड़कर बाकी श्रेणी के उपभोक्ताओं को मात्र पांच फीसदी वृद्धि का निर्णय लिया है।  ट्रेंडिंग न्यूज़ - प्रत्यय अमृत, प्रधान सचिव, ऊर्जा विभाग  बाड़मेर से भीनमाल तक 144 किमी लंबी 400 केवी बिजली सप्लाई की लाइन का काम पूरा,139 करोड़ के काम में 399 टॉवर लगने हैं, अब सिर्फ 22 लगने ही बाकी, अगस्त से बेहतर होगी बिजली सप्लाई ☰ सदस्‍यता 2 सामग्री को स्किप करें Developers जम्मू-कश्मीर में मिनी बस खाई में गिरी; 1 की मौत, 20 घायल Promoted by 32 supporters Forgot account? End of conversation मुख्य पृष्ठ अनु. व वि. योजनाएँ अनुसंधान योजना विद्युत पर अनुसंधान योजना (आरएसओपी) Photo Gallery Indonesian Indonesia राष्ट्रीय पर्व को मनाते हैं लेकिन राष्ट्रीयता का मतलब नहीं समझते हैं – प्रधानाध्यापक बोर्ड रिजल्ट्स जुड़ें हमसे : LATEST NEWS डीआईसी करेगी विद्युत योजनाओं का अनुश्रवण July, 2016 जागरण संवाददाता, मोहाली : चंडीगढ़ के बाद अब मोहाली में भी सस्ते बिजली उपकरण मिलेंगे। जिनमें बल्ब से Home » व्यापार » पसंद की बिजली कंपनी चुन सकेंगे लोग! पंचांग अगर करा रखी है FD और RD तो इन 5 बातों का रखें ध्यान प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना वर्ष       उपलब्धता UPSC IAS Interview में पूछा- जवाबदेही क्या होती है, जानें जवाब बढ़ी हुई दरों की मार सबसे ज्यादा ग्रामीण क्षेत्रों पर पड़ने वाली है. पिछली दरों के मुताबिक अभी तक ग्रामीणों क्षेत्रों में उपभोक्ताओं को 180 रुपये प्रतिमाह देना पड़ता था, जबकि किसानों को 100 रुपये प्रतिमाह देना पड़ता था. रोग और उपचार भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन हेतु मध्यरात्रि पट खुले 15/08/2018 Should you buy instant water heater for your bathroom? www.jagran.com 08 सितम्बर 2016, 02:01 AM #electricity सहयोगात्मक तथा उन्नत अनुसंधान केन्द्र (सीकार) बैंकिंग और लोन तहसीलदार का ध्वजारोहण, चेयरमैन नाराज होकर लौटे French Français सुप्रीम कोर्ट पहुंची चुनाव से पहले सस्ती बिजली देने और बिल माफ करने की योजना रांची। पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर जहां पूरे देश में शोक का माहौल है, वहीं लोग उनके किए कार्यों को याद कर उन्हें अपनी यादों में जीवित रखे हुए हैं। वैसे तो अलट को लेकर कई तरह की यादें लोगों के जेहन में है, लेकिन झारखंड के लोग शायद ही उन्हें भूल पाएंगे। इसलिए योजना को सभी पहलुओं के बारे में लोगों को जागरूक बनाने के लिए व्यापक मल्टी-मीडिया अभियान चलाया जाएगा। बिजली विभाग के साथ-साथ सौभाग्य योजना के बारे में जागरुकता पैदा करने के लिए डिस्कॉम के अधिकारियों ने ग्रामीण इलाकों में शिविरों का आयोजन भी किया था। जागरूकता अभियान में स्कूल शिक्षक, ग्राम पंचायत सदस्य, स्थानीय साक्षर / शिक्षित युवा भी शामिल होंगे। मापने का क्षेत्र टेक्नॉलॉजी मॉब लिंचिंग से नहीं हुई अकबर की मौत : आईजी उपभोक्ता-पिछली दर-नई दर Prabhat Khabar PK Studios Weather department warns of heavy rains in 6 states पुस्‍तकालय के नियम राष्ट्रीय विद्युत् योजना करियर / 5 किलोवाट से अधिक और 50 किलोवाट या 56 केवीए तक के लोड के लिए 300 रुपये प्रति किलोवाट सिस्टम लोडिंग चार्ज जमा कराया जाता था। अब 5 किलोवाट तक कोई सिस्टम लोडिंग चार्ज नहीं देना होगा। अलबत्ता 5 किलोवाट से ऊपर के कनेक्शन के लिए पहले की ही तरह 300 रुपये प्रति किलोवाट के हिसाब से सिस्टम लोडिंग चार्ज जमा कराया जाएगा। Offer period 11th - 18th August, 2018 पैन कार्ड PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदें, मुफ्त में मिलेगा GOLD COIN Copyright © 2017 MPUVN . All rights reserved | Designed By Ramrajtech up news in hindi uttar pradesh news electricity prices in uttar pradesh SHRUTI MISSING CASE अपडेट अभी अभी: बम धमाके से दहला नालंदा – स्वतंत्रता दिवस की खुशियों के बीच नालंदा में बम विस्फोट । झरिया पाइए दिल्ली समाचार(Delhi News In Hindi)सबसे पहले नवभारत टाइम्स पर। नवभारत टाइम्स से हिंदी समाचार (Hindi News) अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App और रहें हर खबर से अपडेट। बीजेपी शासित राज्यों के सरकारी कार्यक्रम रद्द, दिल्ली आ रहे हैं सभी CM संबंधित लिंक KEEP IN TOUCH WITH US योर मनीः युवाओं के लिए कौनसे फंड हैं बेस्ट Insulation अनुसंधान क्रियाकलाप   ⁄  Dehradun फ्रांसीसी दंपति को लेह से सुरक्षित दिल्ली लाई भारतीय वायुसेना March 2018 जब एक ही कक्षा में विद्यार्थी थे अटल और उनके... स्मार्ट ग्रिड दादी नानी के नुस्खे 6 माह में कार्य पूरा करने वाली इन योजनाओं को शुरु हुए एक साल से अधिक समय हो चुका है, लेकिन किसी भी योजना के कार्य अभी तक 50 प्रतिशत का आंकड़ा भी नहीं छू पाए हैं। हालांकि दीनदयाल योजना में 55 प्रतिशत कार्य होने का दावा किया जा रहा है। सौभाग्य योजना की बात करें तो एक वर्ष में केवल 22 प्रतिशत कार्य ही पूरा हो पाया है। इसके अलावा आईपीडीएस का 35 प्रतिशत कार्य हुआ है। 43 Comments 4- डीजल/विद्युत पम्प सैट योजना.. Archives विद्युत नियामक आयोग ने कृषि क्षेत्र में 25 एचपी से अधिक बिजली खपत पर 2 फीसदी और 25 एचपी तक 12 फीसदी की राहत दी गई है। छोटी इंडस्ट्री को 10 फीसद और हैवी इंडस्ट्री के लिए 3 से 5 फीसद तक की छूट दी गई है। हैवी इंडस्ट्री के लिए पीक आवर में अधितकत 25 फीसदी तथा औसतन 10 फीसदी तक की छूट दिए जाने का प्रावधान रखा गया है. वहीं रेलवे को 16 फीसद तक की छूट दी जा रही है। श्री अटल बिहारी बाजपेयी जब बैलगाड़ी से पहुँचे थे संसद, इंदिरा गांधी भी रह गयी थी हैरान शनिदेव की कृपा पाने के लिए शनिवार को काली गाय को खिलाएं बूंदी के लड्डू, करियर में मिल सकती है सफलता 18 mins अजब- ग़ज़ब Filipino By RC Desk2 On May 11,2018 11:32:51 AM SLING INTERNATIONAL पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी का काम अधूरा छोड़कर गायब हुईं कंपनियों में सबसे ज्यादा चार हैदराबाद की बताई जा रही हैं। अन्य कंपनियां चेन्नई, बेंगलूरु, जबलपुर, सतना व नोएडा की हैं। काम पूरा नहीं करने वाली इन कंपनियों पर कार्रवाई के बाद बिजली कंपनी इनकी बैंक गारंटी जब्त करने की कवायद में जुट गई है। MPPSC मोटो जेड2 प्ले 64जीबी (लूनर ग्रे, 4जीबी रैम) Saubhagya – Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana प्रायोगिक लाइन ऊधम सिंह नगर Updated: 22 Jun, 2015 04:19 PM महंगी बिजली नहीं चाहिए तो रखें राय जाहिर है, चीनी सरकार की जनरल एंटी-बिटकॉइन रुख जारी रहती है, जिनकी रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन की बिटकॉइन खनन सुविधाओं की सबसे बड़ी पनबिजली बिजली जल्द ही अतीत की बात हो सकती है। स्थानीय मीडिया। दिल्ली बिजली नियामक प्राधिकरण की बैठक में लिया गया फैसला अगर राज्य का आकलन सही तरीके से किया जाए तो ना तो यहां बेरोजगारी की समस्या खत्म हुई है और ना ही पलायन का। यहां ना तो गरीबी खत्म हुई है और ना ही जीवन जीने के तरीकों में कोई सुधार हुआ है। स्वास्थ्य और शिक्षा के हालात पर हर दिन बहस हो रही है। विद्युत प्रदायक बदलें - बिजली का मीटर विद्युत प्रदायक बदलें - सस्ता बिजली बिल विद्युत प्रदायक बदलें - ऊर्जा योजनाओं की तुलना करें
Legal | Sitemap