अब पाइए अपने शहर ( Jaipur News in Hindi) सबसे पहले पत्रिका वेबसाइट पर | Hindi News अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Patrika Hindi News App, Hindi Samachar की ताज़ा खबरें हिदी में अपडेट पाने के लिए लाइक करें Patrika फेसबुक पेज अधिकतम वर्तमान लोकसभा टीवी डिस्कशंस जन सूचना अधिकारी प्रकाश उद्देश्यों के लिए मिट्टी के तेल के प्रतिस्थापन द्वारा पर्यावरण उन्नयन पढ़ेंःB= बबीता, B= बिटकॉइन, C= करप्शन, BBC में कैसे फंसी जयपुर की महिला थानेदार बबीता 09:41 पेट्रोल पंप डकैती कांड में खुलासे के करीब पुलिस September 14,2017 03:29:27 PM फिलहाल इस योजना के लिये 12 हजार 320 करोड़ रुपए का बजटीय आवंटन किया गया है। स्टडी मैटीरियल जागरण फिल्म फेस्टिवल नि वि औद्योगिक सेवा 1 8.59 0.25 8.34 8.39 7.86 क्या वाकई मक्का में होटल की बिल्डिंग गिरने से हाजी शहीद हुए नवीकरणीय ऊर्जा की स्थापित क्षमता में वृद्धि कर इसके लिये 2022 तक 175 गीगावाट का  लक्ष्य रखा गया है। Book Print Ad Englishमराठीবাংলাதமிழ்മലയാളംગુજરાતીతెలుగుಕನ್ನಡ LATEST VIDEO पहली बार परफॉरमेंस के आधार पर सस्ती बिजली: बिजली कंपनियों के परफॉरमेंस के आधार पर रेग्युलेटरी सरचार्ज में कटौती कर बिजली सस्ती देने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है। नियामक आयोग के चेयरमैन देशदीपक वर्मा ने कहा कि जो कंपनियां लाइन लॉस कम करने में पिछड़ गई उन्हें खामियाजा भुगतना पड़ा। आगे भी यह प्रतिस्पर्धा जारी रहेगी। बड़कागाँव विधायक प्रतिनिधि दूल्हा बनकर ठगी का मामला: कमाऊ दुल्हन और बुजुर्ग सास-ससुर देखकर ही करते थे शादी जल ज्ञानकोश केंद्र सरकार देश में बिजली की कीमतें घटाने और इसमें एकरूपता लाने की दिशा में काम कर रही है, जिसके लिए उसकी थर्मल ऊर्जा उत्पादन तथा शेड्यूलिंग के नियमों में ढील देने की योजना है। ऊर्जा मंत्रालय ने जुलाई में इस पर मेरिट ऑर्डर जारी कर सभी पक्षों से राय मांगी थी, जिस पर उसे सकारात्मक रुख मिला है।  मुख्य लिंक Samastipur Sign Up तुर्की ने कहा, अमेरिका और प्रतिबंध लगाता है तो देंगे जवाब दूसरा सवाल – परिवारों को अंतिम छोर तक बिजली कनेक्शन प्रदान करने के लिए क्या किया गया है? विद्युत नियामक आयोग ने रेग्युलेटरी सरचार्ज में यह कटौती पिछले साल जारी बिजली टैरिफ में लागू परफॉरमेंस शर्तों के आधार पर की गई है। लाइन लॉस कम करने का तय लक्ष्य पूरा करने में नाकाम रही बिजली कंपनियों को जुर्माने के तौर पर अब तक वसूले जा रहे 2.84 फीसदी रेग्युलेटरी सरचार्ज में अलग-अलग दर पर कटौती की गई है। पश्चिमांचल के जिलों में लाइन लॉस का निर्धारित लक्ष्य पूरा हो जाने के कारण कंपनी के सरचार्ज में कोई कटौती नहीं की गई है। इसके चलते एनसीआर समेत मेरठ, मुरादाबाद, सहारनपुर सरीखे जिलों में उपभोक्ताओं के बिजली बिल में कोई फर्क नहीं पड़ेगा। इस पोस्ट को शेयर करें WhatsApp प्रोजेक्ट रिव्‍यू Purnia जयपुर में देर रात झमाझम बारिश, मौसम हुआ ठंडा, सड़कों पर जगह-जगह भरा पानी   इस पोस्ट को शेयर करें Twitter ALL... भारतीय बिजली ग्रिड संहिता jobs ईएमसी/ ऊर्जा मीटर परीक्षण प्रयोगशाला पटनासाहिब को मिली दो विद्युत योजना : नंदकिशोर April 15, 2018 यूथ कॉर्नर © 2018 सी-डैक. सर्वाधिकार सुरक्षित दिल्ली में बिजली की दरों में बढोतरी की आहट सुनाई दे रही है. निजी बिजली कंपनियों ने घाटे का हवाला देकर बिजली की दरें बढ़ाने की मांग की है और दिल्ली इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी अथॉरिटी के पास अपनी अर्जी भी लगा दी है. Powered By: Hocalwire Flicker Promoted by 24 supporters इकोनॉमी Last updated on: Aug 13, 2018 आपका शहर साइन इन टैक्स भरने वालों की संख्या बढ़ेगी Public Holiday Like Us :   श्रेणी कुल टैरिफ सब्सिडी वास्तविक देय प.बंगाल यूपी   वार्षिक रिपोर्ट Cosmopolitan छपरा ALL... Betiah कम्‍प्‍यूटर Verified account हेल्थ न्यूज़ अपनी राय दें गांव में मकान बनाने की योजना के तहत सिर्फ 16 लाख मकान ही बने हैं. नाम लखनऊ(नासिर): बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष, सांसद (राज्यसभा) व पूर्व मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश मायावती ने उत्तर प्रदेश में बिजली की दरों में भारी वृद्धि करने की तीखी आलोचना करते हुए कहा कि यह प्रदेश में समाजवादी पार्टी सरकार की घोर विफलता का एक और जीता-जागता प्रमाण है कि प्रदेशवासियों को अगले महीने से ही काफी ज़्यादा मंहगी बिजली इस्तेमाल करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। बिजली की इस भारी वृद्धि दर को जनहित में तत्काल वापस लिया जाना चाहिए। रिलायन्स ने खुद की ही कंपनी से सस्ती बिजली खरीद कर दूसरी कंपनी को मंहगी बिजली बेच कर, जनता को लूटा #DiscomFactspic.twitter.com/pb1jCcVpt9 गढवा Sat, 18 Aug 2018 03:30 PM IST अटल जी के निधन पर यूपी में सात दिनों के राजकीय शोक की घोषणा, आज अवकाश Nag Panchami 2018: काल सर्प दोष से चाहते हैं मुक्ति तो ऐसे करें नाग पंचमी पर नाग की पूजा सरकारी विभाग नहीं जमा कर रहे बिजली बिल, निगम दे रहा ढील कानपुर देहात दिल्ली और एनसीआर रुपये में ऐतिहासिक गिरावट के बाद डैमेज कंट्रोल मोड में सरकार... ITR फाइलिंग में फिर किया गया बदलाव केरल में बाढ़ से बिगड़े हालात, PM मोदी का हवाई सर्वे हो सकता है रद्द बिजली दरों के मामले में पड़ोसी राज्यों में श्रेणीवार बिजली दरों की तुलना में प्रदेश में बिजली दरें सर्वाधिक हो चुकी हैं और बिजली कंपनियों के वित्तीय घाटे में हो रही लगातार बढ़ोतरी व उदय योजना में मिले अनुदान की शर्तों के अनुसार बिजली कंपनियों को मिली छूट से आगामी समय में फिर से बिजली दरों में बढ़ोतरी होना भी लगभग तय है।  कुशीनगर पानी को लेकर जनता सड़क पर, हाइवे जाम, डीजीपी होमगार्ड का फंसा वाहन बठिंडा/मानसा कुमार ने कहा, 'कई पावर कंपनियों के कर्ज को पहले ही बैड लोन कैटेगरी में डाला जा चुका है और इस तरह के कुछ और लोन इस वर्ग में जा सकते हैं। हाईकोर्ट का फैसला बैंकों के लिए अच्छा है क्योंकि इससे उन्हें कोर्ट से बाहर लोन रिजॉल्यूशन के लिए अधिक समय मिलेगा।' आरबीआई के सर्कुलर में 180 दिनों के पीरियड के लिए 1 मार्च को रेफरेंस डेट बताया गया था। इसलिए बैंकरप्सी कोर्ट से बाहर लोन रिजॉल्यूशन के लिए बैंकों के पास अगस्त के अंत तक का समय है। अभी देश की 22 पर्सेंट इंस्टॉल्ड पावर जेनरेशन कैपेसिटी एनपीए है। रिजर्व बैंक के डेटा के मुताबिक, भारतीय बैंकों ने पावर सेक्टर को अप्रैल के अंत तक 5.19 लाख करोड़ रुपये का कर्ज दिया हुआ था। यूएस-चीन ट्रेड वॉर से भारत को होगा फायदा, मिलेगा सस्ता तेल ताज़ा खबर सिर्फ मीटर के पैसे देकर मिले बिजली कनेक्शन: उपभोक्ता परिषद Rohini, Delhi एबीवीपी और एनएसयूआई ने कॉलेज मेंं एक साथ किया प्रदर्शन, दर्जनभर हिरासत में entertainment3 hours ago अगर आप कोई सूचना, लेख, आॅडियो-वीडियो या सुझाव हम तक पहुंचाना चाहते हैं तो इस ईमेल आईडी पर भेजें: [email protected] खोजें खोजें मकर ज्यादा जानकारी के लिए लिंक: http://www.mahadiscom.in/Advertisement_3_2015.shtm मंत्री श्री जैन ने हासामपुरा में स्व.दिगंबरराव तिजारे स्टेडियम का लोकार्पण किया, विधायक ट्रॉफी 2018 का पुरस्कार वितरण भी किया आन्ध्र प्रदेश Khagaria 0 replies 0 retweets 2 likes होम लोनः भविष्य की जरूरत भी करे पूरी परामर्श सेवाएँ Grievances Atal Bihari Vajpayee: अटल-आडवाणी की जोड़ी में मुरली मनोहर जोशी को क्यों नहीं घुसाते? वाजपेयी ने दिया था ऐसा जवाब GST से क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा पुलिस ने अपहृत डॉक्टर पुत्र को किया बरामद, लोजपा नेता… पारस HMRI में लिगामेंट सर्जरी का बढ़ा क्रेज, दो फुटबाॅलरों का हुआ सफल ऑपरेशन BIHAR कमल किशोर उपलब्‍ध परीक्षण सुविधाऍं कैसे पहुंचें Infographics उत्तरी भारत नया हरियाणा : 10 अगस्त 2018 और सूचना ओके रघुवर सरकार के इस निर्णय से आम जनता पर काफी बोझ बढ़ेगा। औसतन सभी वर्गों के उपभोक्ताओं के लिए बिजली दर में 40 प्रतिशत से अधिक बढ़ोतरी की गई है। उन्होंने कहा कि रघुवर सरकार की यह घोषणा कि घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बढ़े हुए बिजली दर की भरपाई सरकार द्वारा प्रस्तावित सब्सिडी से की जाएगी, महज आईवाश है, यह जनता को भरमाने की बात है। NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 10:43 AM Tweets not working for you? इंटीरियर डैकोरेशन नागरिक अधिकार पहाड़ वालों ने नम आंखों से रिज पर देखी अटल जी की... लुधियाना www.jagran.com 01 मई 2018, 12:01 AM July 21, 2018 Friday 10 August , 2018 अरुणाचल प्रदेश # Haryana Top 326 Views प्रदेश उपाध्यक्ष अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ सह कांग्रेस चतरा विधानसभा प्रभारी प्रभागीय प्रधान केबिल व संधारित्र प्रभाग (सी डी डी) Partner sites : इसरो नैनो उपग्रह बनाने के लिए क्षमता विकास कार्यक्रम शुरू करेगा आठ बिजली कनेक्शन काटे मीटर भी निकाले पुष्कर में सोमवारी को कांवड़ के साथ झूमते दिखे शिवभक्त Confirmation औद्योगिक ठोस अपशिष्ट उपयोगिता केंद्र लग्जरी फीचर्स से लैस Renault Kwid को देखकर कोई भी हो जाएगा दीवाना, कीमत 3 लाख से भी कम कर्नाटक: CM कुमारस्वामी करेंगे बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों का दौरा न्यूज निचोड़ At 7PM: बेटी ने दी मुखाग्नि उदय न्यूज़ एबीवीपी और एनएसयूआई ने कॉलेज मेंं एक साथ किया प्रदर्शन, दर्जनभर हिरासत में Moneycontrol 09:42 देश ने खोया अनमोल रत्न, उनका जाना दुखद शहरी उपभोक्ता घरेलू दो  नईदुनिया विशेष यांत्रिक इंजीनियरी प्रभाग आईपीएस Electricity Bill Public · Anyone can follow this list Private · Only you can access this list पानीपत बच्चे की तरकीब के मुरीद हुए आनंद महिंद्रा, करना चाहते हैं हा... ईमेल करें नए बैच / उपलब्ध पाठ्यक्रम/ पाठ्यक्रम अवधि सरल बिजली बिल स्कीम जारी परामर्श - डीएसडी डीईआरसी ने बुधवार को साल 2018-19 के लिए बिजली की नई दरों की घोषणा कर दी है. इस बार दिल्लवासियों को बड़ी राहत देते हुए बिजली की दरों को घटा दिया गया है. INFORMATION CENTRE Click to share on Twitter (Opens in new window) Copyright © Humara Mandsaur. All rights reserved. | CoverNews by AF themes. सरकार अटल जी को अंत‍िम व‍िदा देते ही काम पर न‍िकले पीएम मोदी, गए केरल यह भी पढ़ें-  मैट्रिक पास हैं तो CISF में है बेहतरीन मौका, सैलरी भी बंपर संबद्ध कार्यालय/स्वायत्त निकाय/सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम/अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संस्थान इत्यादि वार्ड पार्षद - 53 धनबाद नगर निगम लोकायुक्त ने बिजली कंपनी के जेई के खिलाफ पेश किया चालान Hockey जालंधर: 3 अज्ञात हमलावरों ने प्रवासी मजदूर का किया बेरहमी से कत्ल विस्तृत उत्पाद विवरण ऊर्जा संरक्षण अधिनियम, 2001 Why Use 3-pin plugs for electrical safety? बिजली स्विच करें - विद्युत प्रदायक स्विच करें बिजली स्विच करें - इलेक्ट्रिक कंपनियां आज स्विच करें बिजली स्विच करें - बिजली की लागत
Legal | Sitemap