अब तक घरेलू उपभोक्ताओं के लिए डीएस-1 की तीन  श्रेणी और डीएस-2 की दो श्रेणी थी. अब घरेलू उपभोक्ताओं को केवल शहरी और  ग्रामीण की श्रेणी में बांटा गया है जल उपलब्धता के आधार पर कृषकों को सिंचाई कार्य के लिए नलकूपों से जल दोहन हेतु डीजल/विद्युत पम्प सैट के लिए 9 वर्ष हेतु ऋण उपलब्ध- 201 से 600 - 5.40 - 5.30 राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा ने लाइन लॉस का पूरा भार बिजली उपभोक्ताओं पर न डालने की वकालत की। उन्होंने ओडिशा का उदाहरण देते हुए कहा कि बिजली कंपनियों के घाटे के आधार पर जो रेग्युलेटरी सरचार्ज लगाया जाता है। उसका 50 प्रतिशत हिस्सा उपभोक्ताओं और 50 प्रतिशत हिस्सा बिजली कंपनियों को देना चाहिए। ताकि बिजली कंपनियों की लापरवाही का खामियाजा ईमानदार उपभोक्ताओं पर न पड़े। Hindi NewsMetroLucknowDevelopmentCheaper Electricity Connection Advertise महिला रोज़गार दरJul 31, 2018     यह बात वित्त एवं राजस्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने आज विद्युत सदन में आयोजित बैठक कक्ष में आयोजित विद्युत विभाग के अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि विद्युत विभाग एक वाणिज्यिक संस्था के रूप में लोगों को बिजली की सेवाएं उपलब्ध करवाता है। हमने लोगों को उनके घर-द्वार पर जाकर समझाया कि यदि सेवा चाहिए तो उन्हें इसके लिए मूल्य भी चुकाना होगा। उसी का परिणाम है कि आज हरियाणा के पांच जिले जगमग योजना से रोशन हो चुके हैं तथा छठे जिले फतेहाबाद में आगामी एक जुलाई से 24 घंटे बिजली मिलनी शुरू हो जाएगी। अब हम इस योजना के तहत नारनौंद विधानसभा क्षेत्र को रोशन करने की योजना बना रहे हैं।  इसके पश्चात पुलिस ने मेले में छापेमारी कर जुआ खेला रहे बबलू बिरुवा के  चचेरे भाई कुशल टीयू को 32 हजार रूपये एवं बाइक के साथ गिरफ्तार किया। इस दौरान मौके का फायदा उठाकर बबलू बिरुवा फरार हो गया। अटल जी के निधन पर गमगीन हुए टीवी स्टार्स, सोशल मीडिया पर दी श्रद्धांजलि सरसों (Mustard) इलायची (CARDAMOM) ગુજરાતી टेस्ट सीरीज जिला आई.एम.एस. अटलजी को श्रद्धांजलि देने जा रहे अग्निवेश की भाजपा मुख्यालय के बाहर पिटाई 10 mins घरेलू (ग्रामीण) डीएस वन(0-200 यूनिट) 1.60  4.75 नवंबर 2015 में चावड़ी जोन के जनकगंज, गस्त का ताजिया, वर्कशॉप, तारागंज, सराफा बाजार फीडर पर 29 लाख 19 हजार यूनिट बिजली की आपूर्ति की गई। विक्रय योग्य 26 लाख 27 हजार यूनिट बिजली पाई गई, लेकिन जोन ने उपभोक्ताओं को 32 लाख 62 हजार यूनिट का बिजली का बिल जारी कर दिया। आपूर्ति से 40 फीसदी लॉस घटाया जाए तो 17 लाख यूनिट का बिल उपभोक्ताओं को जारी होने थे, लेकिन कंपनी ने 15 लाख 62 हजार यूनिट का अधिक बिल जारी कर दिया। ज्ञात हो कि शहर में 40 फीसदी के आसपास लाइनलॉस रहता है। करनाल वातावरण की उपेक्षा की यह स्थिति थी कि खुदाई तथा सुरंग बनाने से निकला सारा मलवा खुलेआम नदी में डाला जा रहा था। योजना बनाने वालों ने किंचित भी परवाह नहीं की कि ऐसा करने से पानी दूषित हो जाएगा तथा जल में रहने वाले जीवों की हानि होगी। जो वृक्ष या वन लगाने की बात योजना वालों ने की थी वह पूरी नहीं की गई। अड़तीस प्रतिशत योजनाओं ने कोई पेड़ नहीं लगाए, योजनाओं की सड़कें तथा सुरंगें बनाने से पहाड़ों के ढलानों को नुकसान हुआ। इन सब बातों का प्रतिकूल प्रभाव नदियों के नीचले भागों में पड़ा। नीचे के जल प्रवाह की माप होनी चाहिए थी तथा उसके मानदंड बनाए जाने चाहिए थे ताकि योजनाओं का वातावरण पर दुष्प्रभाव न पडे, उससे भूमिगत पानी का संचय हो रहा है या नहीं। सिंचाई के लिए क्या बचा पानी पर्याप्त है कि नहीं तथा नदी में कितनी बालू-मिट्टी जमा हो रही है ? यह देखा जाना चाहिए था कि योजनाओं के बनने के बाद पर्यावरण तथा प्रकृति पर क्या प्रभाव पड़ रहा है और उसकी लगातार समीक्षा होनी चाहिए थी। बिजली यंत्रों को चलने से यदि कोई दुष्प्रभाव पड़ रहा है तो उनके संचालन में बदलाव किया जाना चाहिए था। भारत सरकार के सुझावों के अनुसार एक प्रतिशत बिजली सरकार को सहायता के लिए मुफ्त दी जानी चाहिए थी। कुमार विजय Close Sidebar Hindustantimes Punjabi कुल्लू के बाजार रहे बंद, व्यापारियों ने दी अटलजी को श्रद्धांजलि शकुंतला महाली महाबीर सिंह चौधरी बलिराम सिंह। | Last Modified - Dec 04, 2017, 07:11 AM IST शुद्ध पेयजल की कमी के कारण जलजनित रोग सबसे अधिक जानलेवा 24×7 बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए सभी घरों में कनेक्टिविटी प्रदान करना एक शर्त है। ऊर्जा प्रदान करने के मुद्दे को सुलझाने के लिए सौभाग्य योजना के एक योजनाबद्ध समर्थन है। Read All Breaking News here. विशेष रूप से महिलाओं के लिए जीवन की बेहतर गुणवत्त BIG BREAKING : बिहार के 3 लोगों की तेलंगाना में दर्दनाक मौत इनोवेशंस संबधित अधिकारी से शिकायत करें…. Show — उपयोगी कड़ियाँ Hide — उपयोगी कड़ियाँ वुमन पॉवर   ⁄  हरियाणा पंजाब                                100                5.21 रुपए Updated: 27 Jun, 2017 10:24 AM आगराः बिजली कंपनी के वाहन की चपेट में आने से बालक की मौत, हंगामा उत्तर रेलवे ने बदला अपना टाइम टेबल, कल से बदल जाएगी 300 से ज्यादा ट्रेनों की टाइमिंग 1600 पल्स / केडब्ल्यूएच स्वतंत्रता दिवस के रंग में, सड़कों से लेकर रेलवे स्टेशन तक भ्रष्टाचार मुक्त भारत हमारी मांग नहीं हमारी जिद्द है । जय हिन्द । http://fb.com/AamAadmiParty  पर्यावरण के अनुकूल है सोलर पावर : अब सोलर पावर काफी सस्ता भी हो गया है. राज्य में सोलर पावर को बढ़ावा देने के लिए नयी सोलर नीति भी बनायी गयी है. Click to share on Google+ (Opens in new window) आरटीआई आवेदन / अपील की मासिक स्थिति पशुपालन मीन परामर्शसेवाऍं कोषाध्यक्ष, अधिवक्ता संघ बेरमो, तेनुघाट मिदनापुर रैली में हुए हादसे पर मोदी का तंज, पंडाल संभालता नहीं और देश संभालेंगे कौशाम्बी राजस्थान पी.सी.एस. जन सूचना अधिकारी ट्रांस हिंडन रिपोर्ट सक्सेस मंत्र: दूसरों की बातें अनसुना कर आगे बढ़ें जरूर मिलेगी सफलता Tags: arvind kejriwalDelhi electricityDelhi electricity price cutDelhi power tariff cutDelhi power tariff reductionदिल्ली इलेक्ट्रिसिटी Topic/ पूर्व पावर सेक्रेटरी पी उमाशंकर का कहना है कि दिल्ली सरकार के बिजली सस्ती करने से पावर कंपनियों के ऊपर कोई असर नहीं होगा। इससे डिस्ट्रीब्यूशन कंपनियों के फाइनेंस पर कोई असर नहीं होगा क्योंकि राज्य सरकार को इसपर सब्सिडी देनी होगी। फर्जी न्यूज चैनल हेड बन करता था शादी, गिरफ्तार संगठन डाक विभाग का रक्षाबंधन गिफ्ट, छुट्टी वाले दिन भी करेगा राखियों की डिलीवरी कश्मीर को मिली शीशे से बनी विशेष ट्रेन, और मनोरम होगा वादियों का नजारा बैटरी परीक्षण प्रयोगशाला Baba Dham पहले बिजली बढ़ाए पावर कॉरपोरेशन, फिर कीमत डीईआरसी ने घरेलू बिजली पर प्रति यूनिट नई दरें तय की हैं. इसके मुताबिक शून्य से 200 यूनिट तक की प्रति यूनिट दर 4 रुपये से घटाकर 3 रुपये, 201 से 400 यूनिट तक 5.95  से घटाकर  4.50 रुपये,  401 से 800 यूनिट तक 7.30 से घटाकर  6.50 रुपये,  801 से 1200 यूनिट तक 8.10 से घटाकर  7 रुपये और 1200 यूनिट से अधिक की खपत पर चार्ज  8.75 रुपये प्रति यूनिट से घटाकर 7.75 रुपये प्रति यूनिट किया गया है. हंगामे के बाद सुधार की याद आई? 200 रुपए में मासिक बिजली के लिए फॉर्म भरने वालों की लग रही भीड़ इटावा जनगणना August 18, 2018 उदय डैशबोर्ड SAT, AUG 18, 2018 मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना आय सीमा 8 लाख रुपये हुई संभाग के 16 शहरों में आईपीडीएस योजना के तहत सुधार कार्य हो रहे हैं। शहडोल जिले मे धनपुरी, बुढ़ार, जयसिंह नगर, ब्यौहारी, बाणसागर टाऊन में 146.54 लाख से विद्युत सुदृढि़करण के कार्य प्रारंभ हो चुके हैं। इन सभी टाऊनों में 33/11 केवी के उपकेंद्रों की मरमम्त, क्षमता वृद्धि। 33 और 11 केवी की नई लाइनें, नई निम्न दाब की लाइने डालने के अलावा मीटर लगाने का कार्य भी चल रहा है। इसके अलावा उमरिया और अनूपपुर जिले के शहरों में भी यही कार्य शुरु हो चुके हैं। पर एक साल बीत जाने के बाद भी कार्य में उतनी गति नहीं दिख रही है। इस योजना में भी सभी शहरों में 26 करोड़ के विद्युत कार्य हो रहे हैं। अधिक्षण अभियनता राकेश कुमार ने बताया कि शहर में लगातार वसूली अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत कई लोगों के बिजली कनेक्शन काटे गए हैं और अभी और भी उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटे जाएंगे। उन्होंने बताया कि जिले में 10 हजार से अधिक बिल बकाया वाले उपभोक्ताओं के बिजली बिल कनेक्शन काटे जाएंगे और उस डिविजन के लाइनमैन से भी इसके लिए जवाब मांगा जाएगा कि अभी तक इन बकायदारों के कनेक्शन क्यों नहीं काटे गए। बिजली दरों का ब्योरा(Rs /यूनिट) डियर जिंदगी Previous जिंदगानी आइपीएस अधिकारी मयंक जैन की सेवाएं समाप्त, 100 करोड़ की... Increasing industrialization coupled with rapid urbanization and burning of fossil fuels has resulted in rising air pollution. But rising disposable income along, changing lifestyle and increased awareness about degrading air quality have bought air purifier in the spotlight. Adding to it, the declining air purifier prices have attracted a good amount of consumer attention recently. If you are contemplating to buy an air purifier then you must read this article till उदय योजना ने बिजली वितरण कंपनियों के नुकसान को कम किया है।  #KeralaFlood: बाढ़ से अब तक 324 की मौत अमरोहा पेंशन योजना सस्ता बिजली प्रदाता - विद्युत प्रदायक बदलें सस्ता बिजली प्रदाता - और अधिक जानकारी प्राप्त करें सस्ता बिजली प्रदाता - कम लागत बिजली प्रदाता
Legal | Sitemap