बाल स्वास्थ्य आर्काइव Facebook 200 से अधिक 4.50          वाद-प्रतिवाद-संवाद तापमान सीमा संचालित करना Čeština दुमका उच्‍च धारा लघु पथन परीक्षण सुविधा शेयर बाज़ार प्रीलिम्स फैक्ट्स Nov 29, 2017 11:47 PM दुनिया Sheikhpura कृषि एवं सिंचाई 1  5.79 4.29 1.50 4.07 1.50 कार्य में तेजी लाने के लिए निर्देश दिए जा रहे हैं अर्थव्यवस्था ख़बरें अब तक प्रमाणन: CE/SABS/IEC ड्यूल रियर कैमरे और बड़ी डिस्प्ले के साथ लांच हुअा यह मिड-रेंज... केरल : बाढ़ बारिश से 9 दिनों में 324 लोगों की... प्रशासनिक सेटअप Aksharparv BREAKING NEWS हाईटेंशन स्पेशल सर्विस  4.00  4.00 खोज करें बड़ी खबर 9 घरेलू (शहरी) (डीएस थ्री)  4.00  5.50 CONTACT US. PRIVACY POLICY. LEGAL DISCLAIMER. COMPLAINT. AUTHORS. INVESTOR INFO. CAREERS. WHERE TO WATCH तमिलनाडु हिमाचल में दो जगह बादल फटा, 5 पुल और 8 घराट बहे Read More: Lakhisarai Bihar Hindi News Jagran Newsविद्युत योजनासात हजारग्रामीण उपभोक्ता Leaders मैनुअल-5 & 6 जीवन मंत्र Français नई दिल्ली, 30 मार्च 2018, अपडेटेड 11:28 IST म.प्र नाबालिग से दुष्‍कर्म पर फांसी का प्रावधान करने वाला प्रथम राज्‍य -राज्यपाल, राष्‍ट्रपति पदक प्राप्‍त पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों से भेंट 16/08/2018 अब तक के 71 और आने वाले अनगिनत वर्षों के लिये स्वतंत्रता दिवस की ढेर सारी शुभकामनाएं, हर्षोल्लास के साथ मनाया गया 71वा स्वतंत्रता दिवस, चारों ओर राष्ट्रभक्ति के बिखरे रंग, उज्जैन में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन फहराया राष्ट्रध्वज Live Hindi News भारत के बारे में Q to Z UPSC English www.bhaskar.com से अधिक समाचार 0% टैक्स मोहन भागवत बोले- 'अटल चले गए विश्वास नहीं हो रहा' HPSC इसके साथ ही ग्रामीण इलाकों में बिजली की दरों में लगभग दोगुनी वृद्धि की गई है. ग्रामीण उपभोक्ताओं को अब 100 यूनिट तक 3.0 रुपये प्रति यूनिट, 100 से 150 यूनिट तक 3.50 रुपये प्रति यूनिट और 150 से 300 यूनिट के लिए 4.50 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से भुगतान करना होगा. जर्मन और चीनी पैसिव हाउस. ये एक कारखाने का मॉडल है जो चीन के हार्बिन में पैसिव हाउस स्टैंडर्ड के हिसाब से बनाया जा रहा है. चीनी कंपनी सायास इन मकानों के लिए खिड़कियां बनाना शुरू कर चुकी हैं और इस तरह के मकान बनाने वाली पहली चीनी कंपनी है. स्वर कोकिला लता मंगेशकर ने अटल जी की कविता 'मौत से ठन गई' गाकर दी श्रद्धांजलि तेलंगाना युवा नेता सह समाजसेवी जुगसलाई विधानसभा झारखंड मुक्ति मोर्चा भारत3 मिनट अगर पीएफ खाते में आपका नाम, उम्र आधार से अलग है तो ऐसे करें सुधार More From News CONNECT परीक्षा भवन में किन बातों का रखें ध्यान सार्वजनिक उपयोगिताएँ जनसत्ता विशेष प्रधानमंत्री ने जुलाई 2015 में 24 लाख लोगों को पहले चरण में प्रशिक्षित करने के कदम के साथ इस योजना की शुरुआत की थी. हालांकि भूमिका और जिम्मेदारियों को लेकर हुई गड़बड़ी ने इस योजना को परवान नहीं चढ़ने दिया और राजीव प्रताप रुडी के हाथ से मंत्रालय निकल गया. उन्हें पिछले सितंबर में कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था. और सूचना ओके ऊर्जा सुधारों ने विश्व में पहचान दिलाई बिजली के इन उपकरणों की देख-रेख 5 सालों तक सरकार अपने खर्च पर करवाएगी।  Copyright © Humara Mandsaur. All rights reserved. | CoverNews by AF themes. जवाब – नहीं, किसी भी श्रेणी के उपभोक्ताओं को मुफ्त में बिजली प्रदान करने के लिए इस योजना में कोई प्रावधान नहीं है। उपयोग की गयी बिजली की लागत का भुगतान संबंधित उपभोक्ताओं को डिस्कॉम / बिजली विभाग द्वारा तय की गयी यूनिट के आधार पर करना होगा। प्रश्नपत्र III व्यावसायिक कनेक्शन के दाम 5.97 रुपये से घटाकर 5.83 रुपये प्रति यूनिट कर दिए गए हैं. फोरलेन प्रभावितों ने डीसी को सुनाई दो टूक,... मीन राशि वालों आज आप संघर्ष एवं कार्य शक्ति से अपने कार्यों को पूरा करेंगे। आज आपकी अर्थव्यवस्था......Read more रघुनाथ टुडु जुर्म नागौर English English केरल बाढ़:खराब मौसम के चलते नहीं हो पाया कोच्चि में पीएम का हवाई सर्वे Lucknow © 2018 Patrika Group प्रदेस महासचिव युवा काँग्रेस सह अध्यक्ष युवा लायंस फोर्स हॉलीवुड अयोध्या विवाद : सुप्रीम कोर्ट से ही तय होगा राम मंदिर का भविष्य जिंदा चूहे के शरीर पर उगा पौधा, देखने वालों को नहीं हो रहा यकीन स्कीम की सबसे बड़ी खासियत यह है कि न्यायालयीन अथवा चोरी के प्रकरणों के अलावा पूर्व में समाधान योजना का लाभ ले चुके उपभोक्ता भी पात्र होंगे। इसके अलावा यदि पंजीकृत श्रमिक के पास घरेलू बिजली कनेक्शन नहीं है तो उसे भी फ्री में कनेक्शन दिया जायेगा तथा कोई सुरक्षा-निधि नहीं ली जायेगी। एक जुलाई से लागू स्कीम में पंजीकृत श्रमिक और बीपीएल उपभोक्ताओं के 30 जून 2018 की स्थिति के बकाया लगभग 5200 करोड़ के घरेलू बिल माफ कर दिये गये हैं। इसका सीधा लाभ 77 लाख उपभोक्ताओं को मिला है। इसमें बीपीएल श्रेणी के उपभोक्ता भी शामिल है। एटक नेता सिंदरी मुख्यमंत्री कार्यालय, हरियाणा खगड़िया ट्रेन्डिंग कृषि एवं सिंचाई 1  5.79 4.29 1.50 4.07 1.50 Home उत्तर प्रदेश दिल्ली में 50% सस्ती हुई बिजली By Prabhat Khabar | Updated Date: Apr 1 2017 9:07AM @AamAadmiParty @NarenderModiv why doing pc,jagran ur govt take acton stop politics. Published 08-Aug-2018 23:56 IST | Updated 23:59 IST 97 वहीं, इन प्रतिक्रियाओं का जवाब देते हुए बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने कहा कि पिछली सरकार ने विधानसभा चुनाव के मद्देनजर दरें संशोधित नहीं की, इसलिए मौजूदा सरकार को ऐसा करना पड़ रहा है. Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen. भारत में न्‍यूक्लियर एनर्जी की धीमी रफ्तार की मुख्‍य वजह विदेशी रिएक्‍टर निर्माता कंपनियों की कम रुचि है। यह कंपनियां उस कानून का विरोध कर रही हैं, जो किसी दुर्घटना के समय मैन्‍यूफैक्‍चरर्स को जिम्‍मेदार ठहराता है। सितंबर 2015 में जनरल इलेक्ट्रिक ने लायबिलटी कानून की अनिश्‍चितता के चलते भारत के न्‍यूक्लियर एनर्जी सेक्‍टर में निवेश न करने का फैसला लिया। जनरल इलेक्ट्रिक के सीईओ जेफ इमेल्‍ट ने कहा था कि दुनिया में एक स्‍थापित एक लायबिलटी व्‍यवस्‍था है, इसे स्‍वीकार्यता मिली है और इसे अपनाया गया है। मैं अपनी कंपनी को जोखिम में नहीं डाल सकता। भारत लायबिलटी पर दोबारा नयिम नहीं बना सकता। Bengali বাংলা cricket1 day ago धर्म-अध्‍यात्‍म January 2018 Best Ceiling Fans in India चर्चा में क्यों? Rajasthan Scheme Haiti 40404 Digicel, Voila ← पिछला पेज 469 Views विधानसभा में विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता ने केजरीवाल सरकार पर आरोप लगाया है कि बिजली वितरण कंपनियों से सरकार की मिलीभगत के कारण बिजली उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली नहीं मिल पा रही है। एवरेज रीडिंग पर दिया बिल, बिजली कंपनी को देना होगा जुर्माना पीक आवर्स में एनर्जी चार्ज 5% बढ़ाया Arabic العربية सीवान 1800-121-6260 नगर में 13500 उपभोक्ता है। इन पर दो करोड़ रुपए का बिल बनता है। हर बार 90 फीसदी लोग आखिरी तारीख तक बिल जमा कर देते हैं। इस बार 5 हजार लोगों ने ही बिल जमा किए। बाकी माफी के चक्कर में नहीं आए। बिल जमा करने वालों में कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो सस्ती बिजली और माफी की पात्रता रखते हैं लेकिन जानकारी नहीं होने से अथवा कनेक्शन कटने के डर से उन्होंने बिल जमा कर दिया है। अब वे पंजीयन करवाते हैं तो उन्हें जमा की राशि अगले बिल में समायोजित होकर वापस मिलेगी अथवा नहीं यह स्पष्ट नहीं है। एई नवीन ढोले ने बताया जिन्होंने राशि जमा करवा दी है, उन्हें वापस मिलेगी या समायोजन होगा, यह स्पष्ट नहीं है। पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में योगी ने खेला बड़ा दांव Landeskunde सुपौल: एक बार फिर बीरपुर मे गोलियों की तऱतराहट से सदमें मे है शहरवासी – पुलिस कर रही है छानबीन !! न्यूज वीडियो Romanian Română इस पोस्ट को शेयर करें Facebook 150 यूनिट-- रु.4.40--4.90 भारतीय जनता युवा मोर्चा - जिला मीडिया प्रभारी news18 hindi तथ्य तथा आंकडे जानिए कौन है निहारिका, जिन्होंने आखिरी वक्त तक की वाजपेयी की सेवा Hindustantimes Punjabi उन्होंने बताया कि जिन इकाइयों को उद्यम प्रोत्साहन नीति 2015 की अधिसूचना अर्थात 15 अगस्त,2015 को या उसके बाद बिजली कनेक्शन जारी किया गया है, वे 14 अगस्त, 2020 तक पावर टैरिफ सब्सिडी के लिए पात्र होंगी। उन्होंने कहा कि ‘सी’ और ‘डी’ श्रेणी खंडों में स्थापित ऐसे सूक्ष्म एवं लघु उद्योग इस योजना के लिए पात्र होंगे, जिन्होंने पोर्टल https://udyogadhaar.gov.in पर संबंधित जिला उद्योग केंद्र के साथ उद्योग आधार ज्ञापन (यूएएम) फाईल किया है। Electricity Bill खाद्य और सार्वजनिक वितरण कुरुक्षेत्र एच ई आर सी रेखा देवी मेट्रो से और Submit your news सामान्य परिचय | 'दृष्टि द विज़न' संस्थान का परिचय | दृष्टि पब्लिकेशन्स | दृष्टि मीडिया | प्रबंध निदेशक | टीम दृष्टि | इंफ्रास्ट्रक्चर विद्युत के प्रधान क्षेत्र एशियाई खेल 2018 वाजपेयी को संघी और फासिस्ट बताने वाले प्रोफेसर पर हमला, अस्पताल में भर्ती होरोस्कोप उत्पादों Who's Online : 1 नालंदा : खास खबर – रहने के लिहाज़ से पटना से आगे निकला बिहारशरीफ। 27 जुलाई 2018 हल्द्वानी सगाई के ठीक 1 दिन बाद बाद प्रियंका और निक का होगा रोका, पूरी जानकारी हुई लीक जीवन की सच्चाई इस्तेमाल की शर्तें Search Share On Facebook फरीदाबाद संगठन चार्ट जीएसटी के तहत चार टैक्स स्लैब बनाए गए हैं. ये टैक्स स्लैब हैं- 5%, 12%, 18% और 28%. ज़्यादातर वस्तुओं को 12 फ़ीसदी और 18 फ़ीसदी टैक्स के दायरे में रखा गया है. The total outlay of the project is Rs. 16, 320 crore while the Gross Budgetary Support (GBS) is Rs. 12,320 crore. The outlay for the rural households is Rs. 14,025 crore while the GBS is Rs. 10,587.50 crore. For the urban households the outlay is Rs. 2,295 crore while GBS is Rs. 1,732.50 crore. The Government of India will provide largely funds for the Scheme to all States/UTs. The States and Union Territories are required to complete the works of household electrification by the 31st of December 2018. श्याम किशोर सिंह Retweeted आवेदन करें जवाब – दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना (DDUGJY) ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति की गुणवत्ता और विश्वसनीयता में सुधार करने के लिए चल रहे फिडर / वितरण ट्रांसफार्मर / उपभोक्ताओं के वर्तमान बुनियादी ढांचे को मज़बूत बनाने और वृद्धि के लिए गांवों / बस्तियों में बुनियादी बिजली ढांचे का सृजन करती है। इसके अलावा, बीपीएल परिवारों को अंतिम छोर तक मुफ्त बिजली कनेक्शन भी प्रदान किए जाते हैं जो कि BPL सूची के अनुसार राज्यों द्वारा पहचाने जाते हैं। हालांकि,जो गांव लंबे समय से विद्युतीकृत हैं,उनमें भी कई घरों में कई कारणों से बिजली कनेक्शन नहीं होते हैं। वास्तव में गरीब परिवारों में से कुछ के पास बीपीएल कार्ड भी नहीं है और ना ही ये परिवार सरकार द्वारा लागू प्रारंभिक कनेक्शन शुल्क देने में सक्षम हैं। अनपढ़ लोगों में कनेक्शन या कनेक्शन लेने के बारे में जागरूकता की भी कमी है। आस-पास बिजली का पोल नहीं है और अतिरिक्त पोल लगाने की लागत ज्यादा है, कनेक्शन प्राप्त करने के लिएकंडक्टर को  घरों से भी लगाया जा सकता है। दाड़नू में 180 मीटर केबल चोरी, 8 हजार का नुक्सान, 20 टैलीफोन बंद Sunit Dixit‏ @sunitdixit 18 Aug 2015 योजना की अवधि अगले दो वर्षों के लिए योजना का बजट 17,000 करोड़ रु है। Croatian Hrvatski देखिये जरूर 12:48 AM - 18 Aug 2015 विद्युत के प्रधान क्षेत्र ईंधन विश्‍लेषण प्रयोगशाला चालू लाइन शिकायत बॉर्डर एरिया के गावों में आबकारी पुलिस के छापे, शराब जब्त और लाहण नष्ट Hrvatski June 1, 2018 मुख्य परीक्षा में उत्तर कैसे लिखें? @AamAadmiParty This exposure must reach in all parts of country, corrupt faces of cong & BJP must be unveiled, सस्ता ऊर्जा - उपयोगिता कंपनी सस्ता ऊर्जा - इलेक्ट्रिक प्रदाता खोजें सस्ता ऊर्जा - इलेक्ट्रिक चॉइस
Legal | Sitemap