दिल्ली कांग्रेस ने बिजली सस्ती करने के केजरीवाल सरकार के दावों को जनता से खिलवाड़ करार दिया है. कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि नई कीमतों से बिजली सस्ती नहीं बल्कि महंगी हुई है और ये कदम प्राइवेट कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए उठाया गया है. समस्त सरायकेला- खरसावां वासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं राज्यों के बिजली वितरण की उपयोगिता की यह छठवीं रिपोर्ट ऊर्जा मंत्रालय ने इसी महीने जारी की है। यह रैकिंग कंपनी के कामकाज, आर्थिक, पारदर्शिता व सरकारी मदद आदि के आधार पर जारी की जाती है। इससे पहले मंत्रालय ने मई 2017 में रैंकिंग जारी की थी। दिल्ली वालों के लिए बड़ी खुशखबरी! सस्ती हुई बिजली, ये रहीं नई दरें कांग्रेस के मुताबिक, उनके कार्यकाल में दिल्ली में राशन कार्ड धारकों की संख्या 34 लाख 55 हज़ार थी, जो अब घटकर 19 लाख 41 हज़ार रह गई है. 5 लाख राशन कार्ड धारकों को अभी भी राशन नहीं मिल पा रहा है. कांग्रेस ने पानी की किल्लत के मुद्दे पर भी केजरीवाल सरकार को विफल बताया है. कांग्रेस के दिल्ली के सभी बड़े नेताओं की बैठक में दलित अधिकारों पर भी केंद्र को घेरने की रणनीति बनाई गई है. कांग्रेस 4 अप्रैल के दिन संसद का घेराव भी केंद्र के खिलाफ करेगी. मुख्यमंत्री के 15 अगस्त संदेश के प्रमुख बिन्दु 16/08/2018 VIDEO: बागेश्वर में पिंजरे में फंसा गुलदार, देखने के लिए लगी भीड़ आपकी बेटियों के लिए हैं ये सरकारी योजनाएं App Download ईएमसी/ ऊर्जा मीटर परीक्षण प्रयोगशाला Care Today 08/11/2015 - 10:46 मेरी कहानी द्रव परावैद्युत प्रयोगशाला Fropky सबसे ज्यादा चर्चित अब नोटबंदी से पहले बैंक में नगदी जमा करने वाले इनकम टैक्स विभाग के रडार पर जबलपुर। फीडर सेपरेशन, सिस्टम स्टेबलिंग सहित अरबों रुपए का काम लेने वाली नौ और कंपनियां बिजली कंपनी का काम छोड़कर भाग गई हैं। इससे पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी को तगड़ा झटका लगा है। बिजली कंपनी ने सभी कंपनियों को टर्मिनेट कर दिया है। इससे पहले जबलपुर सिटी सर्किल में डेढ़ अरब से भी ज्यादा का काम लेने वाली नई दिल्ली की यूबी कंपनी (जिसके कर्ताधर्ता विजय माल्या थे) ने अपना बोरिया बिस्तर समेटकर बिजली कंपनी को चूना लगाया था। लो टेंशन (इंस्टोलेशन बेस्ड)  5.50  6.50 आइपीएस अधिकारी मयंक जैन की सेवाएं समाप्त, 100 करोड़ की... भोपाल में स्‍थापित मीटरिंग क्रियाविधि प्रयोगशाला मुख्य कंटेंट की ओर | रिपोर्ट में खुलासा: पूर्व PM मनमोहन सिंह के कार्यकाल में भारत ने हासिल की थी सर्वाधिक विकास दर मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम ऑस्ट्रेलिया Pricing (d)   Enhanced connectivity through radio, television, mobiles, etc. पुरस्‍कार Offices : दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री खुराना के बड़े बेटे का निधन, BJP नेताओं... मनमोहन सिंह के कार्यकाल में हासिल हुई सर्वाधिक 10.08 % वृद्धि दर: रिपोर्ट हिन्दी पहाड़ वालों ने नम आंखों से रिज पर देखी अटल जी की... Time: 2018-08-18T05:24:44Z अटलजी को श्रद्धांजलि देने जा रहे अग्निवेश की भाजपा मुख्यालय के बाहर पिटाई 10 mins 200 रुपए में मासिक बिजली के लिए फॉर्म भरने वालों की लग रही भीड़ समय पर ऑनलाइन भुगतान करने पर कुल ढाई फीसदी की छूट  ASK EXPERTS GO Weird Stories Pumps धर्म/ज्योतिष Investors व्रत और त्योहार - जल उपलब्धता के आधार पर कृषकों के कुओं की खुदाई एवं बोरिंग द्वारा कूप गहरा कराने के लिए 5 वर्ष की अवधि हेतु ऋण उपलब्ध। ड्राइविंग लाइसेंस मजदूर, गरीब, किसान  व्यापारी को मिलेगी सब्सिडी  Car Reviews वर्ष   सब्सिडी सिटी जवानी में कर लें ये काम, वरना बुढ़ापे में मुश्किल क्यों सही नहीं है पॉपुलर कोर्स का चयन? ये हैं अहम कारण जिन लोगों के 11 केवी की लाइन से 650 मीटर से ज्यादा दूरी पर हैं, उन्हें पहले फेज में कनेक्शन नहीं मिलेंगे, लेकिन मंत्री ने दावा किया कि दूसरे फेज में ज्यादा दूरी वालों को भी कनेक्शन दिए जाएंगे। ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव संजय मल्होत्रा ने कहा कि योजना के पहले फेज में मिले रेस्पोंस को जांचा जाएगा। पहले फेज में जिन्हें कनेक्शन मिलेगा, उससे लाइन की दूरी भी कम होगी, जो रह जाएंगे और जिनकी 11 केवी की लाइन से ज्यादा दूरी है, उन्हें दूसरे फेज में कनेक्शन देने पर विचार किया जाएगा। Nederlands पंचतत्व में विलीन हुए अटल जी, अस्थि विसर्जन कल April 26, 2018     वित्तमंत्री ने कहा कि जून-2005 के बाद जिन लोगों ने अपना बिल नहीं भरा है ऐसे गांव बिल भरने के लिए स्वयं आगे आकर अपनी मूल बकाया राशि का भुगतान कर सकते हैं। इसके तहत जिन घरों का लोड एक किलोवाट है वे 1440 रुपये प्रति वर्ष की दर से एकमुश्त अदायगी कर अपने बकाया का निपटान करवा सकते हैं। इसी तरह यदि किसी का लोड दो किलोवाट है तो वे प्रतिवर्ष 2880 रुपये की दर से अपना बकाया निपटा सकते हैं। इसके लिए वे मूल राशि को भी किस्तों में जमा करवा सकते हैं। वित्त मंत्री ने कहा कि गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवार बिजली कनेक्शन कटने उपरांत यदि छह माह के भीतर दोबारा कनेक्शन करवाना चाहते हैं तो उनसे कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा। Sat, 18 Aug 2018 03:30 PM IST Community D जयपुर वृद्धावस्था पेंशन/ किसान पेंशन August 17, 2018 seoni 0 Promote this Tweet Story first published: Monday, September 1, 2014, 14:43 [IST] अन्य लिंक जानिए कौन हैं नमिता जिन्होंने दी अटल बिहारी वाजपेयी को मुखाग्नि Web Title  एक लाख की जनसंख्या वाले शहर में 29 हजार लोगों को असंगठित मजदूर तो बना दिया गया लेकिन जिन बिजली योजनाओं का फायदा लेने के लिए ये मजदूर बने थे उन योजनाओं में केवल 11 हजार लोग ही जुड़ पाए हैं। अधिकांश असंगठित पंजीकृत मजदूर बिजली कंपनी के दायरे में ही नहीं आ रहे हैं। इस कारण वे योजना से नहीं जुड़ पाए हैं। नपा में असंगठित मजदूरों के रजिस्ट्रेशन के लिए रोज लंबी कतारें लग रही हैं। अब तक 29 हजार लोग असंगठित मजदूर बन गए हैं। 29674 असंगठित मजदूर बनने के बावजूद बिजली योजनाओं का लाभ केवल 11679 लोगों को ही मिला है। अधिकांश असंगठित मजदूर इन बिजली योजनाओं के फायदे से दूर हैं। बिजली बिल माफी योजना में 6684 The total outlay of the project is Rs. 16, 320 crore while the Gross Budgetary Support (GBS) is Rs. 12,320 crore. The outlay for the rural households is Rs. 14,025 crore while the GBS is Rs. 10,587.50 crore. For the urban households the outlay is Rs. 2,295 crore while GBS is Rs. 1,732.50 crore. The Government of India will provide largely funds for the Scheme to all States/UTs. The States and Union Territories are required to complete the works of household electrification by the 31st of December 2018. जल शब्दकोश यादों में अमर 'अटल कहानी' सशस्त्र सीमा बल में SI, ASI और हेड कांस्टेबल के पद पर 181 वैकेंसी loading... https://www.bbc.com/hindi/india/2013/03/130319_mahindra_reva_electric_car_pn Cancer (कर्क) एलआईसी कैंसर कवर प्लान 905 – www.licindia.in संस्कृति VIDEO: देखते देखते सांप, बिच्छू और सेंटीपेड को जिंदा निगल गई ये मछली सरकारी योजनाओं के बारे में अंग्रेजी में पढ़ें  Roinet 02018-07-17T12:11:32 12% टैक्स स्लैब उत्पाद का नाम: 1 चरण कार्ड प्रकार प्रीपेमेंट इलेक्ट्रिक मीटर Saroj Kumar Meher ज्वालामुखी मंदिर में पांचवें नवरात्रे चढ़ा 462644 का चढ़ावा बुंदेलखण्ड Register Free Login English अब तक लगे टॉवर वार्षिक रिपोर्ट जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन! रिकॉर्ड समय में खाताबंदी को हासिल कर चुके बगलिहार स्टेज 2 के लिए बोर्ड ने पीएफसी और जेएंडके बैंक के साथ समझौता करने का निर्णय किया है। जेकेएसपीडीसी को 2,179 करोड़ का कर्ज हासिल होगा। 07/14/2011 - 16:16 जनगणना कुंजी मुजफ्फरपुर केन्द्रीय योजनाएं 12:27:15 AM Verified accountProtected Tweets @ एसडीपीओ, बड़कागांव थाना उत्तर प्रदेश में नगर निकाय चुनाव खत्म होते ही नई बिजली की दरों में बढ़ोतरी कर दी गई है। बिजली दरों की बढ़ोतरी ग्रामीण और शहरी दोनों जगह हुई हैं। बिजली दरों में बढ़ोतरी के लिए गुरुवार को लखनऊ में की प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी दी गई । इसमें आयोग के चेयरमैन एसके अग्रवाल ने बिजली की बढ़ी दरों के बारे में बताया। अटलजी नकारात्मक सोच से हमेशा दूर रहे, उनके व्यंग्य पर लोग तिलमिलाते तो जरूर थे, पर आहत नहीं होते: लालकृष्ण आडवाणी 14 mins Enquiry : 87501 87501 बिजनौर आयोग ने बिजली कंपनियों को निर्देश दिया कि पंखों की कीमत को 10 किस्तों और एसी की कीमत को 18 किस्तों में वसूला जाए. इसके अलावा आयोग ने कहा कि सस्ते उपकरण नकद भी दिए जा सकते है. नेविगेशन की ओर पंचायत चुनाव: प. बंगाल में भाजपा को सुप्रीम कोर्ट से झटका ये किया तो ग्राहक होंगे योजना से बाहर एंड्रॉयड यूजर्स तुरंत डिलीट कर दें ये 145 एप्स,Google ने जारी की लिस्ट उपेंद्र कुमार Stock Market Live   ⁄  Dehradun अगले दो वर्षों के लिए योजना का बजट 17,000 करोड़ रु है। अभिलेखागार केजरीवाल सरकार को कांग्रेस ने बताया विफल  loancheapinterest ratelowलोनबिलऋणब्याजदरकम एकीकृत अनाज विकास कार्यक्रम (मोटा अनाज एवम चावल) कश्मीर को मिली शीशे से बनी विशेष ट्रेन, और मनोरम होगा वादियों का नजारा संगीता तिवारी सस्ता ऊर्जा - विद्युत दर सस्ता ऊर्जा - सस्ता गैस और इलेक्ट्रिक सस्ता ऊर्जा - मेरा इलेक्ट्रिक बिल लोअर
Legal | Sitemap