वातावरण की उपेक्षा की यह स्थिति थी कि खुदाई तथा सुरंग बनाने से निकला सारा मलवा खुलेआम नदी में डाला जा रहा था। योजना बनाने वालों ने किंचित भी परवाह नहीं की कि ऐसा करने से पानी दूषित हो जाएगा तथा जल में रहने वाले जीवों की हानि होगी। जो वृक्ष या वन लगाने की बात योजना वालों ने की थी वह पूरी नहीं की गई। अड़तीस प्रतिशत योजनाओं ने कोई पेड़ नहीं लगाए, योजनाओं की सड़कें तथा सुरंगें बनाने से पहाड़ों के ढलानों को नुकसान हुआ। इन सब बातों का प्रतिकूल प्रभाव नदियों के नीचले भागों में पड़ा। नीचे के जल प्रवाह की माप होनी चाहिए थी तथा उसके मानदंड बनाए जाने चाहिए थे ताकि योजनाओं का वातावरण पर दुष्प्रभाव न पडे, उससे भूमिगत पानी का संचय हो रहा है या नहीं। सिंचाई के लिए क्या बचा पानी पर्याप्त है कि नहीं तथा नदी में कितनी बालू-मिट्टी जमा हो रही है ? यह देखा जाना चाहिए था कि योजनाओं के बनने के बाद पर्यावरण तथा प्रकृति पर क्या प्रभाव पड़ रहा है और उसकी लगातार समीक्षा होनी चाहिए थी। बिजली यंत्रों को चलने से यदि कोई दुष्प्रभाव पड़ रहा है तो उनके संचालन में बदलाव किया जाना चाहिए था। भारत सरकार के सुझावों के अनुसार एक प्रतिशत बिजली सरकार को सहायता के लिए मुफ्त दी जानी चाहिए थी। Last updated: Thu, 22 Mar 2018 06:41 AM IST श्वेता बच्चन ने अपनी बेटी नव्या नवेली के साथ करवाया हॉट फोटो शूट कुलदीप यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल करना गलती : रवि… शादी से बचने के लिए दोस्त के घर तीन दिन कमरे में बंद रहे थे अटल बिहारी वाजपेयी मथुरा जालौन के बागी गांव में मां-बेटे की गला रेतकर हत्या जनसांख्यिकी ऑक्सीजन, पेट्रोल-डीजल, खाद्य पदार्थों, पेयजल की कमी शासी परिषद् प्रमुख संवाददाता, लखनऊ अजमेर के प्रतिष्ठित मेयो कॉलेज में 11वीं के छात्र के साथ यौन शोषण ! मामला दर्ज गोपालगंज टैक्‍स #Mulk 14 जुलाई 2018 बसपा Previous दिलचस्प खबरें यूनिटपहले था करार के बाद ये भी पढ़ें- जीएसटी के तहत हर तिमाही रिटर्न दाखिल करना व्यावहारिक नहीं: जेटली लाइव महत्वपूर्ण जानकारी देवरों ने किया भाभी के साथ बलात्कार का प्रयास 10 दिसंबर 2017 ABP-C VOTER Survey Review: मध्यप्रदेश में गोवा रिटर्न सरकार | MP ELECTION NEWS Ελληνικά परिचय | पी.सी.एस. अपडेट्स | परीक्षा का प्रारूप | उत्तर प्रदेश पी.सी.एस. | बिहार पी.सी.एस. | राजस्थान पी.सी.एस. | मध्य प्रदेश पी.सी.एस. | उत्तराखंड पी.सी.एस. | झारखंड पी.सी.एस. | छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. | परीक्षा उपयोगी पुस्तकें | पी.सी.एस. अपडेट्स सरन भाजपा नेता, चंदनकियारी इससे जहां बिजली की चोरी में कमी होगी वहीं लाइन हानियां कम होने से वितरण कंपनियों का घाटा कम होगा। देश दीपक वर्मा का कहना है कि इससे बिजली के नए कनेक्शन लेने के लिए लोगों को प्रोत्साहन मिलेगा। राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश वर्मा ने आयोग के अध्यक्ष व सदस्य से मिलकर इस फैसले के लिए आभार जताया। PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदें, मुफ्त में मिलेगा GOLD COIN संपर्क वीडियो गैलरी राष्ट्री य ग्रिड का सृजन यूरोप का मॉडल योजना प्रेरक प्रसंग केजरीवाल की सरकार है फेल, हरियाणा सरकार कर रही हैं बढ़िया काम : अनिल विज संरचनात्मक सामग्री परीक्षण प्रयोगशाला technology1 day ago हमारा मंदसौर Pay bill on time that can help you to get loan on cheaper interest rate. Recent Comments हिंदी साहित्य ऊर्जा से जुड़े प्रमुख संस्थान शिकायत और सुनवाई New Delhi सी ई आर सी Norsk सरकारी विभाग नहीं जमा कर रहे बिजली बिल, निगम दे रहा ढील Leo (सिंह) रणनीति उपलब्‍ध सुविधाऍं जिले की अब तक कि सबसे बड़ी विद्युत प्रसारण योजना का काम अब अपने अंतिम पड़ाव पर है। 400 केवी डबल सर्किल बाड़मेर से भीनमाल तक की 144 किलोमीटर लंबी लाइन में 399 हाई टेंशन टॉवर लगने के कार्य हो रहे हैं। 139.02 करोड़ रुपए की इस परियोजना में अब तक 377 टॉवर लग चुके हैं। राजस्थान राज्य विद्युत प्रसारण निगम बाड़मेर के निर्माण कार्य विभाग के सहायक अभियंता सवाई सिंह खत्री के अनुसार बाड़मेर के गेहूं गांव में जिले इकलौते 400 केवी सब स्टेशन से भीनमाल तक की इस 400 केवी डबल सर्किल बाड़मेर से भीनमाल लाइन का काम जुलाई 2016 में शुरू हुआ था। यह काम अगस्त में पूरा हो जाएगा। डिस्कॉम की कनिष्ठ अभियंता स्नेहा राजपुरोहित के मुताबिक इस काम की नियमित मॉनिटरिंग की जा रही है। इस काम के पूरे हो जाने के बाद बाड़मेर भीनमाल-सिरोही, उदयपुर से देबारी विद्युत चक्र से जुड़ जाएगा। यहां की उत्पादित विद्युत के त्वरित प्रसारण के साथ निर्बाध बिजली सप्लाई होगी। Loading... Parental Guidance अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें। पिछले साल के मुकाबले पूरे उत्तर भारत में बेहतर... वाजपेयी के अंतिम संस्कार में शामिल हुए पाकिस्तान समेत दक्षेस देशों के नेता दिव्यांगजन पेंशन 13 जुलाई 2018 देखें भारत के आखिरी गांव कहे जाने वाले छितकुल की अनछुई प्राकृतिक... // ]]> Himachal Pradesh News Hindi(हिमाचल प्रदेश) सवाल कुलदीप यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल करना गलती : रवि… Copyright © 2016 Prabhat Khabar (NPHL) For Advertisement Query चकल्लस के टॉपर Add this video to your website by copying the code below. Learn more चौदहवां सवाल – क्या योजना में अवैध उपभोक्ताओं को आमने-सामने आने और पंजीकरण करने की योजना है? क्या यह भी कुछ ऐसी योजना है? बढ़ते: 35 मिमी दीन संत कबीर नगर Copyright @ 2016 Drishti The Vision Foundation, India. All rights reserved           योजना की पात्रता शर्तों का जिक्र करते हुए प्रवक्ता ने बताया कि उस उद्यम को राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर अधिसूचित प्रतिबंधित सूची में न रखा गया हो। इसके अलावा, सब्सिडी जारी करने के समय उद्यम नियमित उत्पादन कर रहा हो और यह सब्सिडी बंद इकाइयों को जारी नहीं की जाएगी।  15 अगस्त की ड्रेस रिहर्सल, कई रूट बदले और स्कूल 10 बजे से Mere 3 Floor ke zero aaya hai . haa maiac nahi chalatapic.twitter.com/GHfEtNX3zu 8,888SubscribersSubscribe शिक्षा/नौकरी कॉर्पोरेट # Dehradun City News Soubhayga Yojna MAI ताजा ओपिनियन शुक्रवार को जमशेदपुर में नीति आयोग सभागार में आयोजित बैठक के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए डॉ कुलकर्णी ने कहा कि कि पिछले एक साल में विद्युत विभाग में पंद्रह सौ इंजीनियर्स की नियुक्ति कर ली गयी है अौर इंजीनियरों की कोई कमी नहीं है. निचले स्तर के तथा फील्ड में काम करने वाले कर्मचारियों की कमी थी अौर 750 कर्मचारियों की नियुक्ति की प्रक्रिया अंतिम स्तर पर है अौर एक-डेढ़ माह में प्रशिक्षण देकर उनकी पोस्टिंग की जायेगी. कंपनियों में बिजली चोरी के मामले की जांच के लिए एसआइटी गठित की गयी है, एसआइटी द्वारा प्रारंभिक रिपोर्ट सौंपी गयी है. जैसे-जैसे रिपोर्ट आयेगी उस आधार पर कार्रवाई की जायेगी.  भोजपुरी जन मंगल आवास् योजना       कांग्रेस ने ताबूत घोटाले में बदनाम किया था अटल बिहारी वाजपेयी को जब पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ने मंच पर छू ल‍िए थे इस मह‍िला के पैर Saroj Kumar Meher ठग मानसिकता के चंदा चोर आपकी बुराई करते हैं तो आत्मबल बढ़ता है: कैप्टन अभिमन्यु वालीवुड अटल जी के जाने के बाद लोग अब चर्चा कर रहे हैं कि शायद अटल जी नहीं होते तो झारखंड भी नहीं होता। जानकार बताते हैं कि अटल जी जब कभी झारखंड का दौरा करते या यहां के नेताओं के साथ बातचीत करते तो झारखंड (वनांचल) का जिक्र जरुर करते थे। वर्ष 1991 में रांची में एक चुनावी सभा में उन्होंने कहा था कि और जैसे ही उन्हें प्रधानमंत्री बनने का मौका मिला, अलग राज्य की घोषण कर दी। सैमसंग गैलेक्सी ए 6 प्लस 64जीबी (ब्लैक, 4 जीबी रैम) प्याज (Onion) bjp ट्रांसमिशन वर्क्स के कार्यकारी सारांश हम बिजली सस्ती भी देंगे और पूरी भी मुंगेर प्रधान मंत्री सौभाग्य बिजली हर घर योजना का मुख्य उद्देश्य – सौभाग्य योजना एक बड़ी संख्या में ग्रामीण परिवारों का विद्युतीकरण करना है, जो उत्पादन क्षेत्र में मदद करेगा, बिजली की मांग को आगे बढ़ाकर सामाजिक और आर्थिक लाभों की वृद्धि करेगा। और विद्युत मंत्रालय नोडल प्राधिकरण है जिसकी जिम्मेदारी देश में प्रत्येक परिवार को बिजली कनेक्शन प्रदान करने और लक्ष्य पूरा करने की जिम्मेदारी है आरटीएल, कोलकत्ता बिटकॉइन अधिशेष का उपयोग कर, सरकार अभी भी फैलाने भारतखेल दिल्लीमूवी-मस्तीNBT ब्लॉगमुंबईजोक्स अपना ब्लॉगलखनऊटेकघर-परिवारअन्य शहरऑटोफोटो धमालदुनियाबिज़नस ETसंडे NBT राशिफल शुभ यात्राविचारNBT मोबाइलNBT ऐप खूंटी कजरा व पीरपैंती में लगने हैं ढाई-ढाई सौ मेगावाट क्षमता का सोलर प्लांट हरियाणा के बारे में संस्थागत अभी सिंचाई कार्यों के लिए 70 पैसे से 1.20 रुपये प्रति किलोवाट की दर  निर्धारित है. आयोग ने इसके लिए बिजली दर बढ़ा कर पांच रुपये प्रति यूनिट  निर्धारित कर दिया  Language: English राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य योजनाओं पर समिति Technology News #अटल बिहारी वाजपेयी प्रदेश में शहर से लेकर गांव के तक की बिजली शनिवार से महंगी हो जाएगी। शहरी घरेलू बिजली दरें 8.46 फीसदी जबकि ग्रामीण अनमीटर्ड उपभोक्ताओं की दरें 63 फीसदी और ग्रामीण मीटर्ड उपभोक्ताओं की दरें 57.02 फीसदी बढ़ जाएंगी। स्वतंत्रता दिवस पर जिले के समस्त पदाधिकारी एवं आम जनता को हार्दिक शुभकामनाएं 'मिनी पंजाब' में तबाही के बाद का मंजर, सैलाब में... कौशाम्बी सब्सक्राइब करें न्यूज़कोड का डेली न्यूज़लेटर 0 कर्मचारी पर होने वाले खर्च का युक्तियुक्तकरण व समय पर टैरिफ पिटिशन फाइल करनी चाहिए। त्‍वरित विद्युत विकास एवं सुधार कार्यक्रम (एपीडीआरपी) दीनदयाल योजना में करीब 96 करोड़ के कार्य पावर प्लांट्स के लिए SBI का बड़ा डेट रिस्ट्रक्चरिंग और टेकओवर प्लान ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - मुफ्त बिजली ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - बिजली की कीमत ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - नवीकरणीय ऊर्जा
Legal | Sitemap