Password Huawei ने उतारे दो स्‍मार्टफोन, Paytm जैसे फीचर तैयार मिलेंगे Lucknow News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए NBT के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें SAT, AUG 18, 2018 मानसून Study Material | Test Series मेनू बदल रेलयात्रियों से वसूली जा रही दोहरी कीमत, मांगने पर भी नहीं दिखाते रेट लिस्ट पुस्‍तकालय एवं सूचना केंद्र उपयोगी अंग्रेज़ी लेखों के अनुवाद दिनांक वार खबरें पे स्केल: स्मार्टफोन - टैब केरल बाढ़: अब तक 167 की मौत, सीएम विजयन ने दी जानकारी, 13 जिलों में रेड अलर्ट धनबाद : प्रेस क्लब में मिले 21 रसेल वाइपर सांप, इनका काटा पानी भी नहीं... नो पार्किंग में गाड़ी खड़ी करने वालों को नहीं छोड़ेगी पटना पुलिस, ठोकेगी 13 सौ का जुर्माना भी BIHAR सीतापुर समाचार देश के कोने-कोने में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी क... जागरण प्राइम टाइम न्यूज politics1 day ago जिब्राल्टर स्टॉक एक्सचेंज को बिटकॉइन इनवेस्टमेंट प्रोडक्ट की सूची आगामी वित्तीय वर्ष 2018-19 की नई बिजली दर का निर्णय बुधवार को विनियामक आयोग के अध्यक्ष एसके नेगी, सदस्य राजीव अमित व आरके चौधरी ने संयुक्त रूप से सुनाया। अध्यक्ष ने कहा कि साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड को 9,603 करोड़ और नॉर्थ बिहार कंपनी को 7207.62 करोड़ रुपए राजस्व की जरूरत का प्रस्ताव दिया था। समीक्षा के बाद आयोग ने साउथ बिहार के लिए 9228.64 करोड़ और नॉर्थ बिहार के लिए 7106 करोड़ की जरूरत को मंजूर किया है। दोनों कंपनियों ने 2018-19 के लिए कुल 5121.87 करोड़ घाटा का प्रस्ताव दिया था, लेकिन जांच में मात्र 747.44 करोड़ ही पाया गया। कंपनी ने राजस्व नुकसान को कम करने के लिए 44 फीसदी बिजली दर वृद्धि का प्रस्ताव दिया, जिसे आयोग ने बड़े उद्योग को छोड़कर बाकी श्रेणी के उपभोक्ताओं को मात्र पांच फीसदी वृद्धि का निर्णय लिया है।  Copyright © Humara Mandsaur. All rights reserved. | CoverNews by AF themes. Asian Games 2018: क्‍या युवा चौड़ा कर पाएंगे भारत का '57 इंच का सीना' ? लखनऊ विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में बेटियों के नाम सबसे ज्यादा मेडल ગુજરાતી नई दिल्ली: डीईआरसी ने बुधवार को साल 2018-19 के लिए बिजली की नई दरों की घोषणा कर दी है. इस बार दिल्लवासियों को बड़ी राहत देते हुए बिजली की दरों को घटा दिया गया है. नई दरों की घोषणा से पहले केजरीवाल सरकार ने दावा किया था कि पिछले चार साल से बिजली की दरें नहीं बढ़ी हैं, हालांकि, जानकारों ने ये खुलासा किया था कि बिजली के रेट सीधे तौर पर भले ही नहीं बढ़ाए गए हों, लेकिन 3.70 फीसदी पेंशन फंड के नाम पर सरचार्ज लगाया गया था. नई दिल्ली, 06 सितंबर 2015, अपडेटेड 18:29 IST Promoted by 10 supporters राज्य चुनें ईवीआरसी में गतिक प्रयोगशाला FOLLOW (11) एकीकृत रिसोर्स प्लानिंग प्रभाग Feedback| ज्योतिष धर्म August 11, 2018 at 12:10 pm Places समाचार 0      0 जवाब –  राज्यों द्वारा प्रस्तुत की जाने वाली विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) के आधार पर इस योजना के तहत परियोजनाओं को मंजूरी दी जाएगी। इस योजना के तहत फंड का कोई अग्रिम आवंटन नहीं किया जा रहा है। यूपी के 5 शहरों में 'वैचारिक कुंभ' लगाकर BJP साधेगी 2019 चुनाव का लक्ष्य ललितपुर ग्रामीण विद्युतीकरण पावर परचेज मैकेनिजम : आरडब्लूए प्रतिनिधि अनिल सूद ने कहा कि बिजली कंपनियां सरप्लस बिजली किस रेट पर बेच रही हैं और किस रेट पर खरीद रही हैं, इसे ट्रांसपेरेंट होना चाहिए और पब्लिक स्क्रूटनी के लिए खुला होना चाहिए। अगर पावर एक्सचेंज में बिजली 3 रुपये प्रति यूनिट बिक रही है और दिल्ली की कंपनियां उसे 2 रुपये में बेच रही हैं तो पब्लिक इसकी मॉनिटरिंग करेगी और गड़बड़ी की गुंजाइश नहीं रहेगी। स्वर कोकिला लता मंगेशकर ने अटल जी की कविता 'मौत से ठन गई' गाकर दी श्रद्धांजलि Home Remedies दाऊदी बोहरा समाज ने मनाई ईद, समाज के लोगों ने पढ़ी सामूहिक नमाज पेज को रिफ्रेश (Refresh) करें। electricity कारोबार राजस्थान में बिजली लाईन घर तक पहुंचाने के लोगों से हजारों रुपये लेते है Tue, 14 Aug 2018 07:00 PM IST राष्ट्रीय VIDEO: उत्तराखंड में आफत की बारिश, बहते-बहते बचा बाइक सवार सराईकेला-खरसांवा ग्राम स्वराज अभियान MENU saubhagya yojna अपने अविश्वसनीय क्रेग राइट एक बिटकॉइन ब्लॉकचैन साम्राज्य के निर्माण पर काम कर रहा है बीपीएल के बकायादार उपभोक्ताओं के बिल माफी योजना जुलाई माह से शुरू हो जाएगी। करीब ३५ हजार उपभोक्ताओं को फायदा मिलेगा। जहां तक चोरी व न्यायालय वाले प्रकरणों की बात है इसे लागू करने पर संशय है। २०० रुपए महीने वाले स्कीम भी जुलाई से लागू होगी। लखनऊ Create password मुख्यमंत्री का संदेश बिजली कंपनी के ठेकेदार रवींद्र सिंह जादौन ने 25 अप्रैल को मोतीझील स्थित बिजली कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक ऑफिस में जहरीला पदार्थ खाकर जान दे दी थी. ठेकेदार ने 9 साल पहले पुरानी छावनी क्षेत्र में बिजली कंपनी के लिए काम किया था. 9 साल तक बिजली कंपनी से अपने 3 लाख 73 हजार रुपए के भुगतान के लिए रवींद्र भटकते रहे. सीएम से लेकर बिजली कंपनी और प्रशासन से शिकायतें कीं. शिकायतें इतनी कीं कि उनकी पावतियों से बक्सा तक भर चुका था. रवींद्र ने एक विस्तृत सुसाइड नोट भी छोड़ा था जिसमें शुरु से आखिर तक की पूरी पीड़ा लिखी थी. © Copyright 2018, All Rights Reserved Get Lucknow News, Breaking news headlines about Lucknow crime, Lucknow politics and live updates on local Lucknow news. Browse Navbharat Times to get all latest news in Hindi. मुख्य ख़बरे स्‍कूली बच्‍चों ने जवानों को भेजे 51 हजार ग्रीटिंग कार्ड्स, ... भाजपा चास प्रखंड पिंड्राजोरा मंडल, अध्यक्ष ये तकनीक इस तरह काम करता है कि गुफा के अंदर एक खाली कमरे में हवा को अतिरिक्त बिजली की मदद से कंप्रेस किया जाता है. जरूरत पड़ने पर कंप्रेस की हुई हवा को बाहर छोड़ने पर वह इलेक्ट्रिक जेनरेटर को चला सकती है और बिजली पैदा कर सकती है. दुनिया में बिजली बनाने के तो कई साधन हैं लेकिन उन्हें जमा रखने की तकनीक खोजी जा रही है. पवन बिजली हवा चलने पर ही काम करती है और सौर बिजली धूप रहने पर. अब तक पंप स्टोरेज प्लांट बिजली के उत्पादन में उतार चढ़ाव की भरपाई करती रही है. लेकिन कंप्रेस्ड एयर स्टोरेज के अपने फायदे हैं. प्रोफ़ेसर दिवाकर ने कहा कि जीएसटी से कंज़्यूमर स्टेट को फ़ायदा होगा न कि बिहार जैसे ग़रीब राज्यों को. उन्होंने कहा कि जीएसटी की पूरी व्यवस्था विदेशी पूंजी के स्वागत के लिए है. दिवाकर ने कहा कि यदि गोदरेज का साबुन सस्ता मिलेगा तो लोग कुटीर उद्योग का मंहगा साबुन क्यों लेंगे और अगर ऐसा होता है तो छोटे व्यापारियों के हित में नहीं है. India News in Hindi | State News in Hindi | World News in Hindi| Sports News in Hindi| Cricket News in Hindi| Business News in Hindi| Bollywood News in Hindi| Technology News in Hindi| Science News in Hindi| Health News in Hindi| Photos| Video| April 2018 जवाब – उजाले के लिए मिट्टी के तेल के उपयोग के स्थान पर बिजली का उपयोग होने पर वार्षिक सब्सिडी कम हो जाएगी और पेट्रोलियम उत्पादों के आयात को कम करने में भी मदद मिलेगी। प्रत्येक घर में बिजली, रेडियो, टेलीविजन, इंटरनेट, मोबाइल जैसे सभी तरह के संचारों का बेहतर उपयोग होगा, जिसके माध्यम से हर कोई इन संचार माध्यमों के माध्यम से उपलब्ध सभी तरह की महत्वपूर्ण जानकारी पा सकेंगे,किसान नई और बेहतर कृषि तकनीक, कृषि-मशीनरी, गुणवत्ता वाले बीज आदि का उपयोग करेंगे परिणामस्वरूप कृषि उत्पादन में उल्लेखनीय वृद्धि होगी और जिसके परिणामस्वरूप आय में वृद्धि होगी। किसान और युवक कृषि आधारित छोटे उद्योगों की स्थापना की संभावनाओं का भी पता लगा सकते हैं। Tweets by NayaHaryana निम्न को खोजें: 2 hours ago humaramandsaur सिंह राशि वालों आज नई नौकरी मिलने का योग है। आज आर्थिक स्थिति थोड़ी टाइट रहेगी। इस राशि के......Read more आयाम: 160x112x58mm यादृच्छिक लेख जेएमएम, जिलाध्यछ ENGvIND: टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के बारे में आई बड़ी अपडेट इसमें निवेशकों के साथ-साथ  आम लोग भी जो सोलर प्लांट अपने घरों में लगायेंगे उनको कई तरह की रियायत  मिलेगी. यहां  तक कि जरूरत से अधिक बिजली होने पर अगर कोई व्यक्ति बिजली बेचना चाहेंगे तो सरकार उसे भी खरीदेगी.   Русский विश्व की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार भारत में हाईकोर्ट के फैसले पर एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा कि इससे बैंकों को स्ट्रेस्ड एकाउंट्स के रिजॉल्यूशन के लिए अधिक समय मिलेगा। कुमार ने बताया, 'बैंक कुछ बिजली कंपनियों के साथ लोन रिजॉल्यूशन पर बात कर रहे हैं।' Create New Account Copyright ©  2017  Bennett Coleman & Co. Ltd. All rights reserved. For reprint rights: Times Syndication Service क्रास सब्सिडी की व्यवस्था समाप्त : उन्होंने बताया : टैरिफ में अभी के मुकाबले कुल 43% की वृद्धि मंजूर की गयी है. औद्योगिक क्षेत्र के लिए बिजली मात्र 7% महंगी की गयी है. बिजली का वर्तमान औसत टैरिफ 4.11 रुपये प्रति यूनिट है.  Starry Talks यूनिटपहले था करार के बाद जन सुनवाई में जनता के द्वारा भी कुछ सुझाव दिए गए। चेंबर ऑफ कॉमर्स के मो0 शरीफ ने कहा कि कर्मचारियों के रिटायर हो जाने से कंज्यूमर को दिक्कत होती है। बिजली लॉस पर ध्यान दिया जाए। देवघर के आर एन शर्मा ने कहा कि विद्य्नुत स्थिति में बहुत सुधार हुई है। बिजली की चोरी पर रोक लगाना अति आवश्यक है। ।ठ स्विच पर सुधार करने की जरुरत है, झारखंड में सोलर पावर प्लांट लगने से हमलोग बहुत खुश हैं। लेकिन सोलर पावर का दर निर्धारित करना आवश्यक है। अच्छी पावर सप्लाई हो इस बात को आयोग सुनिश्चित करें। चेंबर ऑफ कॉमर्स के मनोज कुमार घोष ने कहा कि बिजली की दर में सुधार की जरुरत है। कॉल सेंटर में सुधार की जरुरत है साथ ही टोल फ्री नंबर में भी सुधार की जरुरत है। श्री आनंद कुमार ने कहा कि पावर सेंटर में सुधार की जरुरत है। उद्य्नोग को बढ़ावा मिलनी चाहिए। Uttar Pradesh News nakul devarshi | Jaipur, Rajasthan, India परीक्षण रिपोर्ट का सत्यापन जन मंगल आवास् योजना       March 2017 वनकर्मियों की हड़ताल:- बिगड़े हालात, मचने लगी हाहाकार Two-way (sending and receiving) short codes:  किस जिले में क्या काम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन | देशभर में शोक... लिंक देखें Molitics Works Best in Our App Get App अध्यक्ष भारतीय जनता युवा मोर्चा बिजली स्विच करें - विद्युत विकल्प बिजली स्विच करें - वाणिज्यिक विद्युत आपूर्ति बिजली स्विच करें - गैस और इलेक्ट्रिक कंपनियां
Legal | Sitemap