यूरोप पूर्व केंद्रीय सदस्य जेएमएम आज के रुझान ✉ [email protected] "बिट्कोइन की मौत और क्रिप्टोकाउंक्चर का भविष्य" - अल्फा की मांग | $ 4, 576. 90 We have sent you an OTP. Please confirm it for verfication संभल ट्रेंडिंग न्यूज़ इकबाल खान कसौटी जिंदगी की रिमेक में मिस्टर बजाज का रोल प्ले करेंगे? 12 mins महिला स्वास्थ्य निदेशालय, सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा अनाथालयों और वृद्धाश्रम को मिलेगी सस्ती बिजली Oops, That’s an error! Bollywood on Atalji Death SUPPORT May, 2016 News in Pictures मनोरंजन Copyright © 2018. All Rights Reserved टुण्डी विधानसभा क्षेत्र के लोगो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं समाचारपत्रिकाएँ puja-paath2 days ago लखनऊ IBPS: बैंक में नौकरी चाहिए तो ये एक्सपर्ट टिप्स आएंगे काम NDTVBusinessHindiMoviesCricketHealthFoodTechAutoAppsPrimeArtWeddings news20 hours ago और ... Feedback यांत्रिक इंजीनियरी प्रभाग 2018-04-09 07:47:11.0 पाकिस्तान के अंतरिम कानून मंत्री ने सुषमा स्वराज से मुलाकात की खेल जगत सहचारी स्थायिक युक्त 1000 केएन सार्वत्रिक परीक्षण मशीन त्रिपुरा दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय विनोबा भावे विस्वविद्यालय छात्र अध्यक्ष और ... परीक्षण क्रियाकलाप प्रधानाध्यापक मध्य विद्यालय, पेलावल महिला स्वास्थ्य रोज बाल धोने में कोई बुराई नहीं, लेकिन ड्रायर से बचें डेटा अभी उपलब्ध नहीं है कृपया कुछ समय पश्चात प्रयास करें. 102,458 Views जनन 16,000 करोड़ रुपये से अधिक का खर्च सकारात्मक बाहरी रोजगार के सृजन और अर्थव्यवस्था को लाभान्वित करने में और मदद करेगा। पकवान FACEBOOK Work With Us पोर्टल के बारे में पूनम पाण्डे, नई दिल्ली Electronics SiteMap सभी घरों को बिजली पहुँचाने के लिये प्री-पेड मॉडल अपनाया जाएगा।  Whatsappसब्सक्राइब राज्यों के बिजली वितरण की उपयोगिता की यह छठवीं रिपोर्ट ऊर्जा मंत्रालय ने इसी महीने जारी की है। यह रैकिंग कंपनी के कामकाज, आर्थिक, पारदर्शिता व सरकारी मदद आदि के आधार पर जारी की जाती है। इससे पहले मंत्रालय ने मई 2017 में रैंकिंग जारी की थी। उत्तराखंड: विद्युत उपभोक्ताओं को लगा झटका, महंगी हो गई बिजली, नई दरें जाने यहां... Petitions promoted by other Change.org users मुख्‍य सामग्री पर जाएं छीजत- चोरी ने बढ़ाया घाटा  गौरतलब है कि ऊर्जा मंत्रालय इस पर तैयार किए गए मसौदे पर विशेषज्ञों से अंतिम चर्चा कर रहा है। माना जा रहा है कि जल्द वह इस पर आगे कदम बढ़ाएगा। एम ई डी फोटो गैलरी Vijender Gupta बाजार भाव विद्युत योजना में धांधली, ठेकेदार का रोका भुगतान गरीबों के घरों से बिजली छीन कर बड़े-बड़े पूंजीपतियों और उद्यमियों को राहत पहुंचाने का निर्णय पूरी तरह से जनविरोधी है। श्री सहाय ने कहा कि रघुवर सरकार बिलकुल संवेदनहीन हो गई है, घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बिजली बिल में 98 फीसदी की बढ़ोतरी करना न तो तर्कसंगत है और न ही न्यायसंगत। © copyright reserved National Dastak. All right reserved Indonesia 89887 AXIS, 3, Telkomsel, Indosat, XL Axiata Indonesian Indonesia प्लांट लगानेवालों को कुल लागत का महज 25 फीसदी ही खर्च करना होगा. राज्य सरकार 45 फीसदी और केंद्र सरकार30 फीसदी अनुदान देती है.  राज्य सरकार अपने अनुदान को 45 से  बढ़ाकर 60 प्रतिशत करने पर विचार कर रही है. राज्य सरकार वैकल्पिक ऊर्जा श्रोत को बढ़ावा दे रही है. सदर अस्पताल, समाहरणालय और जिला अतिथि गृहों में सोलर रुफटाप पावर प्लांट  लगाया जा रहा है. सोलर रुफटाप पावर प्लांट  से बिजली की बचत होगी . जिसका उपयोग दूसरी जगह होगा. असम यूनिवर्सिटी के चांसलर हैं गुलजार, देश के कई स्कूलों की प्रेयर बन गई उनकी रचना हमको मन की शक्ति देना 4 mins उपभोक्ता को  िकस दर से भुगतान करना पड़ रहा है गांव में मकान बनाने की योजना के तहत सिर्फ 16 लाख मकान ही बने हैं. पावर घोटाला : "2.42 में खरीदी, "7.90 में बेची 500 मेगावाट के लिए 30 कंपनियों ने लगाई बोली वाजपेयी के निधन पर अमेरिकी दूतावास ने भी जताया शोक सब्सक्राइब करें न्यूज़कोड का डेली न्यूज़लेटर Oops, That’s an error! विष्णु दिगंबर पलुस्कर: गायकों को सम्मान दिलाने की लड़ाई लड़ने वाला 'शास्त्रीय' सितारा नई बिजली दरों की हुई घोषणा (प्रतीकात्मक फोटो) चास : NH 32 अतिक्रमण मुक्त, सड़क चौड़ीकरण को लेकर... Bijli Bachao participates in the Amazon Associates and Flipkart Associates Program, affiliate advertising programs designed to provide a means for sites to earn commissions by linking to Amazon and Flipkart. This means that whenever you buy a product on Amazon or Flipkart from a link on here, we get a small percentage of its price. That helps support Bijli Bachao with some money to maintain the site, and is very much appreciated. Amazon and the Amazon logo are trademarks of Amazon.com, Inc. or its affiliates. घर पर रशियन सलाद बनाने की आसान रेसेपी, एक बार जरूर करें ट्राई IOS महत्वपूर्ण वेबसाइट IOS अरविंद सिंह न्यूस लेटर उत्तराखंड: विद्युत उपभोक्ताओं को लगा झटका, महंगी हो गई बिजली, नई दरें जाने यहां... अनुवाद हेतु लेख ...जब वे अपना पहला भाषण भूल गए थे, अटल बिहारी वाजपेयी के बारे में 5 अनकही बातें हस्तरेखा ज्योतिष: ऐसी रेखा हो तो बहुत ख्‍याल रखती है पत्‍नी aamaadmiparty.org गोलगप्पे की कहानी: क्या है महाभारत की कुंती और मगध साम्राज्य से कनेक्शन? डिवाइस वनकर्मियों की हड़ताल:- बिगड़े हालात, मचने लगी हाहाकार Your email address will not be published. Required fields are marked * संतोष मंडल 26 अगस्त को है रक्षाबंधन, जानिए शुभ मुहूर्त प्रपत्र वाजपेयी से मेरा आत्मिक रिश्ता, खान से है 35 वर्ष पुरानी दोस्ती :... EDITOR PICKS योजनाएं : गोठ एप पर जानिए गरीबों को आबादी पट्टे के बारे में EXAMS मिज़ोरम सरकारी डिफॉल्टरों के लिए बिजली विभाग की सरचार्ज माफी योजना power bill खोज फरीदकोट/मुक्तसर लॉग इन नहीं किया हैवार्तायोगदानअंक परिवर्तन January 2018 शहरी क्षेत्रों में स्थापित मीटर की रीडिंग जारी रहेगी एवं विद्युत नियामक आयोग के प्रचलित विनियम अनुसार बिल की गणना की जाएगी। विद्युत कंपनी आयोग द्वारा निर्धारित मानदण्ड के अतिरिक्त और कोई भी आंकलित यूनिट बिल में नहीं जोड़ेगी। उपभोक्ता के बिल में देय राशि तथा शासन द्वारा दी गई सब्सिडी का स्पष्ट उल्लेख रहेगा। प्रचलित दर से विद्युत शुल्क अधिरोपित किया जाएगा, जिसके सहित उपभोक्ता द्वारा मात्र 200 रुपये प्रतिमाह की राशि देय होगी। विद्यमान उपभोक्ता से अतिरिक्त सुरक्षा निधि नहीं ली जाएगी। नये कनेक्शन के लिए सौभाग्य योजना की तरह व्यवस्था रहेगी, जिसमें सुरक्षा निधि नहीं ली जायेंगी। उपभोक्ताओं को स्कीम का लाभ देने के लिए वितरण कंपनियों द्वारा वितरण केन्द्रवार, हाट/ बाजारों आदि में कैम्प लगाये जा रहे हैं। श्रमिक पंजीयन प्रमाण-पत्र की छायापति मांगने की जरूरत नहीं रहेगी। एवरेज रीडिंग पर दिया बिल, बिजली कंपनी को देना होगा जुर्माना विजय बरनवाल टुण्डी विधानसभा क्षेत्र के लोगो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं മലയാളം कर्क WHO WE ARE 0 एटी एंड सी लॉस कम करते हुए बिलिंग व वसूली में सुधार किया जाना चाहिए। Password ट्रांस हिंडन सभी कर्मचारियों की सूची # News न्यूज निचोड़ At 11 AM : तीन तलाक बिल पर निर्णायक दिन लखनऊ: भारी बार‍िश के बाद पुल‍िस चौकी की छत ग‍िरी केंद्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री आर.के. सिंह ने कहा कि देश में 3 करोड़ 60 लाख परिवार ऐसे थे, जिनके घर में बिजली नहीं थी। इनमें से 78 लाख परिवारों तक बिजली पहुंचा दी गई है। शेष बचे सभी घरों को इसी साल के 31 दिसम्बर तक बिजली पहुंचा दी जाएगी। केंद्र सरकार इस दिशा में तेजी से कार्य कर रही है।  Lalit Saxena | Publish: Jun, 17 2018 05:00:00 AM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India Seohar | वीकेंड पर कमाई के रिकॉर्ड तोड़ सकती है 'गोल्ड' और 'सत्यमेव जयते', जारी है अक्षय-जॉन की कड़ी टक्कर बिज़नस न्यूज़ से और राज्य चुनें Go to Home >> Categories अभिगम्यता विवरण   ⁄  Free Electricity scheme Saubhagya Yojana begins in Dehradun सरकार की ओर से जारी आधिकारिक बयान में कहा गया है कि सबसिडी की राशि बिजली कंपनियों के खाते में भेज दी जाएगी। इसे बिजली कंपनियां उपभोक्ताओं के बिल से समायोजित कर लेंगी। साथ ही, बिजली कंपनियों को सूचित कर दिया गया है कि उपभोक्ताओं को सबसिडी का वास्तविक लाभ मिलने की बात पुष्ट करने के लिए सरकार बिजली कंपनियों का किसी स्वतंत्र एजेंसी से विशेष ऑडिट करा सकती है। राज्य                               खपत              यूनिट तक दर  सब्सक्राइब कीजिए SOS - SAVE OUR SALMON and Protect our Southern Resident Orcas! LinkedIn नैनीताल Persian فارسی jharkhand About Us |  Advertise with Us| Terms of Use and Grievance Redressal Policy |  Privacy Policy |  Feedback |  Sitemap आजकल Server Error सोने की गिन्नी (GOLDGUINEA) थानाध्यक्ष से ही अपराधियों ने मांगी पांच लाख की रंगदारी,… पिज्ज़ा ब्रैड, कंडस्ड मिल्क, फ्रोज़न सब्जियां, जीवन रक्षक दवाइयां और मिठाइयां इस स्लैब में रखी गई हैं। कोयला भी इसी स्लैब में है। इस पर पहले 11.69 प्रतिशत टैक्स लगता था। इसके चलते बिजली उत्पादन महंगा होता है। चीनी, चाय, कॉफी और खाने का तेल भी इसी स्लैब में हैं। अब तक इन पर 9% टैक्स लगता था। त्योहारी सीजन से पहले राजस्थान की जनता को जोरदार झटका सुप्रीम कोर्ट पहुंची चुनाव से पहले सस्ती बिजली देने और बिल माफ करने की योजना पंजाब और दिल्ली के मुख्यमंत्रियों ने केरल को 10 करोड़ रुपए देने की... भारत में न्‍यूक्लियर एनर्जी की धीमी रफ्तार की मुख्‍य वजह विदेशी रिएक्‍टर निर्माता कंपनियों की कम रुचि है। यह कंपनियां उस कानून का विरोध कर रही हैं, जो किसी दुर्घटना के समय मैन्‍यूफैक्‍चरर्स को जिम्‍मेदार ठहराता है। सितंबर 2015 में जनरल इलेक्ट्रिक ने लायबिलटी कानून की अनिश्‍चितता के चलते भारत के न्‍यूक्लियर एनर्जी सेक्‍टर में निवेश न करने का फैसला लिया। जनरल इलेक्ट्रिक के सीईओ जेफ इमेल्‍ट ने कहा था कि दुनिया में एक स्‍थापित एक लायबिलटी व्‍यवस्‍था है, इसे स्‍वीकार्यता मिली है और इसे अपनाया गया है। मैं अपनी कंपनी को जोखिम में नहीं डाल सकता। भारत लायबिलटी पर दोबारा नयिम नहीं बना सकता। पहाड़ में सब्सिडी का लाभ लेकर पिरुल से पैदा करे बिजली : सीडीओ पश्चिमांचल को 10 फीसदी अतिरिक्त बिजली सप्लाई का तोहफा Terms & Conditions | Privacy Policy | Disclaimer Error establishing a database connection भारत के पीसी मार्केट में 28 फीसदी की ग्रोथ, अल्ट्रा स्लिम नोटबुक ने बढ़ाई मांग 50 mins केरल बिजली कंपनियों के घाटे की पड़ताल नहीं की गई और हर साल कंपनियां अपने घाटे को कानूनी जामा पहनाती जा रही हैं, लेकिन सरकार की लापरवाही की वजह से उनका दावा कानूनी तौर पर पुख्ता हो रहा है, क्योंकि सरकार ने घाटे को लेकर कंपनियों से न तो कोई पूछताछ की और न ही इस बारे में कोई जानकारी ही जुटाई गई, नतीजा ये हुआ कि साल दर साल कंपनियों के घाटे की फाइलें सरकार के पास जमा हो रही है और एक तरह से सरकार की मौन स्वीकृति इस घाटे को मिल रही है, अब अगर मामला कोर्ट में भी जाता है, तो यहां सरकार की लापरवाही से खुद उसका पक्ष कम हो रहा है, ऐसे में दिल्ली में टैरिफ बढ़ने की आशंका मजूबत हो रही है. कैलेण्डर गांवों में यह होगा असर हालांकि 2016 में शुरू किए गए दूसरे चरण के लक्ष्य जिसके तहत 2020 तक एक करोड़ युवाओं को प्रशिक्षित करना है, सरकार के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रही है. दूसरे चरण के तहत 60 लाख युवाओं को नए सिरे प्रशिक्षित करना था और 40 लाख युवाओं को ‘रिकॉगनिशन ऑफ प्रायर लर्निंग (आरपीएल) प्रोग्राम’ के लिए प्रमाणित करना था. यू-ट्यूब लाइव छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. 2 Hours Ago देवगढ़ बिटकोइन पोस्ट-चुनाव उछाल देखने के लिए केवल डिजिटल मुद्रा नहीं था - CoinDesk चुनाव आयोग से पहले बीजेपी के अमित मालवीय ने बता दी कर्नाटक चुनाव की तारीख, आयोग करेगा जांच शुद्ध पेयजल की कमी के कारण जलजनित रोग सबसे अधिक जानलेवा बेगूसराय में फांसी पर झूला युवक, वीडियो फेसबुक पर लाइव हो रहा था आपका ज़िला सीखें जरा : गोठ एप से जानिए कैसे हुनरमंद बन रही है बेटियां विभाग रिआयत हिमाचली लाल सोने पर अमरीका के सेब का आज भी... ऊर्जा लागत की तुलना करें - इलेक्ट्रिक सेवा प्रदाता ऊर्जा लागत की तुलना करें - सस्ता विद्युत दर ऊर्जा लागत की तुलना करें - बेस्ट एनर्जी कंपनी
Legal | Sitemap