The Wire is published by the Foundation for Independent Journalism, a not-for-profit company registered under Section 8 of the Company Act, 2013. Who's Online : 1 (लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) टेक कम्पैरिजन उदय डैशबोर्ड बिजली कंपनी अगले महीने से लागू करेगी बीपीएल उपभोक्ताओं के बिजली बिल माफ करने वाली योजना Your email address will not be published. बाल स्वास्थ्य केरल में प्रलंयकारी बाढ़: अबतक 324 लोगों की मौत, भारी बारिश की चेतावनी व्यावसायिक (शहरी)    (एनडीएस टू)  6.00  6.00 इस वित्त वर्ष में देश की आर्थिक वृद्धि दर 7.2 फीसदी रहने का अनुमान:... opinion एसीआर फॉर्म क्रिकेट ये खबरें पढ़ीं क्‍या ? अंतरराष्ट्रीय डिप्टी मेयर, चास नगर निगम NRC पर मायावती ने किया कहा, तुरंत यह काम करें मोदी सरकार दंगों में भाजपा दूध की धुली है तो प्रकाश कमेटी रिपोर्ट को कूड़ेदान में क्यों डाल दिया : भूपेंद्र सिंह हुड्डा और सूचना ओके June 14, 2018 मध्य प्रदेश पी.सी.एस. @AamAadmiParty @NarenderModiv why doing pc,jagran ur govt take acton stop politics. केंद्र की नई पावर पॉलिसी उपभोक्ताओं को देगी सस्ती बिजली का तोहफा वार्ड पार्षद - 53 धनबाद नगर निगम दुनिया की सबसे बड़ी बिजली कंपनी ईडीएफ द्वारा छह न्‍यूक्लियर प्‍लांट्स का समझौता करने के बाद भारत में परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम फि‍र शुरू होगा। HOME Don't have an account? Sign up » भारत में खुला आइकिया का पहला स्टोर 248 करोड़ बढ़ी सब्सिडी  लेकिन वे ओपन एक्सेस से सस्ती बिजली खरीद लेते हैं तो बिजली कंपनियों पर आर्थिक बोझ पड़ता है। जिसकी वजह से उन्हें अपनी सरप्लस बिजली कम दाम में बेचकर घाटा उठाना पड़ता है। आयोग ने ये याचिका सुनवाई के लिए मंजूर कर ली है और उस पर 17 जनवरी तक उपभोक्ताओं की आपत्तियां मंगाई है। बड़कागाँव विधायक प्रतिनिधि उ.वो.परीक्षण तथा मापन उपस्‍कर FROM WEBTake a step closer towards your [email protected]$ 150 p.m#HappyEMIsAd: Godrej EmeraldNRI's Booked Home at Shapoorji Pune at Rs 45,000Ad: Joyville by Shapoorji PallonjiExplore endless entertainment for $15/mo.Ad: SLING INTERNATIONALFROM NAVBHARAT TIMESराहुल गांधी और इस लड़की की जोड़ी का सच क्या है?ITR: ये हैं आमदनी के 5 स्रोतस्तन के नौ प्रकारFrom The Web दिल्ली में जो उपभोक्ता हर महीने 400 यूनिट से कम इस्तेमाल करते हैं उन्हें बिजली के बिल पर 50 फीसदी कम खर्च करना होगा. उत्तर काशी इस पोस्ट को शेयर करें Twitter किताबों की दुनिया हमसे कड़ी जोड़े कीमत- 5.9 लाख रुपये शनिदेव की कृपा पाने के लिए शनिवार को काली गाय को खिलाएं बूंदी के लड्डू, करियर में मिल सकती है सफलता 20 mins इस पोस्ट को शेयर करें Messenger Cookies Policy हाई टेंशन टॉवर By Prabhat Khabar | Updated Date: Feb 16 2018 9:06AM भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन हेतु मध्यरात्रि पट खुले पंद्रहवां सवाल –  किस तरह से, यह योजना दैनिक जीवन में लोगों के लिए उपयोगी होगी? प्रत्येक जेई को कनेक्शन काटने का मिला लक्ष्य 90 फीसदी ग्रामीण परिवारों के पास मोबाइल पर कर्ज में आधे परिवार: नाबार्ड सर्वे July 22, 2018 繁體中文 बिजली कनेक्शन के लिये 2011 की सामाजिक, आर्थिक और जातीय जनगणना को आधार माना जाएगा। 09:42 #AtaljiAmarRahen प्रधानमंत्री बनने के बाद क्यों फूट-फूट कर रोये थे अटल बिहारी वाजपेयी? वित्तीय समावेशन को मापने वाला ग्लोबल फाइंडेक्स डेटाबेस 2017 और वर्ल्ड बैंक की ओर से जारी फिनटेक रिवॉल्यूशन के मुताबिक, ‘दुनिया भर में 13 फीसदी वयस्क और 20 फीसदी खाताधारियों के पास निष्क्रिय खाता है जिसमें पिछले 12 महीने से कोई पैसा न जमा किया जा रहा है और न ही निकाला जा रहा है और न ही किसी डिजिटल तरीके से ही उसमें कोई लेन-देन हो रहा है.’ मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) #Ind Vs Eng News From Indian States लेटेस्ट न्यूज़ चित्तौड़गढ़ उक्त अधिकारी के मुताबिक निजी बिजली कंपनियों को काफी समय से शिकायत है कि उनको सस्ती दरों पर कर्ज़ नहीं मिल पाता है। इन सब समस्याओं को दूर करने के लिए मंत्रालय ने राज्य में काम कर रही बिजली कंपनियों और वहां काम करने की इच्छुक बिजली कंपनियों को बैठक के लिए बुलाया है। सूत्रों के मुताबिक राज्य में बिजली कंपनियों को कर्ज की सुविधा देने के लिए मंत्रालय के अधिकारी पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन (पीएफसी) और रूरल इलेक्ट्रिफिकेशन लिमिटेड (आरईसी) के अधिकारियों को भी साथ लेकर जा रहे हैं।(स्रोत-दैनिक भास्कर) YOUTUBE Seohar ज्यादा पठित छपरा में देंगे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार देश का सबसे लंबा… सिरफिरे ने ऑफिसर कालोनी में युवती को चाकू से गोदा, मोबाइल लेकर हुआ... Looks like you have taken a wrong turn..... life1 day ago Hindi News »Madhya Pradesh »Neemuch» 1.25 लाख उपभोक्ताओं को मिलेगी सस्ती बिजली दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय इन सब के बावजूद देश को एक ऊर्जा तंत्र की आवश्यकता है, जो निष्पक्षता, दक्षता और स्थिरता के सिद्धांत पर काम करने वाला हो। इस योजना के तहत 16,320 करोड़ रुपए गरीबों के जीवन में आमूलचूल परिवर्तन लाने में खर्च किये जाएंगे। जिस गाँव में अब तक बिजली नहीं पहुँची है, वहाँ तय समय से पहले दिसंबर 2017 तक बिजली पहुँचा दी जाएगी। July 31, 2018 कैग ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि उत्तराखंड सरकार की महत्वाकांक्षी योजना थी कि वह अपनी जलशक्ति का उपयोग तथा विकास सरकारी तथा निजी क्षेत्र के सहयोग से करेगा। राज्य की जल-विद्युत बनाने की नीति अक्टूबर 2002 को बनी। उसका मुख्य उद्देश्य था राज्य को ऊर्जा प्रदेश बनाया जाय और उसकी बनाई बिजली राज्य को ही नहीं बल्कि देश के उत्तरी विद्युत वितरण केन्द्र को भी मिले। उसके निजी क्षेत्र की जल-विद्युत योजनाओं के कार्यांवयन की बांट, क्रिया तथा पर्यावरण पर प्रभाव को जाँचने तथा निरीक्षण करने के बाद पता लगा कि 48 योजनाएं जो 1993 से 2006 तक स्वीकृत की गई थीं, 15 वर्षों के बाद केवल दस प्रतिशत ही पूरी हो पाईं। उन सब की विद्युत उत्पादन क्षमता 2,423.10 मेगावाट आंकी गई थी, लेकिन मार्च 2009 तक वह केवल 418.05 मेगावाट ही हो पाईं। इसका कैग के अनुसार मुख्य कारण थे भूमि प्राप्ति में देरी, वन विभाग से समय पर आज्ञा न ले पाना तथा विद्युत उत्पादन क्षमता में लगातार बदलाव करते रहना, जिससे राज्य सरकार को आर्थिक हानि हुई। अन्य प्रमुख कारण थे, योजना संभावनाओं की अपूर्ण समीक्षा, उनके कार्यान्वयन में कमी तथा उनका सही मूल्यांकन, जिसे उत्तराखंड जल विद्युत निगम लिमिटेड को करना था, न कर पाना। प्रगति की जाँच के लिए सही मूल्यांकन पद्धति की आवश्यकता थी जो बनाने, मशीनरी तथा सामान लगने के समय में हुई त्रुटियों को जाँच करने का काम नहीं कर पाई, न ही यह निश्चित कर पाई कि वह त्रुटियाँ फिर न हों। निजी कंपनियों पर समझौते की जो शर्तें लगाई गई थीं उनका पालन भी नहीं हो पाया। Copyright © 2016 Prabhat Khabar (NPHL) Technology News नल जल योजना के बिजली बिल नहीं भरे हों तो कनेक्शन न काटें: मिश्र electricity rate ALL... ← पिछला पेज बागपत में नाव पलटने से 22 की मौत, लोगों ने सड़क पर शुरू की हिंसा उपकरण बच्चियों से रेप की घटना पर तेजस्वी का विराट प्रदर्शन, नीतीश कुमार को आई शर्म पठानकोट अमरोहा Akhilesh Shukla | Publish: Jun, 18 2018 02:18:23 PM (IST) Shahdol, Madhya Pradesh, India मीडिया कर्मी पेंशन योजना के लिए आवेदन करें India Jet Airways की बोर्ड बैठक 27 अगस्त को, जून तिमाही के नतीजों पर होगा... प्रेरक प्रसंग▼ Akshay‏ @akash_tyagi Jun 4 इलेक्ट्रिक चॉइस - ऊर्जा लागत की तुलना करें इलेक्ट्रिक चॉइस - मेरे पास बिजली उपयोगिता कंपनियां इलेक्ट्रिक चॉइस - उपयोगिता प्रदाता
Legal | Sitemap