Uttarakhand News बिहार विद्युत नियामक आयोग (बीईआरसी) ने 2016-17 में बिजली दर में किसी प्रकार का बदलाव नहीं किए जाने का निर्णय लिया है जो कि प्रदेश के विद्युत उपभोक्ता के लिए राहत की बात है। नार्थ एंड साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने आयोग के समक्ष गत वर्ष दिसंबर महीने में याचिका दायर की थी जिसमें वित्तीय वर्ष 2016-17 में बिजली दर में करीब 7 प्रतिशत की वृद्धि किए जाने का प्रस्ताव रखा था। September 14,2017 05:24:23 PM अपने बिटकॉन्स के साथ एक कार खरीदें: वाहन बाज़ार बीपी क्रिप्टोकुरेंसी को अपनाता है धनबाद : प्रेस क्लब में मिले 21 रसेल वाइपर सांप, इनका काटा पानी भी नहीं... गढ़वाल फिक्स चार्ज में वृद्धि नहीं, समय पर बिल देने पर डेढ़ फीसदी की छूट हर पार्टी में है फूट, मगर कांग्रेस को मजबूत करने में जुटे हैं कार्यकर्ता : चिरंजीव राव लातेहार : दीपावली से पूर्व शहर के सभी घरों तक... Flicker कैथल समलैंगिकता की अलग-अलग कहानी कृषक हितेषी Take a step closer towards your [email protected]$ 150 p.m#HappyEMIs अधिसूचना परिपत्र पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के रूप में 11 अगस्त को शपथ... रिलेशनशिप्स Tweet आगामी वित्तीय वर्ष 2018-19 की नई बिजली दर का निर्णय बुधवार को विनियामक आयोग के अध्यक्ष एसके नेगी, सदस्य राजीव अमित व आरके चौधरी ने संयुक्त रूप से सुनाया। अध्यक्ष ने कहा कि साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड को 9,603 करोड़ और नॉर्थ बिहार कंपनी को 7207.62 करोड़ रुपए राजस्व की जरूरत का प्रस्ताव दिया था। समीक्षा के बाद आयोग ने साउथ बिहार के लिए 9228.64 करोड़ और नॉर्थ बिहार के लिए 7106 करोड़ की जरूरत को मंजूर किया है। दोनों कंपनियों ने 2018-19 के लिए कुल 5121.87 करोड़ घाटा का प्रस्ताव दिया था, लेकिन जांच में मात्र 747.44 करोड़ ही पाया गया। कंपनी ने राजस्व नुकसान को कम करने के लिए 44 फीसदी बिजली दर वृद्धि का प्रस्ताव दिया, जिसे आयोग ने बड़े उद्योग को छोड़कर बाकी श्रेणी के उपभोक्ताओं को मात्र पांच फीसदी वृद्धि का निर्णय लिया है।  United States 40404 (any) साइन इन करें नमस्कार दोस्तों…. सरकारी योजनाएँ – TheHowPedia पर आपका स्वागत है। हमारी यही  कोशिश रहती है की आपको हमेशा सही जानकारी मिले। हमारे द्वारा बताई गयी योजनाओं और सुविधाओं की जानकारी आधिकारिक सरकारी वेबसाइट, मुख्य अखबार और न्यूज चेनलों के द्वारा ली जाती है। अगर योजना या उनके नियमो मे कोई भी बदलाव होगा तो आपको सूचित करने का पूरा प्रयास करेंगे| लेकिन आपसे अनुरोध है कि यहाँ दी गयी किसी भी योजना की जानकारी पर फैसला या प्रतिक्रिया लेने से पहले उसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जानकारी अवश्य सुनिश्चित करें। क्योकि अगर आपको किसी असुविधा का सामना होता है तो हम इसके जिम्मेदार नहीं होंगे!  कोई भी सवाल या समस्या है तो कमेंट में लिखें। हम जल्दी ही सहायता करेंगे। Himachal Pradesh News Hindi(हिमाचल प्रदेश) जर्मन चुनाव यूपी में आज से महंगी हुई बिजली, गांव व शहरों के लिए अलग-अलग दरें, देखें-कितनी ढ़ीली करनी होगी जेब बिहार में बिजली दर यूपी,पश्चिम बंगाल से कम, अप्रैल से शहरी क्षेत्रोें में प्रति युनिट 10 पैसे की होगी बढ़ोतरी यमुनानगर फसल उत्पादन शहरी क्षेत्रों में स्थापित मीटर की रीडिंग जारी रहेगी एवं विद्युत नियामक आयोग के प्रचलित विनियम अनुसार बिल की गणना की जाएगी। विद्युत कंपनी आयोग द्वारा निर्धारित मानदण्ड के अतिरिक्त और कोई भी आंकलित यूनिट बिल में नहीं जोड़ेगी। उपभोक्ता के बिल में देय राशि तथा शासन द्वारा दी गई सब्सिडी का स्पष्ट उल्लेख रहेगा। प्रचलित दर से विद्युत शुल्क अधिरोपित किया जाएगा, जिसके सहित उपभोक्ता द्वारा मात्र 200 रुपये प्रतिमाह की राशि देय होगी। विद्यमान उपभोक्ता से अतिरिक्त सुरक्षा निधि नहीं ली जाएगी। नये कनेक्शन के लिए सौभाग्य योजना की तरह व्यवस्था रहेगी, जिसमें सुरक्षा निधि नहीं ली जायेंगी। उपभोक्ताओं को स्कीम का लाभ देने के लिए वितरण कंपनियों द्वारा वितरण केन्द्रवार, हाट/ बाजारों आदि में कैम्प लगाये जा रहे हैं। श्रमिक पंजीयन प्रमाण-पत्र की छायापति मांगने की जरूरत नहीं रहेगी। मंत्री आर.के. सिंह ने कहा, ‘‘देश में बिजली वितरण को लेकर पहले से सेवा बाध्यता है, इसे और स्पष्ट बनाया जाएगा. देश में बिजली की कोई कमी नहीं है.’’ Jeff Armstrong has run his helicopter company, Rampart Helicopter Services,  for 11 years outside Castle Rock. Jeff’s property, was in a relatively isolated area for years until houses were built… Read more उद्देश्य Whatsapp केरल के मुख्यमंत्री पिनारई विजयन चेन्नई के अस्पताल में भर्ती Русский By Kamlesh Bhatt सेहत के लिए किसी टॉनिक से कम नहीं है करेला, जानिए इसके 6 बड़े फायदे यूपी वीडियो परिचय इससे जहां बिजली की चोरी में कमी होगी वहीं लाइन हानियां कम होने से वितरण कंपनियों का घाटा कम होगा। देश दीपक वर्मा का कहना है कि इससे बिजली के नए कनेक्शन लेने के लिए लोगों को प्रोत्साहन मिलेगा। राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश वर्मा ने आयोग के अध्यक्ष व सदस्य से मिलकर इस फैसले के लिए आभार जताया। व्यावसायिक खाद्य और सार्वजनिक वितरण अमेरिका No Comments शून्य ऊर्जा खपत वाले ये घर, फिलाडेल्फिया के पहले पैसिव हाउस हैं. कम आय वाले लोगों के लिए बनाए गए ये घर गरीब लोगों के लिए भी फायदेमंद हैं क्योंकि इनमें ऊर्जा की खपत नहीं के बराबर है. संसद VIDEO: जब मूसलाधार बारिश ने कांवड़ियों की सांसें रोक दी मलेशिया में सरकार के खिलाफ बोलने की आजादी मिली; पहले 6 साल जेल और 85 लाख रु जुर्माना होता था 4 mins विज्ञप्ति का संक्षिप्त विवरण Air Conditioner vs Air Purifier: Which is better for Air Purification? कील-मुंहासे से छुटकारा दिलाए इलायची प्रधानाध्यापक उत्क्रमित उच्च विद्यालय डाँटो खुर्द कटकमसांडी नालंदा : खास खबर – रहने के लिहाज़ से पटना से... राज्यसभा टीवी डिस्कशंस अंतिम अद्यतन तिथि: Aug 16, 2018 related story साड्डा हक बीटीसीसीहिना, हूबी, ओकाइन् फेस एडमिनिस्टिक सज़ा ... प्रवेश संरक्षण प्रयोगशाला काशीपुर इंदौर (खंड-13: स्वास्थ्य, शिक्षा, मानव संसाधनों से संबंधित सामाजिक क्षेत्र/सेवाओं का विकास और प्रबंधन) क्यों सही नहीं है पॉपुलर कोर्स का चयन? ये हैं अहम कारण प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना By embedding Twitter content in your website or app, you are agreeing to the Twitter Developer Agreement and Developer Policy. गढ़वा वितरण प्रणालियाँ प्रभाग Delhi rooftop solar cheaper than electricity bill! For Advertisement Query केरल: बाढ़-बारिश से 3 लाख से ज्यादा बेघर, मई से अब तक 324 की मौत; मोदी कुछ देर में करेंगे हवाई सर्वे 2 mins पुरस्‍कार हज़ारीबाग़ Urdu اردو दिसंबर में लोकसभा और चार राज्यों के विधानसभा चुनाव साथ कराने में सक्षम: चुनाव आयोग छत्तीसगढ़ विद्युत नियामक आयोग ने बिजली की नई दरें घोषित कर दी हैं। उपभोक्ताओं के लिए ये दरें 1 अप्रैल से लागू हो जाएंगी। राजगंज पंचायत मुखिया देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप पंचतत्व में विलीन हुए “अटल बिहारी” | दत्तक पुत्री नमिता ने दी मुखाग्नि अधिकतम वर्तमान M to P 10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात केजरीवाल सरकार को कांग्रेस ने बताया विफल  झुंझुनूं Photos जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में सेना की पेट्रोलिंग पार्टी पर ग्रेनेड हमला, सर्च ऑपरेशन जारी Most Related Stories VIDEO: एनकाउंटर से भाग निकले तीन आतंकी, जवान हुआ शहीद Retweet Get 1 Year FREE Magazine (Current Affairs Today) Subscription Oops! That page can’t be found. #KeralaFloods LIVE: कोच्चि पहुंचकर PM मोदी ने बाढ़ के हालात पर राज्य सरकार के साथ की बैठक भारत के पीसी मार्केट में 28 फीसदी की ग्रोथ, अल्ट्रा स्लिम नोटबुक ने बढ़ाई मांग 50 mins सुखपाल खैहरा को पार्टी ने क्यों हटाया, भगवंत मान ने किया खुलासा प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना सौभाग्य फ्री बिजली कनैक्शन - घरेलू उपभोक्ताओं के टैरिफ में चारों श्रेणी (0 से 40, 41 से 200, 201 से 600 और 600 यूनिट से ज्यादा खपत की दरें) मिलाकर औसतन 6.25 % की कमी की गई है। छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत विनियामक आयोग के सचिव पीएन सिंह ने सोमवार को नई दरों की घोषणा करते हुए कहा कि पिछले एक दशक में पहली बार है जब बिजली की दरें बढ़ाने के बजाए घटाई गई हैं। 'सौभाग्य' योजना के तहत पहले दिन प्रदेशभर में 10400 घरों को बिजली के कनेक्शन दिये गए. फ्राइडे को मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में 1235 घरों को विद्युत कनेक्शन दिये गए. मुख्यमंत्री व केन्द्रीय मंत्री ने सभी लाभार्थियों को कनेक्शन पत्र वितरित किए. इस मौके पर केंद्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री आरके सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हर घर को बिजली के सपने को साकार करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं. बताया गया है कि शुरुआत में 18,452 गांव बिजली से वंचित थे. जबकि अब केवल 861 गांव बिजली से वंचित रह गए हैं. कहा, अप्रैल माह तक इन सभी गांवों के विद्युतीकरण का टारगेट रखा गया है. केंद्रीय राज्यमंत्री ने निर्धारित लक्ष्य को लेकर कहा कि एक अप्रैल 2019 से पूर्व 4 करोड़ घरों में बिजली पहुंचा दी जाएगी. अभी करीब 32 लाख विद्युत वंचित घरों में बिजली पहुंचा दी गइर्1 है. 500 से अधिक--6.20--6.50 (दर रुपये प्रति यूनिट में) प्रश्नपत्र IV RELATED ARTICLESMORE FROM AUTHOR Hindi NewsMetroLucknowDevelopmentElectrical Regulatory Commission New Electricity Rate In Uttar Pradesh (अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 13 मार्च 2013 यूईआरसी ने खारिज की बिजली टैरिफ बढ़ाने की अपील बैलगाड़ी योजनाबाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं नयन सागर प्रकरणः मुनि के कमरे से निकलती युवती का एक और वीडियो वायरल क्या आपने देखी यह वाजपेयी की कुछ अनदेखी और दुर्लभ तस्वीरें सेंसेक्स 200 अंक मजबूत, निफ्टी 11450 के करीब टेनिस जवाब –  सभी परिवारों के लिए बिजली कनेक्शन उनके घर के निकटतम बिजली के पोल से एक सर्विस केबल के द्वारा दिया जाएगा,बिजली का मीटर लगाया जाएगा,वायरिंग के माध्यम से उजाला करने के लिए एक एलईडी बल्ब के साथ एक मोबाइल चार्जिंग सॉकेट बिजली कनेक्शन के साथ जारी किया जाएगा। अगर सर्विस केबल जोड़ने के लिए घर के नजदीक पोल नहीं है तो कनेक्शन प्रदान करने के लिए अतिरिक्त पोल और सर्विस केबल की व्यवस्था भी सरकार ही करेगी। Free Trial  Live TV #मौसम का हाल सहायता Write for us करियर / Українська мова Our systems have detected unusual traffic from your computer network. Please try your request again later. Why did this happen? विजय हांसदा #KeralaFlood: बाढ़ से अब तक 324 की मौत मीटर नहीं है तो हर महीने 300 रुपये अन्य स्पोर्ट्स होम पेज संभागायुक्त एवं कलेक्टर द्वारा कोठी पर झंडा वन्दन किया गया 15/08/2018 ऊर्जा लागत की तुलना करें - उपयोगिता की तुलना करें ऊर्जा लागत की तुलना करें - बिजनेस बिजली की तुलना करें ऊर्जा लागत की तुलना करें - बिजली की आपूर्ति
Legal | Sitemap