होम ›  PIB / PRS Forgot account? राजनीतिक नेताओं ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी टॉप स्‍टोरी संपादकीय  CATEGORY ई रामेश्वर साह मुखिया चपुवाडीह पंचायत, बेंगाबाद राजनीति बिजली-सड़क-पानी क्राइम अन्य ख़बरें दिल्ली टाइम्स ईपेपर टीआरसी, नागपुर उपभोक्ता के जून, 2018 तक के बिल में देय मूल बकाया राशि और सम्पूर्ण सरचार्ज राशि माफ की जावेगी। इसके लिए आवेदन मिलने के बाद बकाया माफी प्रमाण-पत्र भी जारी किया जाएगा। सरचार्ज की पूरी रा‍शि एवं मूल बकाया राशि का 50 प्रतिशत वितरण कंपनी द्वारा माफ किया जायेगा तथा शेष 50 प्रतिशत राज्य शासन द्वारा वहन किया जायेगा। इसकी एवज् में राज्य शासन द्वारा तीन वर्ष अथवा 2018-19, 2019-20 एवं 2020-21 में सब्सिडी दी जायेगी। स्कीम में संबल योजना में पंजीकृत और बीपीएल श्रेणी के वे उपभोक्ता भी शामिल हो सकते हैं, जिन पर सामान्य बिजली बिल की राशि बकाया है और जिन्होंने बकाया राशि बाबत् न्यायालयीन प्रकरण दर्ज किया है और प्रकरण लंबित है। ऐसे उपभोक्ता जिन पर बिल की राशि बकाया होने से कनेक्शन स्थायी अथवा अस्थायी रूप से विच्छेदित किया गया था और जिन पर विद्युत अधिनियम की धारा 126, 135 या 138 में प्रकरण दर्ज हो और उनके बिल की राशि बकाया हो, ऐसे उपभोक्ताओं की निर्धारण अधिकारी द्वारा जारी निर्धारण आदेश की कंपाउडिंग फीस और देय ब्याज इत्यादि सहित पहले की बकाया समेत पूरी राशि माफ की जाएगी। पात्र हितग्राहियों के उपरोक्तानुसार निराकरण के बाद विशेष विद्युत न्यायालयों में दर्ज सभी प्रकरणों को समाप्त करने की कार्यवाही शुरू की जाएगी। पहले के वर्षो से जारी समाधान योजना में लाभ ले चुके घरेलू उपभोक्ता पात्रता के अनुसार इस स्कीम में फिर लाभ ले सकेंगे। बोकारो जिला परिसद सदस्य सह जेएमएम युवा नेता By embedding Twitter content in your website or app, you are agreeing to the Twitter Developer Agreement and Developer Policy. पहले बिजली बढ़ाए पावर कॉरपोरेशन, फिर कीमत Gadgets इंगेजमेंट रिंग पहनकर प्रियंका चोपड़ा ने किया बॉयफ्रेंड निक के साथ शानदार डिनर, देखिए तस्वीरें लोगों के मन में अक्सर कुछ सवाल होते हैं। जैसे की-योजना के उद्देश्य,विशेषताएँ,अपेक्षित परिणाम,कार्यान्वयन रणनीति आदि जिसके बारे में विस्तृत जानकारी यहाँ दी जा रही है। कैरियर / कोर्सेज English English बिजली के इन उपकरणों की देख-रेख 5 सालों तक सरकार अपने खर्च पर करवाएगी।  सुनील ग्रोवर पीपुलनया मौत को सामने खड़ा देखा था, तब अटल बिहारी वाजपेयी ने लिखी थी ये कविता पिथौरागढ़ Related Links मुरादाबाद Dharmender Chaudhary [Updated:31 Jan 2016, 8:02 AM IST] जिले का मानचित्र हाईटेंशन स्पेशल सर्विस  4.00  4.00 लाइव सिटीज डेस्क (रंजन सिन्हा) : आज लाखों लोगों के दिल में बसने वाले रवि किशन का जन्मदिन है. वे आज भोजपुरी फिल्मों के महानायक है. यही नही हिंदी, दक्षिण भाषाई फिल्मों सहित अन्य भाषाई […] saubhagya yojnaNarendra ModiElectricityindiaसौभाग्य योजना पुरुषों में चीज़ें चेक करने और महिलाओं में जमा करने की होती है आदत: शोध योर मनीः छात्रों के लिए बचत और निवेश के टिप्स ताजा ओपिनियन अनुस्मारक हिन्दी न्यूज़ |News|मराठी|বাংলা |ગુજરાતી|ಕನ್ನಡ|தமிழ்|తెలుగు|മലയാള 404 : Page Not Found केरल: बाढ़-बारिश से 9 दिन में 324 लोगों की मौत, 2 लाख से ज्यादा राहत शिविरों में; मोदी करेंगे हवाई सर्वे 12 mins BARMEN TODAY: A CONTEMPORARY CONTEMPLATIVE DECLARATION मुझे शिकायत है.. राज्य सरकार की नीति में उल्लेख नहीं था कि योजनाओं को नदियों का पानी प्रयोग करने के बाद कितना नीचे की धारा में छोड़ना चाहिए। पानी सुरंगों में डालने तथा प्रयोग करने के बाद नीचे नदी की पुरानी घाटी में बहाव कितना रहेगा ? पाँच योजनाओं की जाँच करने के बाद देखा गया कि नदियों की सुरंगों के समाप्त होने के बाद निचले भागों में पानी नहीं था और वे बिलकुल सूखे पड़े थे। कहीं कुछ बूदें रिसती दिखाई दे रही थीं। जो वातावरण को बनाए रखने लायक नहीं थी। नदियों से रिसकर जो पानी भूमितल में जमा होता था वह भी समाप्ति पर था। बिना सोचे-समझे राज्य सरकार नदियों पर जो अंधाधुंध जल-विद्युत योजनाएं बना रही थी उनका मिला-जुला नतीजा वातावरण के लिए घातक था। अभी 42 जल-विद्युत परियोजनाएं कार्य कर रही थीं, 203 और या तो बन रही थीं या तैयारी में थी। बहुत सारी अन्य विचाराधीन थी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल का कहना है कि हरियाणा में पहली बार बिजली कंपनियां लाभ में आई हैं। उनके लाइनलॉस भी कम हुए हैं। हम अब प्रदेश की जनता को सस्ती बिजली देंगे। इसकी घोषणा करने से पहले मैंने बिजली कंपनियों से कहा है कि वे उत्पादन प्रभावित न होने दें। इसके लिए यदि कोयले की जरूरत है तो आवश्यक प्रबंध और बातचीत करें। हम नहीं चाहते कि बिजली सस्ती करने की घोषणा कर दें और समुचित आपूर्ति न कर पाएं। हमारी सरकार बिजली भी सस्ती देगी और आपूर्ति भी पूरी देगी। प्रकाशित Tue, 31, 2013 पर 19:07  |  स्रोत : CNBC-Awaaz TRENDING TOPICS सौभाग्य योजना – सहज बिजली हर घर योजना उत्तर प्रदेश मुफ्त बिजली कनेक्शन » सभी धनबाद नगर निगम की जनता को हार्दिक शुभकामना स्थानांतरण योजना फिरोजाबाद के लोहामंडी इलाके में तनाव, ये है वजह 22 Views Powered by Gadgets Updates Hindi | Designed by Gadgets Updates Team Home Home Home, current page. समन्वित पोषक तत्व प्रबंधन एवं उर्वरकों का संतुलित व समन्वित उपयोग कार्यक्रम (आई. एन. एम. ) आन्ध्र प्रदेश तुला Create Password to secure your account and login faster next time महाभारत 2019: 7 में से 5 सांसदों से दिल्ली की जनता नाराज, सीलिंग सबसे बड़ा फैक्टर 25 mins टेस्ला के शेयर में 9% गिरावट, शॉर्ट-सेलर्स ने कमाए 7000 करोड़ रुपए; इलोन मस्क के इंटरव्यू के बाद टूटा शेयर 57 mins जवाब – नहीं, किसी भी श्रेणी के उपभोक्ताओं को मुफ्त में बिजली प्रदान करने के लिए इस योजना में कोई प्रावधान नहीं है। उपयोग की गयी बिजली की लागत का भुगतान संबंधित उपभोक्ताओं को डिस्कॉम / बिजली विभाग द्वारा तय की गयी यूनिट के आधार पर करना होगा। एमटी परीक्षण प्रयोगशाला बिलासपुर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल Publish on March 22, 2018 रुद्रप्रयाग समाज(युवा समिति)के राष्ट्रीय संयोजक, आदिवासी मुंडा समाज के सदस्य तथा भाजपा अनुसूचित जन जाति मोर्चा क बूढ़ा निवासी पंकज पाटीदार की धर्म पत्नी सपना पाटीदार की करंट लगने से आकस्मिक मृत्यु Marathi News राज्य में 246 गांव हुए रोशन सोलहवां सवाल –  किस तरह से, यह योजना आर्थिक विकास और रोजगार सृजन की सुविधा प्रदान करेगी? Hindi News Business Business News In Hindi Power Companies Without Wilful Defaulter Tag Can’t Be Taken To Nclt दिल्ली इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन (DERC) ने गर्मी शुरू होते ही राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बिजली के फिक्स चार्ज में 2.5 से लेकर 6.5 गुना तक का इजाफा किया है. हालांकि बिजली की कीमतों में प्रति यूनिट की दर  से कटौती की है. DERC ने 2 किलोवाट लोड वाले घरों में बिजली के फिक्स चार्ज को 20 रुपये से बढ़ाकर 125 रुपये कर दिया है.   ⁄  Free Electricity scheme Saubhagya Yojana begins in Dehradun दिल्ली में इस कार की कीमत 5लाख 90 हज़ार रुपये (11000 डॉलर) रखी गई है. भारत में पेश किए जाने के बाद इस कार को अगले साल से अफ़्रीका और यूरोप के बाज़ारों में उपलब्ध होगी. - प्रत्यय अमृत, प्रधान सचिव, ऊर्जा विभाग  रत्न अस्पताल Kannada All content © The Wire, unless otherwise noted or attributed. उप प्रमुख, बेंगाबाद नोहर तहसील मे सीरगसर पचायत मे खबै रोप दीए ओर लोगो नै डीमान्ड भी भर दी पर लाईट नही दे रहे 10 महीनै हो गए लौग ईसका वीरोध करेगै कुछ समय मै लाईट नही दी गई तौ किसान एकता जीन्दावाद Lal salam 81XXX81 यहा के ठैकैदार ओर अधीकारी बहुत लापर वाह है 10 लोकप्रिय श्रेणियों अटल ने आडवाणी से मतभेदों पर लखनऊ में दी थी सफाई, कही थी ये बातें Policies Comment परियोजनाओं को अनुमति देने की प्रक्रिया शीघ्र ही प्रारम्‍भ होगी। अनुमति मिलने के बाद परियोजनाओं को पूरा करने के लिए राज्‍यों की वितरण कंपनियों और वितरण विभाग को ठेके दिए जाएंगे। ठेके देने की अवधि से 24 महीने के भीतर परियोजनाओं को पूरी किया जाना चाहिए। 2 जुलाई 2018 नरेगा के संगठन (*On an order value between Rs. 10, 000 and Rs. 14,999) Deshbandhu करना चाहेंगे इसकी सवारी? Show — मुख्य नेविगेशन Hide — मुख्य नेविगेशन केरल में बारीश का कहर जारी, मरने वालों की संख्या हुई 39 Sat Aug 18 2018 00:25:24 GMT-0500 (Central Daylight Time) 9. विक्रम भट्ट की हॉरर फिल्म के दौरान कैमरे में कैद हुआ भूत, तस्वीरें देखकर उड़ जाएंगे होश बिजली कंपनी ने 12 लाख यूनिट के फर्जी बिल वसूल लिए अन्य देश बेगूसराय में फांसी पर झूला युवक, वीडियो फेसबुक पर लाइव हो रहा था भारत में लॉन्च हुआ लग्जरी कार से भी महंगा क्रूज़र मोटरसाइकिल अमेरिका लैपटॉप - कंप्यूटर डीडीएसआई -168-ए प्रीपेमेंट मोड चयन के साथ एक एंट्री लेवल कम कीमत एकल चरण इलेक्ट्रिक मीटर है। यह बिल्ड-इन कॉन्टैक्टर या लोड स्विच है जो बिजली थ्रेशहोल्ड, क्रेडिट की समाप्ति और छेड़छाड़ की पूर्व निर्धारित सीमा पर डिस्कनेक्ट करता है। मीटर कम आय आवासीय वातावरण के लिए है। कम कीमत के रूप में, मीटर अभी भी सुविधाओं में अमीर है, द्वि-दिशात्मक और तटस्थ माप का समर्थन, बहु दर और टैरिफ योजनाओं, और एक इंफ्रारेड ऑप्टिकल पोर्ट के माध्यम से पूछताछ किट के साथ डेटा विनिमय। PIB / PRS एलसीडी डिस्प्ले एकल चरण इलेक्ट्रिक मीटर, छेड़छाड़ प्रूफ प्रीपेड पावर मीटर वीडियो उस समय सीएसपीडीसीएल 28वें स्थान पर था। ताजा रिपोर्ट में 31वां रैंक दिया गया है। दोनों ही रिपोर्ट में कंपनी को बी ग्रेड दिया गया है। कंपनी को 100 में से 35 से 50 के बीच अंक मिले हैं। यानी कंपनी का परिचालन (ऑपरेशनल) और वित्तीय प्रदर्शन औसत से नीचे है। 15 शहरों में रिलांयस-बीपी करेगा घरों में गैस का वितरण, लाइसेंस लेने के लिए लगाई बोली # News आजमगढ़ FROPKY NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 10:43 AM Punjab केंद्रीय महासचिव बड़कागांव विधानसभा प्रत्याशी, निवेदक संदीप कुशवाहा केंद्रीय सदस्य एवं आजसू पार्टी क इस तारीख को जिओ फ़ोन 2 की अगला फ़्लैश सेल, तैयार रहे केरल बाढ़: पीएम मोदी ने CM संग ली समीक्षा बैठक, 500 करोड़ रुपये की मदद का ऐलान Bihar स्कीम की सबसे बड़ी खासियत यह है कि न्यायालयीन अथवा चोरी के प्रकरणों के अलावा पूर्व में समाधान योजना का लाभ ले चुके उपभोक्ता भी पात्र होंगे। इसके अलावा यदि पंजीकृत श्रमिक के पास घरेलू बिजली कनेक्शन नहीं है तो उसे भी फ्री में कनेक्शन दिया जायेगा तथा कोई सुरक्षा-निधि नहीं ली जायेगी। एक जुलाई से लागू स्कीम में पंजीकृत श्रमिक और बीपीएल उपभोक्ताओं के 30 जून 2018 की स्थिति के बकाया लगभग 5200 करोड़ के घरेलू बिल माफ कर दिये गये हैं। इसका सीधा लाभ 77 लाख उपभोक्ताओं को मिला है। इसमें बीपीएल श्रेणी के उपभोक्ता भी शामिल है। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा, ‘‘बिजली विभाग की ओर से प्रस्ताव था कि घाटे को कैसे पूरा किया जाए...ये बहुत मामूली बढ़ोतरी हुई है और धीरे-धीरे घाटे की भरपायी होगी. हम चोरी पर भी सख्ती से कार्वाई कर रहे हैं.’’ Email मौत को सामने खड़ा देखा था, तब अटल बिहारी वाजपेयी ने लिखी थी ये कविता प्रद्युम्न हत्या मामला: खून से लथपथ गर्दन पर हाथ रखें टॉयलेट से बाहर रेंगते हुए आया था प्रद्युम्न डीएओ और आईसीओ पर सीईसी के नियम, समझाया #Nutritiousfoods: थाइरॉइड हॉर्मोन को नियंत्रित करता है Iodine, जानें इसके फायदे VIDEO: एनकाउंटर से भाग निकले तीन आतंकी, जवान हुआ शहीद मुख्य सामग्री पर जाएं बिजली की लागत - विद्युत प्रदाता स्विच करें बिजली की लागत - ऊर्जा कंपनियां बिजली की लागत - विद्युत कंपनियां
Legal | Sitemap