Raushan Pratyek Media - August 18, 2018 Toggle navigation browse देश की खबरें Jio GigaFiber का रजिस्ट्रेशन शुरू, जानें 10 बड़ी बातें स्टार्टअप इंडिया - एक स्टार्टअप क्रांति की शुरुआत nakul devarshi | Jaipur, Rajasthan, India Primary Menu read more About text formats सपोर्ट द वायर नदखुरकी पंचायत मुखिया योजना के आसान और त्वरित कार्यान्वयन के लिए, आधुनिक तकनीक का उपयोग मोबाइल ऐप का उपयोग करके घरेलू सर्वेक्षण के लिए किया जाएगा। जिससे लाभार्थियों की पहचान की जाएगी और आवेदक तस्वीर और पहचान प्रमाण के साथ बिजली कनेक्शन के लिए उनका आवेदन स्थान पर दर्ज किया जाएगा शासकीय योजनाएं मिशन 2017-18: कुछ ही देर में शुरू होगी प्रियंका-निक की पार्टी, शामिल हो सकते हैं ये सितारे June 2018 Type the word given below अब यूपी में बिजली कंपनियां किस्तों पर देंगी सस्‍ते एसी-गीजर-पंखे आईपीएस जीएसटी लागू, पर असमंजस बरक़रार Dari دری जानिए महबूबा मुफ्ती क्यों बोलीं कश्मीर में पैदा होंगे सलाउद्दीन कुल्लू के बाजार रहे बंद, व्यापारियों ने दी अटलजी को श्रद्धांजलि देश में बिजली की दर एक हो : नीतीश Sport डिजीज एंड कंडीशन्‍स एक हजार के बिल पर लगभग 22 रुपये तक कमी: रेग्युलेटरी सरचार्ज में कटौती का सबसे ज्यादा फायदा मध्यांचल के उपभोक्ताओं को मिलने जा रहा है। मध्यांचल में 2.84 फीसदी रेग्युलेटरी सरचार्ज की जगह अब केवल 0.73 फीसदी रेग्युलेटरी सरचार्ज बिजली बिल पर वसूल किया जा सकेगा। यानी 1 हजार रुपये के बिल पर उपभोक्ताओं को लगभग 22 रुपये के रेग्युलेटरी सरचार्ज देने से राहत मिलेगी। Published: 2017-03-30 13:39:03.0 15 साल बाद पृथ्वी के सबसे करीब पहुंचा मंगल ग्रह, यहां देखें LIVE यूनिट        अभी है         आयोग का फैसला      प्राइवेसी पॉलिसी Arwal लघु सिचाई योजनाएं.. Fropky.com Lifestyle Tips महामंत्री, बीजेपी हरला मंडल Tags: Final Report Gorakhpur Final Report news Gorakhpur Gorakhpur City News Gorakhpur Final Report Gorakhpur Local News Gorakhpur News in Hindi Latest Gorakhpur News इंटीरियर डैकोरेशन End of conversation आठ बिजली कनेक्शन काटे मीटर भी निकाले रांची : रांची में बढ़ रही है सीफूड खाने वालों... मिलते-जुलते मुद्दे Donate Us Web Title  Home > राज्य > बिजली बिल के भार से दबा उपभोक्ता और बिजली कंपनी की रैंकिंग पहुंची 31वें स्थान पर प्रश्नपत्र I आरएसओपी फॉर्मेटों की सूची 23 Views पटना : बिहार राज्य पावर होल्डिंग कंपनी ने एलएनटी कंपनी (लार्सन एंड टूब्रो) को अल्टीमेटम दिया है. लक्ष्य से पीछे रहने के कारण बिजली कंपनी ने एलएनटी कंपनी को 15 अप्रैल तक 355 टोलों में सोलर से बिजली पहुंचाने का टारगेट दिया है. कंपनी को उत्तर बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी के 130 टोलों में और दक्षिण बिहार पावर  डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी के 225 टोलों तक बिजली पहुंचानी है. अगले दो महीने में चंपारण, कैमूर, अरवल, मुंगेर समेत अन्य जिलों के चयनित टोलों में सोलर से बिजली नहीं पहुंची तो एल एंड टी कंपनी पर कार्रवाई की जा सकती है.  जवानी में कर लें ये काम, वरना बुढ़ापे में मुश... Lakhisarai बेदाग और चमकदार त्वचा पाना हैं तो करें नीबू का इस्तेमाल तीसरा सवाल –  क्या जिन परिवारों के बिजली के कनेक्शन नहीं हैं उन परिवारों के लिए बिजली कनेक्शन पूरी तरह से मुक्त होगा? दूसरा टेस्ट बाघ के हमले में तेंदूपत्ता श्रमिक की मौत कच्चा तेल (CRUDEOIL) एक्सपर्ट्स बिहार पुलिस में बम्फर बहाली! भाषा चुनिए प्रधानाध्यापक मध्य विद्यालय मनार कटकमसांडी 02018-07-17T12:09:49 दूसरा टेस्ट जो लोग इस जनगणना में शामिल नहीं हैं, उन्हें 500 रुपए में कनेक्शन दिया जाएगा और इसे 10 किश्तों में वसूला जाएगा।  Sitemap| बिजली बिल भरने पर ये कंपनी दे रही इनाम, 31 दिसंबर तक है समय इमरान खान ने पाकिस्तान के 18वें प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ली, पहले दिन से कर्ज की दरकार Just Now Movie Reviews National Party BJP यह रहेंगे नियम हाईटेंशन (एचटीएस 132केवी)  6.25  5.75 गुड़गांव फरीदाबाद चंडीगढ़ अंबाला रेवाड़ी कुरुक्षेत्र पलवल जींद हिसार अन्य सक्षम प्राधिकारी द्वारा पारित आदेशों के खिलाफ प्रशासनिक सचिव, उद्योग एवं वाणिज्य को ऐसे आदेश प्राप्त होने की तिथि से 30 दिनों की अवधि के भीतर अपील की जा सकती है। अपील में प्रशासनिक सचिव द्वारा पारित आदेश अंतिम होगा। भाजपा चास प्रखंड पिंड्राजोरा मंडल, अध्यक्ष उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग ने राज्य में बिजली की नई दरों को मंज़ूरी दे दी है. अनुसंधान और विकास आरसी ब्यूरो, औरंगाबाद।  बीजेपी शासित राज्य महाराष्ट्र में राज्य विद्युत वितरण कंपनी की लापरवाही की वजह से एक गरीब ने खुदकुशी कर ली। ये घटना महाराष्ट्र के औरंगाबाद की है, जहां महाराष्ट्र राज्य बिजली बोर्ड (एमएसईबी) ने भारत नगर इलाके में रहने वाले भागिनाथ शेळके को 8 लाख 64 हजार रुपये का बिजली का भेजा दिया। इसके साथ ही 17 मई तक ये बिजली बिल न जमा करने पर 10 हजार रूपये के जुर्माने की भी बात कही गयी थी। इससे परेशान इस शख्स ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के अनुसार भागिनाथ शेळके अपने परिवार का भरन पोषण सब्जी बेचकर करता था। लाखों के बिजली बिल से वो काफी तनाव में था। पुलिस ने बताया है कि मरने से पहले भागिनाथ शेळके ने एक नोट भी छोड़ा है।  इस नोट में उसने भारी-भरकम बिजली का बिल होने के कारण जान देने के लिए मजबूर होने की बात लिखी है। ऊर्जा लागत की तुलना करें - विद्युत छूट ऊर्जा लागत की तुलना करें - ऊर्जा प्रदाता बदलें ऊर्जा लागत की तुलना करें - विद्युत कैलकुलेटर
Legal | Sitemap