Electronics सरकार की ओर से जारी आधिकारिक बयान में कहा गया है कि सबसिडी की राशि बिजली कंपनियों के खाते में भेज दी जाएगी। इसे बिजली कंपनियां उपभोक्ताओं के बिल से समायोजित कर लेंगी। साथ ही, बिजली कंपनियों को सूचित कर दिया गया है कि उपभोक्ताओं को सबसिडी का वास्तविक लाभ मिलने की बात पुष्ट करने के लिए सरकार बिजली कंपनियों का किसी स्वतंत्र एजेंसी से विशेष ऑडिट करा सकती है। Refrigerator डंडारी बाग में अवैध कब्जा से संबंधित थाने में 4 FIR, आनन फानन में प्रशासन ने बुलाई बैठक आईसीआईसीआई बैंक: केरल के ग्राहकों से इस महीने ईएमआई चुकाने में देरी पर पेनल्टी नहीं लेगा 9 mins इसके अलावा बिहार और उत्तर प्रदेश से 33 केवी और 132 केवी रेडियल मोड में नेपाल को मामूली विद्युत का निर्यात करता रहा है। भारत नेपाल को 11 केवी, 33 केवी और 132 केवी लेवल पर 12000 से अधिक सीमापार इंटरकनेक्शनों के लिये लगभग 190 मेगावाट विद्युत का निर्यात कर रहा है। 2016 में 400 केवी लाइन क्षमता (132 केवी क्षमता के साथ संचालित) मुजफ्फरपुर (भारत)-धालखेबर (नेपाल) के चालू हो जाने के बाद नेपाल को विद्युत निर्यात में लगभग 145 मेगावाट की वृद्धि हुई। FAQS मीडिया प्रभारी, भाजपा When you see a Tweet you love, tap the heart — it lets the person who wrote it know you shared the love. 5 किलोवाट से अधिक और 50 किलोवाट या 56 केवीए तक के लोड के लिए 300 रुपये प्रति किलोवाट सिस्टम लोडिंग चार्ज जमा कराया जाता था। अब 5 किलोवाट तक कोई सिस्टम लोडिंग चार्ज नहीं देना होगा। अलबत्ता 5 किलोवाट से ऊपर के कनेक्शन के लिए पहले की ही तरह 300 रुपये प्रति किलोवाट के हिसाब से सिस्टम लोडिंग चार्ज जमा कराया जाएगा। राज्य में बिजली अप्रैल के बाद महंगी होगी. झारखंड राज्य विद्युत नियामक आयोग के मुताबिक बिजली टैरिफ बढ़ाने के लिए झारखंड बिजली वितरण निगम ने प्रस्ताव दिया है. प्रस्ताव पर आयोग ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में जाकर जनसुनवाई भी की है. प्रस्ताव की समीक्षा चल रही है. प्रक्रिया पूरी करने में अभी 20-25 दिनों का समय और लगेगा. उसके बाद ही टैरिफ में वृद्धि पर अंतिम आदेश जारी किया जायेगा. मालूम हो कि झारखंड बिजली वितरण निगम ने आयोग को वर्तमान दर में छह गुना तक वृद्धि करने का प्रस्ताव सौंपा है. जनसुनवाई के दौरान दर वृद्धि के विरोध में सामने आये सभी पहलुओं पर आयोग विचार कर रहा है. निगम के राजस्व को देखते हुए टैरिफ की दर निर्धारित की जायेगी. इस योजना के तहत दिए जाने वाले कनेक्शनों के लिए 19 सितंबर से रजिस्ट्रेशन शुरु हो जाएंगे, जिसके लिए 100 रुपए की फीस लगेगी। ऊर्जा राज्य मंत्री और अफसरों ने दावा किया कि डिमांड राशि जमा करवाने के 15 से 20 दिन के भीतर कनेक्शन दे दिया जाएगा। इस योजना में करीब 4 लाख लोगोंं को फायदा हो सकता है। पाकिस्तान के अंतरिम कानून मंत्री ने सुषमा स्वराज से मुलाकात की झाविमो जिला अध्यक्ष सरसों (Mustard) देखिये जरूर मेष Українська мова अगर आप कोई सूचना, लेख, आॅडियो-वीडियो या सुझाव हम तक पहुंचाना चाहते हैं तो इस ईमेल आईडी पर भेजें: [email protected] ब्लॉग Infographics फाइनेंशियल प्लानिंग से जुड़े सवाल-जवाब संबंधित लिंक टास्क मेनेजर मध्य प्रदेश पी.सी.एस. पढ़ेः भाजपा शासित छत्तीसगढ़ में पीने के पानी का संकट गहराया Advertise With Us अब मीडिया सरकार के कामकाज पर नजर नहीं रखता बल्कि सरकार मीडिया पर नजर रखती है Election Results इस अवसर पर बसपा सुप्रीमों मायावती ने कहा कि एक तरफ  से तो पूरे प्रदेश में बिजली की भारी कमी के कारण लोगों में हर तरफ हाहाकार मचा हुआ है और दूसरी तरफ  बिजली की दरों में भारी वृद्धि करके प्रदेश की आमजनता को काफी ज़्यादा मुसीबत में डाला जा रहा है। ख़ासकर घरेलू उपयोग में आने वाली बिजली की दर को 17 प्रतिशत तक मंहगी करके जनविरोधी’’ काम किया गया है। इससे शहर में रहने वाले करोड़ों उपभोक्ताओं को इस मंहगाई का सामना सीधे तौर पर करना पड़ेगा। RELATED ARTICLESMORE FROM AUTHOR मौके पर लालजीराम तियु का साला बबलू बिरुवा के बारे में पुलिस को जानकारी हुई की इसके द्वारा यौन शौषण के आरोपी लालजीराम को पनाह दिया था। English Centre Govt शिमला में बारिश का कहर: कहीं भूस्खलन, कहीं मलबे में दबी गाड़ियां... सड़क पर हार्मोनियम बजाता है ये शख्स, 'इंडियन आइडल 10' के जज नेहा-विशाल ने दान किए 1-1 लाख रुपये puja-paath2 days ago 8. CES 2018 : पहले दिन लॉन्च किए गए ये शानदार प्रोडक्ट्स एयर इंडिया पायलटों की धमकी- अगर बकाया उड़ान भत्ता नहीं चुकाया तो फ्लाइट ऑपरेशंस रोक देंगे 21 mins TERMS OF USE बेगूसराय में फांसी पर झूला युवक, वीडियो फेसबुक पर लाइव हो रहा था July 2, 2018 प्रबंधन भारत में खुला IKEA का पहला स्‍टोर, सबसे सस्‍ती चीज 15 रुपए की ​ सरस्वती शिशु मंदिर ने दी पुष्पांजली posted on August 18, 2018 See more of Aam Admi Zindabad(आम आदमी जिंदाबाद) on Facebook Breaking News in Hindi CM JAIRAM MEET KHALI राज्य पंजाब-हरियाणा जम्मू-कश्मीर उत्तर प्रदेश हिमाचल गुजरात बिहार राजस्थान और म. प्र. पावर मेनेजमेन्ट क. लि. Continue Reading » भारत के पीसी मार्केट में 28 फीसदी की ग्रोथ, अल्ट्रा स्लिम नोटबुक ने बढ़ाई मांग 49 mins (f)    Improved quality of life especially for women © Bhaskar News Network Himachal Pradesh News जिला महासचिव कांग्रेस सह तमाड़ विधानसभा संगठन प्रभारी अ- अ अ+ पोर्टल नीतियां जन धन खाताधारकों के लिए 15 अगस्त को बड़ी घोषणाएं .. मेरी कहानी कौशांबी यूएचवीआरएल, हैदराबाद जारी परामर्श - डीएसडी बिजली के सीमापार व्यापार के लिए भारत सरकार के निर्दिष्ट प्राधिकरण, केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण के अनुसार भारत पहली बार बिजली का निवल आयातक के बजाय निवल निर्यातक बन गया है। वर्ष 2016-17 (अप्रैल से फरवरी 2017) के दौरान भारत ने नेपाल, बांग्लादेश और म्यांमार को 579.8 करोड़ यूनिट बिजली निर्यात की, जो भूटान से आयात की जाने वाली करीब 558.5 करोड़ यूनिट की तुलना में 21.3 करोड़ यूनिट अधिक है। विदित हो कि सीमा पार विद्युत व्यापार प्रारंभ होने के बाद से भारत भूटान से बिजली आयात करता रहा है। भूटान भारत को औसतन प्रतिवर्ष 500-550 करोड़ यूनिट बिजली की आपूर्ति करता रहा है।  घर के सबसे बड़े बच्चे का हाल-ए-दिल, झेलनी ही पड़ती है ये मुसीबतें प्रतीकात्मक फोटो. 20 को मनाएंगे सद‌्भावना दिवस चम्बा News हिंदी कमल किशोर टैबलेट योगी आदित्यनाथ मारपीट के आरोपी दिग्विजय सिंह ने सौंपे सभी सरकारी हथियार न्यूज़ एनालिसिस GET THE APP! Impact September 2017 मॉक इंटरव्यू Share: VIDEO: पांडु नदी में छात्रा ने लगाई छलांग, रेस्‍क्‍यू जारी 404 :( छोटे उद्योगों के लिए औसतन विद्युत दर 5.14 रुपए प्रति यूनिट से बढ़ाकर रुपए 5.38 प्रति यूनिट कर दी गई है जबकि बड़े उद्योगों के लिए 5.16 रुपए से बढ़ाकर 5.41 रुपए कर दी गई है। कुमार ने बताया कि प्रदेश की विद्युत वितरण कंपनी उत्तराखंड पावर कारपोरेशन लिमिटेड बिजली 3.10 रुपए में खरीदेगी और उपभोक्ताओं को 4.92 रुपए में बेचेगी। भुगतान शर्तें: वेस्टर्न यूनियन, पेपैल, टी / टी, एल / सी 21-Feb-17 12:05 07/14/2011 - 12:21 August 9, 2018 जुलाई 11, 2018 Razia Ansari Big News, ट्रेंडिंग, देश विदेश 0 हज़ारीब़ाग जवाब – दूरस्थ और दुर्गम क्षेत्रों में स्थित घरों के लिए, 200 से 300 वाट के सौर ऊर्जा पैक और 5 एलईडी लाइट के साथ बैटरी, 1 डीसी फैन, 1 डीसी पावर प्लग, मरम्मत और रखरखाव के साथ 5 साल तक उपलब्ध कराए जाएंगे। वहीं, शहरों इलाकों में 150 से 300 यूनिट तक 5.40 रुपए और 500 यूनिट से ज्यादा इस्तेमाल पर 5.5 पैसे प्रति यूनिट की दर से भुगतान करना होगा. अगली स्टोरी Jammu 101-200         6.10 August 18,2018 10:26:48 AM Google Ads Sajid on महाराष्ट्र “श्रवण बाल सेवा राज्य निवृत्तिवेतन योजना 2017” विद्युतरोधक Car Reviews Feedback पहाड़ में सब्सिडी का लाभ लेकर पिरुल से पैदा करे बिजली : सीडीओ भाजपा नेता सह पार्षद आदित्यपुर नगर निगम वार्ड संख्या 16 2018 Ind vs Eng Test Series: तो क्या अभी भी बल्लेबाजों से नाराज हैं कोच रवि शास्त्री! बाढ़ के कहर से केरल में 300 से अधिक लोगों की मौत, केजरीवाल सरकार देगी 10 करोड़ रुपये धर्म-आस्था Home » देश » बिहार में महंगी हुई बिजली, नई दर एक अप्रैल से Google News in Hindi It may be temporarily unavailable, moved or पी.सी.एस. परीक्षा Ukrainian Українська लक्ष्य आजकल 10- मुख्यमन्त्री जनजाति अनुसूचित/सहरिया क्षैत्र जलधारा योजना.. इंग्लैंड के खिलाफ तीसरा टेस्ट आज से, ट्रेंट ब्रिज में भारत को 11 साल से जीत का इंतजार 23 mins ये भी पढ़ें- अविश्वसनीय लेकिन ये सच है, देखिए दीवारों पर कैसे होती है खेती तेलंगाना कांती वेल्गु कार्यक्रम मुफ्त आई चेक-अप योजना 164 Views जयपुर । जयपुर डिस्काॅम ने तीन महत्वपूर्ण योजनाओं की अवधि को आगामी तीस जून तक बढाया है जिससे अधिक से अधिक संख्या में उपभोक्ता इन योजनाओं का लाभ उठा सके। पूर्व में यह योजनाएं तीस अप्रैल तक ही प्रभावी थी। Jump to संपादकीय: बेलगाम भीड़तंत्र उच्च शक्ति प्रयोगशाला (एचपीएल) See full story here Firkee Latest Water Heater Technology in India – Review Deshbandhu Search NOKIA का सबसे सस्ता 4G मोबाइल फोन जानिए फीचर 11. राशि के अनुसार शादी की ड्रेसों का करें चयन, ग्रहों और रंगों का खुशियों से सीधा संबंध पर्यटन नई दिल्ली: बिजली मंत्री आर के सिंह ने सोमवार (25 सितंबर) को कहा कि भारत अगले साल दिसंबर तक सभी घरों को बिजली पहुंचाने का लक्ष्य हासिल कर लेगा. साथ ही सभी गांवों का विद्युतीकरण समय से पहले इस साल दिसंबर तक हो जाएगा. सरकार ने बिजली से वंचित सभी गांवों में एक मई 2018 तक विद्युत पहुंचाने का लक्ष्य रखा है. इसी प्रकार सरकार का मार्च 2019 तक सातों दिन 24 घंटे बिजली पहुंचाने का लक्ष्य है. सभी घरों को बिजली पहुंचाने की ‘सौभाग्य’ योजना शुरू किये जाने के जाने के मौके पर सिंह ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने दिसंबर 2018 का लक्ष्य दिया है. हम इसे करेंगे. यह एक कड़ा लक्ष्य है, लेकिन हम इसे हासिल करेंगे. सभी परिवारों को दिसंबर 2018 तक बिजली मिलेगी.’’ Hindi हिन्दी और भी देखें entertainment20 hours ago MevoFit Drive को फ्री में प्राप्त करे Leave a comment रू-ब-रू / अतिथि कॉलम India News in Hindi | State News in Hindi | World News in Hindi| Sports News in Hindi| Cricket News in Hindi| Business News in Hindi| Bollywood News in Hindi| Technology News in Hindi| Science News in Hindi| Health News in Hindi| Photos| Video| Replying to @JarnailSinghAAP @AamAadmiParty @ArvindKejriwal न्यूज निचोड़ At 11 AM : तीन तलाक बिल पर निर्णायक दिन नयी दर में इलेक्ट्रिकल व्हीकल का भी प्रावधान किया गया है. घर या ऑफिस  में इलेक्ट्रिकल व्हीकल चार्ज करने के लिए कोई दर नहीं है. लेकिन, पैसे  लेकर इलेक्ट्रिकल व्हीकल चार्ज करने पर बिजली का इस्तेमाल व्यावसायिक  श्रेणी के दायरे में आयेगा. UP में भारी बारिश का कहर जारी, अब तक इतने लोगों की हुई मौत शिविरों में पहुंच जनसमस्याएं सुन रहे हैं मंत्री देवनानी Araria Downloads 0% टैक्स 4 अगस्त 2018 शाहजहांपुर Tweets by NayaHaryana Email Top News अक्षय कुमार दुनिया में सबसे ज्यादा कमाई करने... सरकार की भूमि अधिग्रहण नीति योजनाओं का समयबद्ध रूप से कार्य करने में सबसे बड़ा अवरोध बनी। वन भूमि अधिग्रहण में देखा गया कि 85 दिनों से लेकर 295 दिनों की देरी हुई। कुछ योजनाओं में बिजली की निकासी (ट्रांसमिशन) का सामान समय पर नहीं लगाया गया, जिस कारण आर्थिक हानि हुई तथा राज्य को राजस्व नहीं मिल पाया। सरकार को एक अधिकारी समिति का गठन करना चाहिए था जो योजनाओं के लिए भूमि अधिग्रहण, वन विभाग से आज्ञा तथा लोगों के पुनर्वास का काम की देख-रेख करती। यह आवश्यक था कि विजली की निकासी (ग्रिड तक पँहुचाने) का काम योजनाओं के पूरा होने से पहले कर लिया जाता। चिंताओं के विषय थे योजनाओं का पूर्व में जाँच-परख न हो पाना, त्रुट्पिूर्ण योजना कार्य तथा खास तौर पर अनुश्रवण या समय-समय पर विभागीय अधिकारियों या उत्तराखंड जल-विद्युत निगम द्वारा समीक्षा न हो पाना। सबसे चिंताजनक बात थी पर्यावरण के प्रति लापरवाही, जिसका सबसे अधिक कुप्रभाव देश के संसाधनों पर पडा। रिश्ते नाते up next फोन: 080-2207 2234 Share Facebook Twitter हजारीबाग समेत समस्त प्रदेश वासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं लाल किले पर आज 15 अगस्त की फुल ड्रेस रिहर्सल, बच कर चलें जब जय प्रकाश नारायण की जगह पहली बार जालंधर आए थे अटल जी Water Heaters electricity connection up news in hindi lucknow news  सरकारी योजनाओं के बारे में और अधिक पढ़ें  पीसीबी यों का नियंत्रण विनियम जीएसटी लागू, पर असमंजस बरक़रार Help Copy link to Tweet अब तक घरेलू उपभोक्ताओं के लिए डीएस-1 की तीन  श्रेणी और डीएस-2 की दो श्रेणी थी. अब घरेलू उपभोक्ताओं को केवल शहरी और  ग्रामीण की श्रेणी में बांटा गया है प्रोजेक्ट रिव्‍यू Bollywood 3,204FansLike   |  2018-03-27 00:00:00.0 बाल अधिकार यूएचवीआरएल, हैदराबाद Vijender Gupta About Us | Privacy Policy | Disclaimer |   किसान के बेटे का कमाल, केले के तने और रद्दी कागज से पैदा की बिजली मीटर/रिले सस्ता बिजली प्रदाता - आज से शुरुआत करें सस्ता बिजली प्रदाता - विद्युत खुदरा विक्रेताओं सस्ता बिजली प्रदाता - सस्ते व्यापार बिजली
Legal | Sitemap