और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें यह पहली बार नहीं है, जब दिल्ली में बिजली के फिक्स चार्ज में बढ़ोतरी की गई है. इससे पहले भी कई बार फिक्स चार्ज में वृद्धि की जा चुकी है. वहीं, DERC ने बिजली की कीमतों में कटौती करके आम जनता को राहत देने की बात कही है, लेकिन हकीकत यह है कि यह आंकड़ों का हेरफेर ही है. इससे आमजन को कोई खास राहत नहीं मिलने वाली है. VIDEO : ओवैसी के पार्षद ने वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने का किया विरोध, भाजपा पार् लोकप्रिय श्रेणियों तमिलनाडु श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका को 3 विकटों से हराया 09:42 बुंदिया में मिला रहा था घटिया रंग जांच में गयी टीम को बनाया बंधक भीम की गदा से बना था यह कुंड, कोई नहीं नाप सका गहराई दिल्ली की जनता का आर्थिक दोहन करने के लिए बिजली कंपनियों ने डीईआरसी को पावर परचेज एडजस्टमेंट चार्जेज का तिमाही प्रतिवेदन अभी तक नहीं दिया है। दिल्ली सरकार अगर जनता का भला चाहती तो वो बिजली कंपनियों को नोटिस भेजकर डीईआरसी में प्रतिवेदन देने के लिए मजबूर कर सकती थी। सरकार ने ऐसा नहीं किया। बिजली कंपनियों ने प्रतिवेदन न देने के पीछे बहाना बनाया है कि अभी तक डीईआरसी का चेयरमैन नियुक्त नहीं हुआ है, एक सदस्य की सीट भी खाली है। डीईआरसी में सिर्फ एक ही सदस्य कार्यरत है । अब यूपी में बिजली कंपनियां किस्तों पर देंगी सस्‍ते एसी-गीजर-पंखे TWEET सहारनपुर west bengal UPSC IAS Interview में पूछा- जवाबदेही क्या होती है, जानें जवाब नई दिल्ली दिल्ली में 50% सस्ती हुई बिजली जेएमएम केंद्रीय समिति सदस्य संतोष मंडल एवं मधु रॉय 1- 100            5.60 # Cheap electricity ©cea.nic.in - केन्द्रीय विद्युत प्राधिकरण, सेवा भवन, रामाकृष्ण पुरम, सेक्टर-1, नई दिल्ली - 110 066 0 टैरिफ आर्डर समय पर। सरसों (Mustard) SOS - SAVE OUR SALMON and Protect our Southern Resident Orcas! Nainital World Theatre Day: इन सेलेब्रिटीज की गवाह रही संस्कारधानी   Apache/2.4.7 (Ubuntu) Server at duta.in Port 443 महिंद्रा रेवा कंपनी उन ग्राहकों पर नज़र है जो पहले ही एक कार रखते हैं और शहर में इस्तेमाल करने के लिए दूसरी का चाहते हैं. एक अनुमान के मुताबिक भारत में 2020 तक 60 लाख इलेक्ट्रिक कारें होंगी. अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त भविष्यवक्ता एवं वाममार्गी तांत्रिक, तंत्र सम्राट डबल गोल्ड मेडलिस्ट, स् कंज्यूमर क्यों झेले 'एक्स्ट्रा' करंट? #Monsoon लघु सिचाई योजनाएं.. By Jagran मोटिवेशन/मनोरंजन पश्चिमांचल को छोड़कर पूरे प्रदेश में घरेलू और किसानों की बिजली सस्ती हो गई है। बिजली बिल पर लगने वाले रेग्युलेटरी सरचार्ज में विद्युत नियामक आयोग ने कटौती कर दी है। VIDEO: अटल जी का पुश्तैनी घर बना खंडहर, परिजनों ने बताया ऐसा है हाल ऊना गुमला Irshaad OTHER LINKS Previous Previous post: 400 फीट ऊंचे टाॅवर से पहली बार यह विशेष तस्वीर ITR फाइलिंग में फिर किया गया बदलाव भीलवाड़ा Solar 15 अगस्त से पहले दिल्ली में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम पर ग्राउंड रिपोर्ट 2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश देसीमार्टीनी View all © 2018 Bijli Bachao. All rights reserved. फिल्म समीक्षा Google + आइए जानते हैं बिजली की दरों में बढोतरी को लेकर किन मुद्दों पर गुप्ता ने सरकार को घेरा सरकार ने निजी कंपनियों के उस हिसाब किताब को लेकर कोई पड़ताल नहीं की, जो कंपनियों ने सरकार के पास जमा कराया. हर साल कंपनियां फर्जी घाटा सरकार के सामने पेश करती हैं और सरकार चुपचाप उसे अपने पास रख लेती है, इसका मतलब है कि सरकार की मौन स्वीकृति है. अब कंपनियों ने इसी घाटे को आधार बनाकर बिजली की बढ़ी हुई दरें डीईआरसी के सामने पेश कर दी हैं. सरकार तो (सीएजी) आडिट कराने की बात करती थी, लेकिन अब उस मामले पर चुप है, केजरीवाल जी को जवाब देना चाहिए कि आखिर दिल्ली वालों को सस्ती बिजली के सपने दिखाकर बिजली महंगी करने की तैयारी क्यों की जा रही है. सरकार हर साल दो हज़ार करोड़ रुपए निजी बिजली कंपनियों को सब्सि़डी के तौर पर दे रही है, दिल्ली की जनता की कमाई का पैसा कंपनियों को दिया जा रहा है और अब दिल्ली की जनता पर ही टैरिफ का बोझ बढाने की तैयारी हो रही है. यूएस-चीन ट्रेड वॉर से भारत को होगा फायदा, मिलेगा सस्ता तेल यह ईपीसी मोड के तहत पूरी तरह सरकारी प्रोजेक्ट हैं। इसके अलावा 9 मेगावाट के हानू और 9 के मेगावाट के दाह प्रोजेक्ट के लिए निगम द्वारा पूरी की गई निविदा प्रक्रिया के आधार पर पात्र बोलीदाता को ठेका देने की अनुमति दे दी गई है। पुग लेह 5 मेगावाट की भू-तापीय परियोजना आईपीपी मोड पर विकसित करने का भी निर्णय किया गया। प्रवक्ता ने बताया कि सबसे महत्वपूर्ण 1,856 मेगावाट क्षमता के स्वालकोट एचईपी प्रोजेक्ट के लिए बोर्ड ने जल्द विस्तृत रिपोर्ट पूरी करने और सीईए से टेक्नो Bhabua श्रीदेवी के बर्थडे पर जाह्नवी ने बचपन की फोटो शेयर कर मां को किया याद जिले की अब तक की सबसे बड़ी विद्युत प्रसारण योजना कृषि नीतियां और योजनाएं आर एवं डी परियोजनाएँ संपन्न REGISTER SIGN IN और भी देखें @AamAadmiParty Now instead of wasting time in discussion, AAP govt shud register FIR n take stern action against discoms,Sheila Dixit n co See the latest conversations about any topic instantly. By Hussain Kanchwala on January 5, 2018 बाइक बड़े बिजली उपभोक्ताओं की खपत पर रखी जाएगी नजर गुफा में बिजली 20.02.2018 थोड़ी देर बाद एक सुंदर सी जवान महिला बस में चढ़ी, उसे बहुत से लोग सीट देने को तैयार थे लेकिन वो बैठने को तैयार नहीं। Spotlight श्रीनगर New Delhi सिरमौर AAP Get Lucknow News, Breaking news headlines about Lucknow crime, Lucknow politics and live updates on local Lucknow news. Browse Navbharat Times to get all latest news in Hindi. राज्य विद्दुत युटीलीटियों की छठी एकीकृत रेटिंग प्रबंध निदेशक नौकरी/ जॉब्स Group चक्रधरपुर सीखें जरा : गोठ एप से जानिए कैसे हुनरमंद बन रही है बेटियां उपभोक्ता को किस लागत पर बिजली की आपूर्ति हो रही है  आरएसओपी फॉर्मेटों की सूची Historical Tariff सीतामढ़ी NRI's Booked Home at Shapoorji Pune at Rs 45,000 Keep yourself updated with National News. We are first to cover The National Latest News as they take place. All the upcoming National Politics News, Crime News in Hindi is available exclusively on www.punjabkesari.in . We are committed to provide you all Latest,Breaking News of Nation. VIDEO: छात्रसंघ चुनावों की हलचल शुरू, ABVP ने किया प्रदर्शन यह भारत का राष्ट्रीय पोर्टल है जिसका विकास भारत सरकार के विभिन्‍न संगठनों द्वारा दी जा रही सेवाओं और सूचनाओं की जानकारी एक ही स्‍थान पर उपलब्‍ध कराने के उद्देश्‍य से किया गया है।। यह पोर्टल राष्ट्रीय ई-शासन योजना के अंतर्गत एक मिशन मोड परियोजना है जिसका निर्माण एवं परिकल्पना राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र (एनआईसी), इलेक्‍ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय , भारत सरकार द्वारा किया गया है। Create Page Show More Teacher Resources – Lesson Plans • Ed Tech Blog • Worksheet Templates FROM WEBTake a step closer towards your [email protected]$ 150 p.m#HappyEMIsAd: Godrej EmeraldNRI's Booked Home at Shapoorji Pune at Rs 45,000Ad: Joyville by Shapoorji PallonjiCo-own grade a office, properties in India @ 9% yieldAd: PROPERTY SHAREFROM NAVBHARAT TIMESराहुल गांधी और इस लड़की की जोड़ी का सच क्या है?क्या आप पहनना चाहेंगे यह अनोखी जींस?स्तन के नौ प्रकारFrom The Web अगला पेज → #Kerala News Alerts Shine.com 26 Views सब्सक्राइब करें न्यूज़कोड का डेली न्यूज़लेटर गुजरात चुनाव: पटेलों के बीच माधव सिंह सोलंकी के शासन की याद ताजा कराएगी भाजपा 719 अवकाश पंचांग प्रदेश में सरल बिजली योजना का अब तक करीब 43 लाख हितग्राहियों को लाभ मिलना शुरू हो गया है। इस योजना के तहत पंजीकृत श्रमिकों को 200 रुपये प्रतिमाह फ्लैट रेट पर बिजली दी जा रही है। इनके बकाया बिजली बिलों को भी माफ़ किया जा रहा है। विधानसभा को देखते हुए लाई गई इस योजना को लेकर यह अंदेशा जताया जा रहा है कि बिजली वितरण कंपनियों के बजट पर प्रभाव पड़ेगा। इसका खामियाजा आम उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ेगा, बिजली की दरों में वृद्धि होगी और लोगों का बिजली बिल बढ़ जायेगा। नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच के डॉ. पीजी नाजपाडें और डॉ. एमए खान ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की गई याचिका में यह तर्क दिया गया है कि वर्ष 2003 में भी इसी तरह मुफ्त बिजली देने के खिलाफ हाईकोर्ट की शरण ली गई थी। तब कोर्ट ने तत्कालीन सरकार को 100 करोड़ रुपये चुकाने का आदेश दिया था। 71 साल पहले ऐसे मना था देश का पहला स्‍वतंत्रता... error: Content is Potected !! Do Not Re-Publish This Article on your Blog. अभ्यागत विशेषज्ञों के लिए योजना इंटीरियर डैकोरेशन कुमार ने कहा, 'कई पावर कंपनियों के कर्ज को पहले ही बैड लोन कैटेगरी में डाला जा चुका है और इस तरह के कुछ और लोन इस वर्ग में जा सकते हैं। हाईकोर्ट का फैसला बैंकों के लिए अच्छा है क्योंकि इससे उन्हें कोर्ट से बाहर लोन रिजॉल्यूशन के लिए अधिक समय मिलेगा।' आरबीआई के सर्कुलर में 180 दिनों के पीरियड के लिए 1 मार्च को रेफरेंस डेट बताया गया था। इसलिए बैंकरप्सी कोर्ट से बाहर लोन रिजॉल्यूशन के लिए बैंकों के पास अगस्त के अंत तक का समय है। अभी देश की 22 पर्सेंट इंस्टॉल्ड पावर जेनरेशन कैपेसिटी एनपीए है। रिजर्व बैंक के डेटा के मुताबिक, भारतीय बैंकों ने पावर सेक्टर को अप्रैल के अंत तक 5.19 लाख करोड़ रुपये का कर्ज दिया हुआ था। लावारिस पशुओं से मुक्त नहीं हुआ पंचकूला, चादगोठिया पहुंचे कोर्ट केबिल प्रयोगशाला वीडियो: वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने आए सीकर सांसद स्वामी अग्निवेश के… Home उत्तर प्रदेश जिला महासचिव कांग्रेस सह तमाड़ विधानसभा संगठन प्रभारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने उत्तर प्रदेश में बिजली की दरों में वृद्धि की घोषणा की है. राज्य सरकार की ओर से तय बिजली की नई दरों के मुताबिक 150 यूनिट तक शहरी उपभोक्ताओं को 4.90 पैसे की दर से बिल का भुगतान करना होगा. अल्ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्ट अटलजी को श्रद्धांजलि देने जा रहे अग्निवेश की भाजपा मुख्यालय के बाहर पिटाई 11 mins बाबू धन मुर्मू ಕನ್ನಡ Irshaad प्रधानाध्यापक उत्क्रमित उच्च विद्यालय डाँटो खुर्द कटकमसांडी वैकल्पिक विषय - भूगोल एंकर्स चैट  Share class="fa fa-bell">ब्रेकिंग: भारत में ई-शासन टेक्सास में सस्ता बिजली कंपनियों - सस्ता बिजली और गैस टेक्सास में सस्ता बिजली कंपनियों - डलास में सस्ता बिजली टेक्सास में सस्ता बिजली कंपनियों - विद्युत प्रदाता चुनें
Legal | Sitemap