10 झगड़े के दौरान बदमाशों ने की फायरिंग, महिला की मौत हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि इसे कब तक बाध्यकारी बनाया जाएगा. नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय की भी जिम्मेदारी संभाल रहे सिंह ने कहा, ‘‘सौर ऊर्जा क्षेत्र में विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिये हम 20,000 मेगावाट क्षमता की परियोजनाओं की नीलामी करेंगे और इसे विनिर्माण से जोड़ेंगे. यानी इसमें वहीं कंपनियां भाग ले सकेंगी जो सौर ऊर्जा से जुड़े उपकरण का विनिर्माण यहां करेंगी. इसके लिये जल्दी ही वैश्विक निविदा जारी की जाएगी.’’ उन्होंने यह भी कहा, ‘‘पवन और सौर ऊर्जा के क्षेत्र में हम नये क्षेत्रों पर ध्यान दे रहे हैं. इसके तहत तमिलनाडू और गुजरात के अपतटीय क्षेत्र में पवन ऊर्जा तथा देश के भीतर मौजूदा जलाशयों में सौर परियोजनाएं लगाने की दिशा में काम कर रहे हैं.’’ वकीलों ने हाईकोर्ट बेंच की मांग को लेकर स्थगित रखा काम जन धन खाताधारकों के लिए 15 अगस्त को बड़ी घोषणाएं .. महिन्द्रा मराज़ो के डैशबोर्ड से जुड़ी जानकारी आई सामने, जानिए बीमारियां-लक्षण एवं उपाय शराब पार्टी करते दारोगा समेत चार लोग स्कूल कैंपस से… पृष्ठ अंतिम अपडेट किया गया 08/18/2018 00:26:10 उन्होंने बताया कि 2011-12 निगम को करीब 345 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ। बोर्ड ने बिजली और ऊर्जा जम्मू कश्मीर एन.सी.ई.आर.टी. टेस्ट लघु पथन प्रयोगशाला (एससीडी) 07/02/2016 - 12:25 आईपी ​​54 326 Views mobile apps Contact us प्लांट लगानेवालों को कुल लागत का महज 25 फीसदी ही खर्च करना होगा. राज्य सरकार 45 फीसदी और केंद्र सरकार30 फीसदी अनुदान देती है.  राज्य सरकार अपने अनुदान को 45 से  बढ़ाकर 60 प्रतिशत करने पर विचार कर रही है. राज्य सरकार वैकल्पिक ऊर्जा श्रोत को बढ़ावा दे रही है. सदर अस्पताल, समाहरणालय और जिला अतिथि गृहों में सोलर रुफटाप पावर प्लांट  लगाया जा रहा है. सोलर रुफटाप पावर प्लांट  से बिजली की बचत होगी . जिसका उपयोग दूसरी जगह होगा. TEL साइट जानकारी स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर समस्त झारखंड और देशवासियो को शुभकामनाएं Television साइंस & टेक सक्सेस मंत्र: दूसरों की बातें अनसुना कर आगे बढ़ें जरूर मिलेगी सफलता मणिदीप शर्मा [Edited by: मोनिका गुप्ता] @manideepsharma3 प्रधामंत्री सौभाग्य योजना – सहज बिजली हर घर योजना सीकर IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018 लंबे समय तक हेल्दी जीवन जीना है तो अपनाएं 6 मंत्र अनुसूचित जनजाति कल्याण और पढ़ें संचला ड्रिंकिंग वाटर रंगामाटी, सिंदरी English क्रिप्टो उत्पाद का नाम: सिंगल चरण इलेक्ट्रिक प्रीपेड मीटर Latest News इतिहास में पहली बार अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 70 के निचले स्तर... कांग्रेस ने किया AAP का घेराव, बिजली कंपनियों से मिले होने का लगाया आरोप महज 3.7 सेकंड्स में 0-100 kph की स्पीड पकड़ेगी Audi की RS6 Avant... Copyright © 2017 Firstpost.com — All rights reserved. NETWORK 18 SITES वार्ड नं. 12 में समस्याओं का अंबार क्रय तथा सिविल इंजीनियरी विभाग की रिपोर्टें अंतिम अद्यतन तिथि: Aug 16, 2018 पारेषण अवलोकन टीएसपी क्षेत्र के जिलों में केवल स्थानीय लोगों को ही नौकरी, कानूनों का हवाला देकर सरकार ने जारी की नए सिरे से अधिसूचना भाजपा नेता सह पार्षद आदित्यपुर नगर निगम वार्ड संख्या 16 और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें एक जुलाई से लागू इस स्कीम का बिल अगस्त में आयेगा। घर में बल्ब, पंखा एवं टी.वी चलाने के लिए प्रारंभिक रूप से बिलिंग खपत अधिकतम 100 यूनिट रखी जायेगी। स्कीम में लाभ के लिये मुख्यमंत्री संबल योजना में पंजीकृत श्रमिकों को आवेदन-पत्र विद्युत वितरण कंपनी के निकटतम कार्यालय/कैम्प में जमा करना होगा। स्व-घोषणा आवेदन-पत्र पर इस स्कीम का लाभ दिया जायेगा। लाभ श्रम विभाग में पंजीयन की वैधता जारी रहने तक उपलब्ध होगा। यदि कोई पात्र हितग्राही विद्युत उपभोक्ता अर्थात् जिस व्यक्ति के नाम बिजली कनेक्शन है के परिवार का सदस्य है और उपभोक्ता के साथ ही रहता है, तो ऐसे कनेक्शन पर भी स्कीम का लाभ दिया जायेगा। इसके लिए उपभोक्ता का नाम परिवर्तन आवश्यक नहीं होगा, परन्तु परिवार का सदस्य उन्हीं व्यक्तियों को माना जाएगा, जिनके नाम समग्र डाटाबेस में एक परिवार के रूप में अंकित हो। यदि किसी पात्र हितग्राही के निवास स्थान का बिजली कनेक्शन उसके नाम पर न होकर किसी अन्य के नाम पर है तथा पात्र हितग्राही उसे अपने नाम करवाना चाहता है, तो विद्युत कंपनी पूरी जानकारी देते हुए सहायता और मार्गदर्शन करेगी। इस तारीख को जिओ फ़ोन 2 की अगला फ़्लैश सेल, तैयार रहे Block title सामाजिक विकास Latest Water Heater Technology in India – Review लघु सिचाई योजनाएं.. Who's Online : 1 इकोनॉमी Lifestyle Tips related story -25 डिग्री सेल्सियस से 55 डिग्री सेल्सियस वर्ल्ड बैंक के मुताबिक भारत में निष्क्रिय खातों की संख्या 48 फीसदी है जो कि पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा है. ये विकासशील देशों के औसत आंकड़े 25 फीसदी से लगभग दोगुना है. Delhipower rateDelhi Electricity RateDERCदिल्ली फोटो गैलरी इस वित्त वर्ष में देश की आर्थिक वृद्धि दर 7.2 फीसदी रहने का अनुमान:... राजस्थान में बिजली लाईन घर तक पहुंचाने के लोगों से हजारों रुपये लेते है ट्रेंडिंग टॉपिक्स धार्मिक स्थान Noida चीनी (Sugar) देऊंघाट में पहाड़ी दरकने से 3 मकानों पर मंडराया खतरा एंकर्स चैट जीवन मंत्र 0:35 nscindore Windows दिल्ली में बिजली कंपनियों का ऑडिट लगातार और हर तीसरी तिमाही में होता है। कंपनी कुल बिजली का 90-95 फीसदी हिस्सा सरकारी कंपनियों से खरीदती है। 2002-03 में 53 फीसदी की मुकाबले फिलहाल कंपनी को केवल 11 फीसदी का टीएंडडी घाटा हो रहा है। अवकाश पंचांग म. प्र. पावर ट्रांसमिशन क. लि. विशेषज्ञों का मानना है कि एक बार एलपीजी भरवाने का खर्च लगभग 600 से ऊपर आता है. इस क़ीमत पर एलपीजी लेना गरीबों के लिए कोई आसान काम नहीं है. उन्हें खाना पकाने के लिए इससे कहीं सस्ता मिट्टी का तेल और जलावन मिल जाता है. ललितपुर प्रधानाध्यापक, आदिवासी उच्च विद्यालय छपरगढा Forgot account? खो गया है आपका स्मार्टफोन तो गूगल मैप की मदद से ऐसे खोजें (*On a Minimum order value of Rs. 15,000 and above) लातेहार : दीपावली से पूर्व शहर के सभी घरों तक... बाढ़ के कहर से केरल में 300 से अधिक लोगों की मौत, केजरीवाल सरकार देगी 10 करोड़ रुपये आईसीआरए के वित्तीय प्रमुख विभोर मित्तल ने कहा है, ‘परंपरागत हाउसिंग क्षेत्र में स्थायित्व बने रहने की संभावना है जबकि किफायती हाउसिंग क्षेत्र में 2018 में अनियमितता और बढ़ सकती है.’ 10 साल में पहली बार घटाई गई बिजली की दरें जारी परामर्श - डीएसडी Cashback on offer price: 2197 अनुसूचित जाति/ जनजाति अधिकार मंच ने किया अजमेर कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन बिजली स्विच करें - बिजनेस बिजली की कीमतों की तुलना करें बिजली स्विच करें - इलेक्ट्रिक कंपनी आज बदलें बिजली स्विच करें - मेरे क्षेत्र में ऊर्जा प्रदाता
Legal | Sitemap