सांसद राजमहल लोकसभा जिले के प्रत्येक जेई को अभियान के तहत कम से कम 20 बिजली कनेक्शन काटने का लक्ष्य दिया गया है। जिसके लिए सभी जेई अपने-अपने डिविजन की सूची तैयार कर अभियान में जुड़ गए हैं। असिस्टेंट इंजीनियर पहले भी सस्ती हुई थी बिजली नियम और शर्ते DAS Application form करियर BloombergQuint Suggest सिन्हा कंस्ट्रक्शन विदेश इन 10 तरीकों से नारियल तेल का इस्तेमाल करेंगे तो दिखेंगे यंग Cookie Policy twitter झारखंड : साधारण बस के ओनर बुक पर चल रही हैं 400 एसी बसें झांसी Godrej AC Technologies in India – Review Daily Horoscope उन्होंने बताया कि आवेदक इस योजना की अधिसूचना की तिथि से 15 अगस्त, 2015 तक की अवधि की प्रतिपूर्ति के लिए इस योजना की अधिसूचना जारी होने की तिथि से छ: महीनों के भीतर दावा आवेदन जमा करा सकते हैं। हालांकि, आवेदक को वित्तीय वर्ष की तिमाही समाप्त होने के बाद छ: महीनों केभीतर प्रत्येक तिमाही के लिए दावे प्रस्तुत करने होंगे। अन्यथा आवेदक की पावर टैरिफ सब्सिडी की पात्रता समाप्त हो जाएगी। Q to Z मिडिल क्लास की इन चीजों पर 18 पर्सेंट टैक्स समाजसेवी सह प्रचार्ज बनमाली सिंह उच्च बिद्यालय, टुपरा सांसद रघु शर्मा ने जन्मदिन पर पुष्कर में की पूजा अर्चना अंतर्कलह से जूझ रही भाजपा-कांग्रेस को चुनाव में झटका दे सकती है ये तीसरी पार्टी Promoted by 226 supporters रोचक लघु फिल्में अटल बिहारी वाजपेयीNRC असमडियर जिंदगीविराट कोहलीIndia vs England टेस्ट सीरीजपीएम मोदीइमरान खानराहुल गांधीभोजपुरी न्यूजअमरनाथ यात्राजम्मू कश्मीरयोगी आदित्यनाथबीजेपीअरविंद केजरीवालरिलायंस जियोEPFO न्यूजराम मंदिर मुद्दा गोपाल सिंह दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ने सरकारी विभागों के लिए सरचार्ज माफी योजना शुरू की है। इस योजना का लाभ सरकारी विभाग 31 मार्च तक उठा सकते हैं। इसके लिए सभी डिफॉल्टरों को तय समय में अपना पुराना बकाया जमा करना होगा। साथ ही आगामी एक साल तक समय पर पूरा बिल अदा करना होगा। फ्लेवर्ड रिफाइंड शुगर, पास्ता, कॉर्नफ्लेक्स, पेस्ट्रीज और केक, प्रिजर्व्ड वेजिटेबल्स, जैम, सॉस, सूप, आइसक्रीम, इंस्टैंट फूड मिक्सेज, मिनरल वॉटर, टिशू, लिफाफे, नोट बुक्स, स्टील प्रॉडक्ट्स, प्रिंटेड सर्किट्स, कैमरा, स्पीकर और मॉनिटर्स पर 18 फीसदी जीएसटी लगाने का फैसला लिया गया है। 09:42 #AtaljiAmarRahen प्रधानमंत्री बनने के बाद क्यों फूट-फूट कर रोये थे अटल बिहारी वाजपेयी? मकर उन्होंने बताया कि जिन इकाइयों को उद्यम प्रोत्साहन नीति 2015 की अधिसूचना अर्थात 15 अगस्त,2015 को या उसके बाद बिजली कनेक्शन जारी किया गया है, वे 14 अगस्त, 2020 तक पावर टैरिफ सब्सिडी के लिए पात्र होंगी। उन्होंने कहा कि ‘सी’ और ‘डी’ श्रेणी खंडों में स्थापित ऐसे सूक्ष्म एवं लघु उद्योग इस योजना के लिए पात्र होंगे, जिन्होंने पोर्टल https://udyogadhaar.gov.in पर संबंधित जिला उद्योग केंद्र के साथ उद्योग आधार ज्ञापन (यूएएम) फाईल किया है। बोतलबंद पेय पर 28 प्रतिशत का कर लगेगा। हालांकि, बीडी, सोना, फुटवियर तथा ब्रांडेड उत्पादों के लिए कर की दरों पर कल फैसला होगा। कोयले पर कर की दर पांच प्रतिशत होगी, जबकि अभी इस पर 11.69 प्रतिशत का कर लगता है। इससे बिजली उत्पादन सस्ता होगा। जेटली ने संवाददाताओं से कहा, 'हमने (आज की बैठक में) ज्यादातर वस्तुओं के लिए कर दरों व छूट सूची को अंतिम रूप दे दिया है। चौकाने वाली बात तो यह है कि राज्य बनाने के पीछे एक बड़ा उद्देश्य राज्य के आदिवासियों का उत्थान करना था उसपर भी कोई ठोस पहल होती नजर नहीं आई। राज्य में आदिवासियों को जल-जंगल और जमीन से भी हाथ धोना पड़ा है और राज्य में जो आदिवासियों की संख्या है उसमें भी भारी गिरावट आई है। यही कारण है कि अब ट्रायवल एडवाइजरी काउंसिल ने राज्य का भ्रमण कर आकड़ों को जुटाने में लग गया है कि आखिर किस कारण से आदिवासियों की संख्या में कमी आ रही है। 18 अगस्त 2018 अमेठी फुटबॉल आधार कार्ड में गलत हो गई जन्मतिथि बदलवाना हुआ मुश्किल, जानें नया नियम ये भी पढ़ें- जीएसटी के तहत हर तिमाही रिटर्न दाखिल करना व्यावहारिक नहीं: जेटली Get the best positive stories straight into your inbox! पश्चिम छोड़ यूपी में बिजली हुई सस्ती राहुल के 'मिथ्याग्रह' का राजघाट पर हुआ पर्दाफाश : भाजपा जिज्ञासा Asian Games 2018: क्या गेम्स शुरू होने से पहले ही दो गोल्ड मेडल हार गया भारत! 5. भगवान के दर्जे पर संकट में पेशा! स्थानांतरण योजना रंग-बिरंगी लाइटों और फूलों से सजा प्रियंका का बंगला About US ग्वालियर: 5 साल बाद अगस्त में 24 घंटे में 95.8 मिमी बारिश Sun, 12 Aug 2018 02:30 PM IST 3. वर्ष 2018-19 में साउथ बिहार 20 फीसदी व नॉर्थ बिहार कंपनी 22 फीसदी तक तकनीकी-व्यवसायिक नुकसान लाए। अभी कंपनी का नुकसान 36 फीसदी है। अगले वित्तीय वर्ष में नुकसान को 15 फीसदी पर लाया जाए।  MGID All content on this website is published Seohar Source: साइट जानकारी डियर जिंदगी व्यावसायिक (शहरी) (एनडीएस   थ्री)  6.80  6.00 जरूर पढ़े Government Schemes india लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः एनडीए में जदयू के सहयोगी दल आरएलएसपी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने सीएम नीतीश कुमार पर कड़ा हमला बोला है. उपेंद्र कुशवाहा का यह बयान तब आया है जब बिहार में अपराध […] जेएमएम केंद्रीय समिति सदस्य सगाई के ठीक 1 दिन बाद बाद प्रियंका और निक का होगा रोका, पूरी जानकारी हुई लीक Best deal to make unlimited calls to India @$5 for 1st month शादी में 'कुत्ता' बन जलील हुए वरुण धवन, तो फूट-फूटकर... © 2018 The Indian Express Pvt. Ltd. All Rights Reserved. अमेरिका डिफॉल्टरों पर 4 करोड़ रुपये अब भी बकाया Apr 1 2017 8:29AM दिल्ली में बिजली की दरों में फिक्स चार्ज में बढ़ोतरी जीएसटी परिषद की चल रही बैठक में जो फैसला किया गया है उसके अनुसार केश तेल, साबुन व टूथपेस्ट जैसे आम उपभोग वाले उत्पादों पर 18 प्रतिशत की जीएसटी या एकल राष्ट्रीय बिक्रीकर दर लागू होगी। इन उत्पादों पर इस समय कुल मिलाकर 22-24 प्रतिशत कर लगता है। परिषद की इस दो दिवसीय बैठक के पहले दिन छह चीजों को छोड़ अन्य सभी वस्तुओं पर 5, 12, 18 और 28 प्रतिशत की कर दर तय कर दी है। कारों पर जीएसटी की सबसे ऊंची दर लगेगी। इसके अलावा इस पर एक से 15 प्रतिशत का उपकर भी लगेगा। छोटी कारों पर 28 प्रतिशत की ऊपरी कर दर के साथ एक प्रतिशत का उपकर लगेगा। मध्यम आकार की कारों पर तीन प्रतिशत का उपकर और लग्जरी कारों पर 15 प्रतिशत का उपकर लगेगा। अहमदाबाद © 2018 सी-डैक. सर्वाधिकार सुरक्षित नौकरी की मारामारी के बीच देशभर में खाली पड़े हैं 24 लाख पद News Feed हस्तरेखा लीक हुई अक्षय कुमार की फिल्म गोल्ड, कमाई पर पड़ सकता है असर 2011 के दौरान लेने के लिए अनुमोदित एनपीपी नरेश दिवाकर को 13 14 15 16 17 18 19 तथ्य तथा आंकडे पारस HMRI में लिगामेंट सर्जरी का बढ़ा क्रेज, दो फुटबाॅलरों का हुआ सफल ऑपरेशन BIHAR बढ़ी हुई दरों की मार सबसे ज्यादा ग्रामीण क्षेत्रों पर पड़ने वाली है. पिछली दरों के मुताबिक अभी तक ग्रामीणों क्षेत्रों में उपभोक्ताओं को 180 रुपये प्रतिमाह देना पड़ता था, जबकि किसानों को 100 रुपये प्रतिमाह देना पड़ता था. कारोबार503 पानी की टंकी पर चढ़ा युवक, आत्मदाह की चेतावनी आयोग ने बुधवार को राज्य में वित्त वर्ष 2018-2019 के लिए बिजली के नए टैरिफ को मंजूरी दे दी है. एक अप्रैल से लागू होने वाली नई दरों में सिर्फ एक कैटेगरी में बिजली दरें बढ़ाई गई हैं. बाकी सभी में छूट मिली है. Copyright @ 2018 PUNJABKESARI.IN All Rights Reserved. Sign the petition IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018 चर्चा में क्यों? By RC Desk2 On May 11,2018 11:32:51 AM इंश्योरेंस New Power Policy शहर चुनें close By admin April 18, 2016 No comment 0 लेखापरीक्षित खातों को अंतिम रूप देने में देरी। Copyright © 2018 Live Cities. All rights reserved. SEARCH 'दूल्हा' बनकर गर्लफ्रेंड के साथ दुल्हनों को ऐसे ठगता था, चौंकाने वाले खुलासे से पुलिस भी हैरान जन सेवा जागरूक मंच अध्यक्ष, आम आदमी पार्टी युवा मोर्चा महानगर अध्यक्ष बढ़ रही है घरेलू स्वास्थ्य सेवाओं की भूमिका नैनीताल में अटल जी की याद में बनेगा संग्रहालय Users Today : 1 Like मल्टी टैरिफ सिंगल फेज क्वा मीटर मीटर प्रीपेड इलेक्ट्रिक मीटर क्लास 1 शुद्धता आस्क एन एक्सपर्ट See full story here Like/Dislike Leader Related to This News इंस्पेक्टर ने बताया कि तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं टोरंट पीआरओ भूपेंद्र सिंह का कहना था कि गाड़ी ठेकेदार की थी। ठेकेदार की ओर से पीड़ित परिवार को आर्थिक मदद दिलाई जाएगी।  इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - डलास में सस्ता बिजली इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - विद्युत प्रदाता चुनें इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - बिजली का बिल
Legal | Sitemap