इंदिरा गांधी ने ब्लू स्टार पर अटलजी से बात करने के लिए बनारस में टेलीफोन लाइन बिछवा दी थी 22 mins Not Found Get Personalised Newsletters मिज़ोरम सरकार ने कहा- गुर्जर के 5 प्रतिशत आरक्षण पर फैसला रोहिणी… ภาษาไทย एकल चरण 2 तार सिविल सेवा परीक्षा : विज्ञापन र॓ट - अनमीटर्ड ग्रामीण घरेलू उपभोक्ताओं की 180 व 200 रुपये प्रति किलोवाट के स्थान पर अब 300 रुपये प्रति किलोवाट की दर से भुगतान करना पड़ेगा। 1 अप्रैल से इन उपभोक्ताओं की दर 100 रुपये प्रति किलोवाट और बढ़ जाएगी और इन्हें 400 रुपये प्रति किलोवाट के हिसाब से बिल चुकाना होगा। तेलंगाना धनबाद : प्रेस क्लब में मिले 21 रसेल वाइपर सांप, इनका काटा पानी भी नहीं... September, 2016 ग्राम विद्युतीकरण चतरा बरनाला/संगरूर Feedback : 8130392355 देश का विदेशी पूंजी भंडार बड़ी गिरावट, एक सप्‍ताह में 1.82 अरब डॉलर की आई कमी पाठ्यक्रम बुंदेलखण्ड Ideaplex हरियाली तीज 2018: जानिए क्या है शुभ मुहूर्त और पूजा विधि उत्तराखन्ड तन मन मना॓रंजन हिमाचल में बारिश से अब तक 16 लोगों की मौत, मंगलवार को सभी स्कूल बंद शहडोल- संभाग में विद्युत सुदृढि़करण के लिए तीन महत्वपूर्ण योजनाएं चल रहीं हैं। तीनों योजनाओं में लगभग 382 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। योजनाएं चल तो रहीं हैं लेकिन समय के साथ गति नहीं Promoted by 24 supporters Advertisement Rate जल संसाधन लंबे समय तक हेल्दी जीवन जीना है तो अपनाएं 6 मंत्र Copyright @ 2018 PUNJABKESARI.IN All Rights Reserved. इन्फोग्राफिक्स कोरबा मध्य प्रदेश Search यह भी पढ़ें: यूपी कैबिनेट का फैसला: शहरों में 24 घंटे, गांवों में 18 घंटे बिजली प्रबंधन / निपटान कार्यवाही Don't have an account? Sign up » Time: 2018-08-18T05:27:18Z Bangla News प्रशांत पोद्दार इंग्लैंड दिक्चालन सूची लाइन लॉस का लक्ष्य हासिल करने में फिसड्डी रहे अलग-अलग सर्किल के 7 चीफ इंजीनियरों को नियामक आयोग ने नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा है। इनमें बरेली, शाहजहांपुर, फैजाबाद, बागपत, सहारनपुर, बुलंदशहर और रामपुर के चीफ इंजीनियर शामिल हैं। Latest News L&S अटल जी के आर्थिक निर्णयों ने बदला भारत का चेहरा, वरिष्ठ पत्रकार मनोज गैरोला से खास बातचीत ADVERTISE WITH US तेलंगाना जम्मू अंटार्टिका में बर्फ से आता है खून! आपकी बेटियों के लिए हैं ये सरकारी योजनाएं अपने पीछे कितनी संपत्ति छोड़ गए अटल जी, कौन होंगे उनके उत्तराधिकारी जालंधर September 14,2017 05:27:50 PM बाजार में तेजी, सैंसेक्स 284 अंक चढ़ा और निफ्टी 11470 के पार बंद रोचक लघु फिल्में शिकायत कार्यक्रम Disclamier पूर्व केंद्रीय मंत्री सांवरलाल जाट की मूर्ति का हुआ अनावरण खूबसूरत और निखरी त्वचा पाएं अनार से Safalta # Dehradun News Live जीएसटी लागू, पर असमंजस बरक़रार Norsk महंगी बिजली का हल निकालने की दिशा में ऊर्जा मंत्रालय ने 17 जुलाई को जारी किए गए मेरिट ऑर्डर पर एक अगस्त तक सीईआरसी, सीईए और राज्यों के ऊर्जा सचिवों से राय मांगी थी। इसमें थर्मल ऊर्जा उत्पादन तथा शेड्यूलिंग के नियमों में ढील देने को लेकर ज्यादातर ने सकारात्मक पक्ष पेश किया। जवाब सकारात्मक होने की वजह बिजली कंपनियों की लागत में कमी और एकरूपता बताई जा रही है। सरकार इस व्यवस्था को ट्रायल के आधार पर एक साल के लिए लागू कर सकती है, उसके बाद पुनर्विचार कर आगे कदम बढ़ाएगी।  Site Map | Legal Disclaimer | Privacy Policy | CSR Policy | Distribution Today's e-Paper इमरान ने पाक के पीएम पद की ली शपथ, नवजोत सिंह सिद्धू भी रहे मौजूद सीपीआरआई सुविधा पुस्तिका प्रिया की तरह एक वीडियो से छा गया MP का यह शख्स, देश भर में वायरल हुआ ... व्यंग्य तस्वीरें शहर चुनें @DrKumarVishwas @AamAadmiParty Loot is just not possible without the involvement of leadership/Govt & adm auths,if investigated honestly. लाइव हिन्दुस्तान टीम आरएसओपी परियोजना विवरण एवं एफ ए क्यू कुणाल सिंह Your email address will not be published. Required fields are marked * 25 Views अररिया पढ़ेः भाजपा शासित छत्तीसगढ़ में पीने के पानी का संकट गहराया News | Aug 13, 2018 ©cea.nic.in - केन्द्रीय विद्युत प्राधिकरण, सेवा भवन, रामाकृष्ण पुरम, सेक्टर-1, नई दिल्ली - 110 066 वित्त वर्ष 2017-18 में इनकम टैक्स कलेक्शन रिकॉर्ड 10.03 लाख करोड़ रुपए, 6.92 करोड़ लोगों ने रिटर्न भरा 42 mins गर्मी के दिनों में एस्सेल की बिजली की समस्या बढ़ जाती है, ये समस्या गायघाट का नही है बल्कि एस्सेल कम्पनी की बिजली जँहा-जँहा है लोगो का हाल कुछ ऐसा ही है. गायघाट के लोग इतने आक्रोशित थे कि वो NH57 से जाम हटाने को मान ही नही रहे थे. सब बस एक ही नारा लगा रखे कि एस्सेल हटाओ बिजली लाओ. मौके पे गायघाट थानाध्यक्ष और गायघाट अंचल अधिकारी ने लोगो को आश्वासन दिया कि जल्द ही बिजली की समस्याओं को दूर किया जायेगा. अधिकारी की बात सुन लोगो को मिला शुकुन फिर दरभंगा-मुज़फ़्फ़रपुर राष्ट्रीय मार्ग से जाम को हटा आवागमन शुरू कराया गया. बिज़नस Leave a comment होम | दिल्ली-एनसीआर | http://www.radarnews.in/ बेगूसराय में ठनका गिरने से 3 बच्चों की दर्दनाक मौत, परिवार में मचा कोहराम July 29, 2018 Reduce the allowable size of new homes built in Coconut Grove to 50% of the lot area. गरोठ SUBSCRIPTION देवरिया / कुशीनगर Advertise with Us गॉसिप नकली गद्दे बनाने वाली फैक्ट्री का पर्दाफाश, पुलिस... Baba Dham शाहरुख और अजय को क्‍लासमेट बनाना चाहती हैं काजोल, लेकिन आमिर खान को नहीं! जानें क्‍यों प्रसव के समय: 30 दिन कजरा व पीरपैंती में लगने हैं ढाई-ढाई सौ मेगावाट क्षमता का सोलर प्लांट 400-800 यूनिट Sat Aug 18 2018 00:26:44 GMT-0500 (Central Daylight Time) टोंक विराट कोहली » See SMS short codes for other countries भारत में खुला आइकिया का पहला स्टोर TV Serials आदि कल्पवास स्थली चमथा को राजकीय दर्जा दिलाने का करेंगे प्रयास : श्रवण कुमार ज्वाइनिंग के पहले दिन ही क्रिमिनल्स पर टूट पड़ा यह… स्वशिक्षा त्रुटि 404 सूची विवाह प्रमाण-पत्र Scorpio (वृश्चिक) खबर इंडिया टीवी विद्युत सर्वेक्षण एवं भार पूर्वानुमान प्रभाग Edited By 29 हजार बने मजदूर, 6684 को बिजली बिल माफी, 5013 को सस्ते कनेक्शन मिले व्यंग्य तस्वीरें राहुल गांधी 0% टैक्स Reply IBPS: बैंक में नौकरी चाहिए तो ये एक्सपर्ट टिप्स आएंगे काम एमएनआरई द्वारा जारी ऑनलाइन टेंडर के लिए कंपनियों के बीच प्रतिस्पर्धा देखने को मिली है। 10 कंपनियों ने 5 रुपए प्रति यूनिट से कम की बिड लगाई है। वहीं, 15 एसी कंनियां थी, जिन्होंने 5.5 रुपए प्रति यूनिट से कम की बोली लगाई है। एनटीपीसी द्वारा 3 नवंबर को कराए गए ई-रिवर्स ऑक्शन में 500 मेगावाट (50-50 मेगावाट के 10 प्रोजेक्ट्स) के लिए बोलियां मांगी गई थीं। इसके तहत आंध्र प्रदेश के घानी में सोलर पार्क की स्थापना की जाएगी। इस प्रोजेक्ट के लिए 30 कंपनियों ने बोलियां लगाई थीं। BPSC इसमें निवेशकों के साथ-साथ  आम लोग भी जो सोलर प्लांट अपने घरों में लगायेंगे उनको कई तरह की रियायत  मिलेगी. यहां  तक कि जरूरत से अधिक बिजली होने पर अगर कोई व्यक्ति बिजली बेचना चाहेंगे तो सरकार उसे भी खरीदेगी.   | लघु सिचाई योजनाएं   कृषियंत्रीकरण ऋण योजना अपलोड आरटीआई ऑनलाईन संजय कुमार Electricity bill जिले की अब तक कि सबसे बड़ी विद्युत प्रसारण योजना का काम अब अपने अंतिम पड़ाव पर है। 400 केवी डबल सर्किल बाड़मेर से भीनमाल तक की 144 किलोमीटर लंबी लाइन में 399 हाई टेंशन टॉवर लगने के कार्य हो रहे हैं। 139.02 करोड़ रुपए की इस परियोजना में अब तक 377 टॉवर लग चुके हैं। राजस्थान राज्य विद्युत प्रसारण निगम बाड़मेर के निर्माण कार्य विभाग के सहायक अभियंता सवाई सिंह खत्री के अनुसार बाड़मेर के गेहूं गांव में जिले इकलौते 400 केवी सब स्टेशन से भीनमाल तक की इस 400 केवी डबल सर्किल बाड़मेर से भीनमाल लाइन का काम जुलाई 2016 में शुरू हुआ था। यह काम अगस्त में पूरा हो जाएगा। डिस्कॉम की कनिष्ठ अभियंता स्नेहा राजपुरोहित के मुताबिक इस काम की नियमित मॉनिटरिंग की जा रही है। इस काम के पूरे हो जाने के बाद बाड़मेर भीनमाल-सिरोही, उदयपुर से देबारी विद्युत चक्र से जुड़ जाएगा। यहां की उत्पादित विद्युत के त्वरित प्रसारण के साथ निर्बाध बिजली सप्लाई होगी। दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय Daily Bhaskar मौसमविज्ञान डाटा अब तक लगे टॉवर भाषाएँ मंत्री श्री जैन ने हासामपुरा में स्व.दिगंबरराव तिजारे स्टेडियम का लोकार्पण किया, विधायक ट्रॉफी 2018 का पुरस्कार वितरण भी किया Copyright © 2015 Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh) June 21, 2018 सहायक / उच्च श्रेणी लिपिक all sections सिवनी इस वेबसाइट से संबंधित सवालों के लिए कृपया वेब सूचना प्रबंधक से सम्‍पर्क करें: [email protected] रांची : जनहित में बिजली दर कम करें, नहीं तो होगा जन-आंदोलन- सुबोध कांत सहाय  0% टैक्स धनबाद सहित समस्त झारखण्ड वासियो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक सुभकामना आपका शहर साइन इन निजी अस्पतालों और क्लिनिक को बिल में 5 % की छूट About Md. Saheb Ali 3099 Articles डीएओ और आईसीओ पर सीईसी के नियम, समझाया गुजरातहिमाचल प्रदेशमहाराष्ट्रहरियाणापंजाबराजस्थानछत्तीसगढ़झारखंडमध्य प्रदेशदिल्लीबिहारउत्तर प्रदेश विद्युत विभाग शहडोल के अधीक्षक अभियंता के के अग्रवाल के मुताबिक संभाग में विद्युत सुदृढि़करण के कार्य चल रहे हैं। आईपीडीएस, दीनदयाल और सौभाग्य योजना की लगातार मॉनीटरिंग हो रही है। संबंधित ठेकेदारों को लगातार कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए जा रहे हैं। एशियन गेम्स 2018: भारतीय टीमें इंचियोन पहुंची, आज से होगा आ बिजली कंपनियां दो तरह से बिजली खरीदती हैं। वह बिजली उत्पादक कंपनी से 10 या 20 साल के लिए लॉन्ग टर्म अग्रीमेंट करती है या फिर जरूरत के मुताबिक शॉर्ट टर्म अग्रीमेंट होता है। यह पावर एक्सचेंज के जरिए या फिर बाइलेटरल (द्विपक्षीय) हो सकता है। जहां से बिजली मिल जाए वहीं से कंपनियां बिजली खरीद लेती हैं। अभी इस तरह का कोई सिस्टम नहीं है कि अगर बिजली कंपनी कम दाम पर बिजली खरीदे तो उन्हें कुछ फायदा हो। बिजली कंपनियां जिस दाम पर बिजली खरीदती है वह उसके खर्च में जुड़ जाता है और आखिरकार वह खर्च उपभोक्ताओं के हिस्से में आता है। अगर बिजली कंपनियां कम दाम पर बिजली लेंगी तो उपभोक्ताओं पर भी कम बोझ पड़ेगा। इंग्लैंड के खिलाफ तीसरा टेस्ट आज से, ट्रेंट ब्रिज में भारत को 11 साल से जीत का इंतजार 23 mins पूव मंत्री सह बिधायक गोमिया Submit your news जुड़ें हमसे : 33 के.व्ही से अधिक वोल्टेज पर नवीन कनेक्शन हेतु विद्युत निरीक्षक द्वारा रेखाचित्र अनुमोदन तथा चार्जिंग अनुमति संबंधी नवीन सेवा को लोक सेवा प्रबंधन अधिनियम अंतर्गत शामिल करने की अधिसूचना। 1. गैर घरेलू सेवा (एनडीएस-एक) और राजकीय सिंचाई नलकूप (आईएएस-दो) में बिना मीटर वाले उपभोक्ता श्रेणी को समाप्त कर दिया गया है। एक अप्रैल से इस श्रेणी के उपभोक्ताओं को मीटर से ही बिजली बिल दिया जाए।  December 2017 कबीर अमृतवाणीः सुुनिए कबीरदास के 10 बेहतरीन दोहे एयरटेल पेमेंट्स बैंक के ग्राहकों को मिलेगा PMJJBY का लाभ, भारती एक्‍सा लाइफ से मिलाया हाथ Appliances इसके साथ ही ग्रामीण इलाकों में बिजली की दरों में भी वृद्धि की गई है. 150 से 300 यूनिट तक ग्रामीण उपभोक्ताओं को 4.50 पैसे की दर से भुगतान करना होगा. गैस और इलेक्ट्रिक बिल - आज बचाओ गैस और इलेक्ट्रिक बिल - इलेक्ट्रिक पावर कंपनी गैस और इलेक्ट्रिक बिल - विद्युत प्रदायक बदलें
Legal | Sitemap