शिक्षा विभाग को पता नहीं: 17 अगस्त अवकाश है | MP NEWS SYNDICATION अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत अभी भी नाजुक समेत 5 बड़ी खबरें कतरास 26 अगस्त को है रक्षाबंधन, जानिए शुभ मुहूर्त July, 2016 आयोग ने बुधवार को राज्य में वित्त वर्ष 2018-2019 के लिए बिजली के नए टैरिफ को मंजूरी दे दी है. एक अप्रैल से लागू होने वाली नई दरों में सिर्फ एक कैटेगरी में बिजली दरें बढ़ाई गई हैं. बाकी सभी में छूट मिली है. बताते चलें कि ऊर्जा मंत्रालय इस पर तैयार किए गए मसौदे पर विशेषज्ञों से अंतिम चर्चा कर रहा है . माना जा रहा है कि जल्द वह इस पर आगे कदम बढ़ाएगा . दुनिया के अजीबोगरीब कानून, जिन्हें जानकर आप रह जाएंगे हैरान दिल्ली से बिजली खरीदना चाहता है बिहार लाइव सिटीज डेस्कः बिजली कंपनी ने एक अप्रैल, 2018 से प्रभावी होने वाली बिजली दर 10 फीसदी बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है, लेकिन प्रस्ताव में उपभोक्ताओं के लिए कई राहत भी है. गांव में 50 यूनिट और शहर में 100 यूनिट तक खपत करने वालों को अभी की तुलना में सस्ती बिजली मिलेगी. खेत को पानी देने के एवज में किसानों को मौजूदा दर पर ही बिजली मिलेगी. बीपीएल श्रेणी वाले कुटीर ज्योति उपभोक्ताओं को भी सस्ती बिजली देने का प्रस्ताव है. सीपीआरआई के बारे में रिमेक भी अच्छा शौरभ कुमार सिंह ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम पंचायत / सार्वजनिक संस्थानों को पूर्ण दस्तावेज के साथ आवेदन पत्र जमा करने, बिल वितरित करने और पंचायत राज संस्थानों और शहरी स्थानीय निकायों के साथ परामर्श में राजस्व एकत्र करने के लिए अधिकृत किया जा सकता है। ग्रामीण विद्युतीकरण निगम लिमिटेड (आरईसी) पूरे देश में इस योजना के संचालन के लिए नोडल एजेंसी रहेगी। प्रधान मंत्री सहयोगी बिजल योजना निश्चित रूप से देश में समग्र आर्थिक विकास में सुधार लाने और युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा करने में निश्चित रूप से मदद करेगी। उत्तर रेलवे ने बदला अपना टाइम टेबल, कल से बदल जाएगी 300 से ज्यादा ट्रेनों की टाइमिंग मौसमविज्ञान डाटा Circulars इंग्लैंड के खिलाफ तीसरा टेस्ट आज से, ट्रेंट ब्रिज में भारत को 11 साल से जीत का इंतजार 24 mins मुद्रा योजना के तहत मिलने वाले लोन बैंकों के लिहाज से जोखिम भरे होते हैं क्योंकि वो इसके एवज में कुछ गिरवी नहीं रखते हैं. किसी भी गड़बड़ी की हालत में पैसा वापस निकालने के लिए बैंक ज्यादा कुछ नहीं कर सकते हैं. इस योजना के तहत दिए जाने वाले लोन का 55 फीसदी रकम सार्वजनिक क्षेत्रों के बैंक की है. वाजपेयी के प्रयासों से उनके गांव बटेश्वर को मिली ट्रेन की सुविधा Previous Previous post: International दिल्ली कांग्रेस दफ्तर में शीला दीक्षित, अजय माकन, हारून यूसुफ, अरविंदर लवली, सज्जन कुमार और महाबल मिश्रा समेत कई पूर्व विधायक और सांसदों की बैठक हुई. Videsh अचानक घटने लगे वजन तो इन 10 वजहों पर दें ध्यान बाढ़ के कहर से केरल में 300 से अधिक लोगों की मौत, केजरीवाल सरकार देगी 10 करोड़ रुपये August 18, 2018 seoni 0 महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना के तहत सरकार प्रतिदिन 100 दिन के रोजगार की गारंटी देती है। इस स्कीम को मोदी सरकार ने न सिर्फ जारी रखा है बल्कि फंडिंग में भी इजाफा किया है। बजट 2017 में केंद्र ने इस स्कीम के लिए 48,000 रुपये का फंड आवंटित किया था। टावर परीक्षण केंद्र रेल मंत्रालय ने डिजिटल स्‍क्रीन सेवा लॉन्च कीAug 17, 2018 सांकेतिक फोटो। पांचवां सवाल –  भारत सरकार का पहले का कार्यक्रम ’24×7 पावर फॉर ऑल’ के समान ही उद्देश्य है। यह कैसे इस कार्यक्रम से अलग है? जुड़ें हमसे : पी एस ओ सोशल पटना : राज्य में शनिवार से बिजली की नयी दरें लागू हो जायेंगी. नयी बिजली दरों की घोषणा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को विधानसभा में की. मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में घरेलू बिजली की नयी दर 3.35 रुपये प्रति यूनिट होगी, जबकि शहरी उपभोक्ताओं को घरेलू उपयोग के लिए प्रति यूनिट पांच रुपये की दर से भुगतान करना होगा. मुख्यमंत्री ने बताया कि बिजली की ये दरें सरकार द्वारा दी जानेवाली सब्सिडी के बाद निर्धारित की गयी हैं.  1:25 Notify me of new posts by email. आसनसोल   /  छत्तीसगढ़ भाजपा सरकार ने पूरा किया हिसार में एयरपोर्ट का वादा: कैप्टन अभिमन्यु राष्ट्रीय विद्युत् योजना जवाब –  हाँ गरीब परिवारों को बिजली कनेक्शन मुफ्त में प्रदान किया जाएगा। अन्य घरों को भी 500 रुपये का भुगतान करने पर योजना के तहत बिजली कनेक्शन प्रदान किया जाएगा जो की बिजली बिलों के साथ दस (10) किश्तों में डिस्कॉम / बिजली विभाग द्वारा वसूल किया जाएगा। खेल7 बिजली बिल जमा करने लंबी कतार 2 हजार लोगों ने जमा किए 34 लाख लाइव सिटीज डेस्क (रंजन सिन्हा) : आज लाखों लोगों के दिल में बसने वाले रवि किशन का जन्मदिन है. वे आज भोजपुरी फिल्मों के महानायक है. यही नही हिंदी, दक्षिण भाषाई फिल्मों सहित अन्य भाषाई […] उज्ज्वला योजना की शुरुआत के बाद एलपीजी कनेक्शन की संख्या में हालांकि बड़ा इजाफा देखा गया है. लेकिन इसके हिसाब से एलपीजी की खपत उतनी नहीं हुई है. सबसे ज्यादा चर्चित लेकिन, अगर आपने गलती से "Block" सिलेक्ट किया था या फिर भविष्य में आप नोटिफिकेशन पाना चाहते हैं तो नीचे दिए निर्देशों का पालन करें । प्राइवेसी पॉलिसी प्रश्नपत्र III Tags: Haryana Government Mhara village Jagmag village नगर में 13500 उपभोक्ता है। इन पर दो करोड़ रुपए का बिल बनता है। हर बार 90 फीसदी लोग आखिरी तारीख तक बिल जमा कर देते हैं। इस बार 5 हजार लोगों ने ही बिल जमा किए। बाकी माफी के चक्कर में नहीं आए। बिल जमा करने वालों में कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो सस्ती बिजली और माफी की पात्रता रखते हैं लेकिन जानकारी नहीं होने से अथवा कनेक्शन कटने के डर से उन्होंने बिल जमा कर दिया है। अब वे पंजीयन करवाते हैं तो उन्हें जमा की राशि अगले बिल में समायोजित होकर वापस मिलेगी अथवा नहीं यह स्पष्ट नहीं है। एई नवीन ढोले ने बताया जिन्होंने राशि जमा करवा दी है, उन्हें वापस मिलेगी या समायोजन होगा, यह स्पष्ट नहीं है। पिछड़ों के सामाजिक और आर्थिक न्याय का मार्ग प्रशस्त करेगा आयोग: कैप्टन अभिमन्यु उत्पाद व सेवाएं सीतापुर कुटीर ज्योति ( मीटर)         10 रुपये प्रति माह फिक्स चार्ज, 0से 50 यूनिट तक 2.17 रुपये इस लिंक को कॉपी करें बिहार में बढ़ने वाली है बिजली की कीमत, लेकिन सरकार ने इनको दी है बड़ी राहत ज़ी स्पेशल लघु पथन प्रयोगशाला (एससीडी) टिप्स – ट्रिक्स एक जुलाई से लागू इस स्कीम का बिल अगस्त में आयेगा। घर में बल्ब, पंखा एवं टी.वी चलाने के लिए प्रारंभिक रूप से बिलिंग खपत अधिकतम 100 यूनिट रखी जायेगी। स्कीम में लाभ के लिये मुख्यमंत्री संबल योजना में पंजीकृत श्रमिकों को आवेदन-पत्र विद्युत वितरण कंपनी के निकटतम कार्यालय/कैम्प में जमा करना होगा। स्व-घोषणा आवेदन-पत्र पर इस स्कीम का लाभ दिया जायेगा। लाभ श्रम विभाग में पंजीयन की वैधता जारी रहने तक उपलब्ध होगा। यदि कोई पात्र हितग्राही विद्युत उपभोक्ता अर्थात् जिस व्यक्ति के नाम बिजली कनेक्शन है के परिवार का सदस्य है और उपभोक्ता के साथ ही रहता है, तो ऐसे कनेक्शन पर भी स्कीम का लाभ दिया जायेगा। इसके लिए उपभोक्ता का नाम परिवर्तन आवश्यक नहीं होगा, परन्तु परिवार का सदस्य उन्हीं व्यक्तियों को माना जाएगा, जिनके नाम समग्र डाटाबेस में एक परिवार के रूप में अंकित हो। यदि किसी पात्र हितग्राही के निवास स्थान का बिजली कनेक्शन उसके नाम पर न होकर किसी अन्य के नाम पर है तथा पात्र हितग्राही उसे अपने नाम करवाना चाहता है, तो विद्युत कंपनी पूरी जानकारी देते हुए सहायता और मार्गदर्शन करेगी। RSS Feeds आरएसओपी परियोजना विवरण एवं एफ ए क्यू जवाब –  राज्यों द्वारा प्रस्तुत की जाने वाली विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) के आधार पर इस योजना के तहत परियोजनाओं को मंजूरी दी जाएगी। इस योजना के तहत फंड का कोई अग्रिम आवंटन नहीं किया जा रहा है। पानी विचार अटल के साथ 60 साल का अटूट रिश्ता, अंतिम सांस तक साये की तरह रहे साथ दूतावास (Embassy) शनिदेव की कृपा पाने के लिए शनिवार को काली गाय को खिलाएं बूंदी के लड्डू, करियर में मिल सकती है सफलता 20 mins इब्ने सफी: खटक रहा था जिसके दिल में एक गुलाब का जख्म जहां विद्युत लाइन नहीं, वहां सोलर लाइट 320C कुटीर ज्योति 6.08 3.58 2.50 3.44 3.17 July 11, 2018 Not on Twitter? Sign up, tune into the things you care about, and get updates as they happen. VIDEO: गोरबंद में देखिए राजस्थानी लोक गीत 'जोगी रे दीवाना' वार्षिक रिपोर्ट पुरालेख Maharashtra Scheme वाराणसी ...कांग्रेस उम्मीदवार के हाथों ही हुई थी सिद्धारमैया की पहली हार बिज़नस न्यूज़ May 24, 2018 पारेशण 10 तकस्पेशल रिपोर्टधर्मवारदातदंगलहल्ला बोलमुंबई मेट्रोइंडिया 360विशेषसास बहू और बेटियांसो सॉरी Tags: टिहरी अखिलेष कुमार Live Help HSSC QUESTION PAPER VIDEO: देखते देखते सांप, बिच्छू और सेंटीपेड को जिंदा निगल गई ये मछली आवृत्ति This petition isn't available. Either the URL is incorrect, it violated our Community Guidelines, or the starter removed it. ‘मुखौटा’ वाजपेयी हमेशा संघ के प्रति निष्ठावान रहे मीटर वजन कुमार विजय Story Ukrainian Українська Search bihar दिल्‍ली एवं हरियाणा World Theatre Day: इन सेलेब्रिटीज की गवाह रही संस्कारधानी Polski PunjabKesari.in यूरोप का मॉडल GOVT. SPONSORED SCHEMES मुखिया पोखरना पंचायत Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 11, 2018, 04:30 AM IST अचानक घटने लगे वजन तो इन 10 वजहों पर दें ध्यान कांग्रेस गैर-पारंपरिक हाइड्रोकार्बन की खोज और दोहन के लिये नीति-रूपरेखाAug 02, 2018 परिचय कौशांबी भाजपा सरकार ने पूरा किया हिसार में एयरपोर्ट का वादा: कैप्टन अभिमन्यु Copyright © 2018 Jagran Prakashan Limited. प्रोफ़ेसर दिवाकर ने कहा कि सरकार टैक्स एडमिनिस्ट्रेशन की भी कमर तोड़ने में लगी है. 15-16 में टैक्स एडमिनिस्ट्रेशन का बजट 26 हज़ार 11 करोड़ था जो 16-17 में 22 हज़ार 91 करोड़ हो गया. जीएसटी के बाद इसे 12 हज़ार 699 करोड़ कर दिया गया है. इस कटौती से साफ़ है कि सरकर की नियत में खोट है. उन्होंने कहा कि बिना टैक्स एडमिनिस्ट्रेशन को मजबूत किए जीएसटी को मज़बूत कैसे किया जा सकता है?'' For Students बाज़ार खबरें टेक्नोलॉजीखाना खज़ानाहेल्थ / ब्यूटीअपनी बातफ़ोटो गैलरीख़बरें भेजेंसंजीवनीएजुकेशन & कैरियर Name contact us Bitcoinonair.com | खरीदें विकिपीडिया, बिटकॉइन गाइड्स और; Bitcoin Newbies के लिए समीक्षा 2018 Bitcoinonair.com | खरीदें विकिपीडिया, बिटकॉइन गाइड्स और; Bitcoin Newbies के लिए समीक्षा. ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - बिजनेस बिजली ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - बिजली बदलें ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - विद्युत कंपनी आज बदलें
Legal | Sitemap