सबस्क्राइब बिजली कंपनी के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक प्रत्यय अमृत व एनटीपीसी के सीएमडी गुरदीप सिंह ने संयुक्त प्रेस वार्ता में कहा कि 17 अप्रैल को कैबिनेट ने इन बिजली घरों को एनटीपीसी को देने पर सहमति दी थी। एमओयू पर हस्ताक्षर एनटीपीसी के डायरेक्टर कॉमर्शियल एके गुप्ता व कंपनी के प्रबंध निदेशक आर लक्ष्मणन ने किया। करार होने के बाद बरौनी से 684 करोड़ , कांटी से 54.69 करोड़ और नवीनगर से 136 करोड़ कुल 865 करोड़ सालाना बचत होगी। करार के समय मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, सीएम के प्रधान सचिव चंचल कुमार, सचिव अतीश चंद्रा व मनीष कुमार वर्मा, विशेष सचिव अनुपम कुमार सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार बिजली के बिल फाड़ने पर नहीं 24 घंटे बिजली देने के लिए प्रयासरत है. GST म. प्र. पावर ट्रांसमिशन क. लि. July 17, 2018 at 8:45 pm मध्यप्रदेश शासन, भारत May 20, 2018 ड्यू डेट से पूर्व बिल पेमेंट पर 0.5% छूट उत्पादन रिपोर्ट Skip to main content Gadgets Updates Hindi Latest Gadgets Updates Hindi News, Latest Gadgets pallavi kumari | Noida, Uttar Pradesh, India गली क्रिकेट खेला है तो हंसा देंगे ये नियम बॉलीवुड एक्ट्रेस काजोल ने इंटरव्यू में महिला प्रधान फिल्मों पर कही यह बात Deepak Dubey  🇮🇳‏ @DBADeepakDubey 18 Aug 2015  Local News भाजयुमो प्रदेश कार्यसमिती सदस्य, झरिया Highway Channel साइट जानकारी झारखंड : 98% तक महंगी हुई घरेलू बिजली, मई से लागू, 200 यूनिट के लिए पहले लगते थे 690, अब देने पड़ेंगे 1215 Have an account? एशियन गेम्स 2018: भारतीय टीमें इंचियोन पहुंची, आज से होगा आ फिक्स चार्ज में वृद्धि नहीं, समय पर बिल देने पर डेढ़ फीसदी की छूट टमाटर (Tomato) Purnia Cashback on offer price: 1050 हमारा नज़रिया Pan card China News आयोग ने बुधवार को राज्य में वित्त वर्ष 2018-2019 के लिए बिजली के नए टैरिफ को मंजूरी दे दी है. एक अप्रैल से लागू होने वाली नई दरों में सिर्फ एक कैटेगरी में बिजली दरें बढ़ाई गई हैं. बाकी सभी में छूट मिली है. आप यहाँ हैं: ओपन एक्सेस से सस्ती बिजली खरीदने वाले उपभोक्ताओं पर एडीशनल सरचार्ज लगाने की मांग... पाकुड़ सहित समस्त झारखण्ड वासियो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक सुभकामना विशेषज्ञों का कहना है कि निर्धारित लक्ष्य को पाने के लिए इन दोनों ही योजनाओं की रफ्तार उल्लेखनीय गति से बढ़ानी पड़ेगी. ताज़ा ख़बर घट सकती हैं ग्रामीण उपभोक्ताओं की दरें परीक्षा का प्रारूप दरसअल करीब 72 घण्टे से गायघाट में बिजली नही रहने के कारण लोगो ने किया सड़क जाम, मुज़फ़्फ़रपुर-दरभंगा मार्ग पर करीब 2-3 घण्टे रहा आवागमन ठप. लोगो का कहना है कि एस्सेल बिजली की कटौती करता है, एस्सेल अपनी मनमानी करता है, एस्सेल के कर्मचारी को जब बिजली नही रहने पर सूचना दी जाती है तो वो लोग बात को इधर उधर कर घुमा देते है और कोई जवाब नही देते बिजली का कोई समय नही है कि कब कँहा कैसे बिजली कट जाए और अगर कँही बिजली की तार आँधी तूफान में गिर जाए तो उसके लिए 2-3 दिन बिजली को बाधित कर के रखते है. @AamAadmiParty These power companies are going to get molested now TRENDING TOPICS चौदहवां सवाल – क्या योजना में अवैध उपभोक्ताओं को आमने-सामने आने और पंजीकरण करने की योजना है? क्या यह भी कुछ ऐसी योजना है? For easy & accelerated implementation of the Scheme , modern technology shall be used for household survey by using Mobile App. Beneficiaries shall be identified and their application for electricity connection along with applicant photograph and identity proof shall be registered on spot. The Gram Panchayat/Public institutions in the rural areas may be authorised to collect application forms along with complete documentation, distribute bills and collect revenue in consultation with the Panchayat Raj Institutions and Urban Local Bodies # Dehradun News Paper Today दूसरा सवाल – परिवारों को अंतिम छोर तक बिजली कनेक्शन प्रदान करने के लिए क्या किया गया है? मुरैना 7 Views Web Title: सबसे बड़ी बिजली कंपनी शुरू करेगी भारत में न्‍यूक्लियर पावर प्रोग्राम #शौर्य गाथा     वित्त मंत्री ने कहा कि सरकारी अधिकारी व कर्मचारी अपने विभाग के लिए तो अधिकारी/कर्मचारी है परंतु अन्य विभागों के लिए वह एक उपभोक्ता भी है। इसलिए जनहित में वह अपने उपभोक्ताओं के साथ संवेदनशीलता से पेश आएं तथा उन्हें संतुष्टिजनक सेवा देने के लिए हर संभव प्रयास करें। मारवाड़ी कॉलेज की गायब छात्रा का जला हुआ शव कैरो से बरामद इमरान खान के शपथ समारोह में पहुंचे सिद्धू, बोले- इमरान को देंगे ये... Ed Tech Blog हज़ारीबाग़ दिल्ली सर्राफा बाजार बंद Mid-Day दान FROPKY विनय महतो धीरज ज्योतिष धर्म Jammu And Kashmir News असिस्टेंट इंजीनियर भारत में विद्युत क्षेत्र बहु-आयामी जटिलता द्वारा अभिलक्षणित है। कई संगठन विद्युत क्षेत्र के विभिन्न क्षेत्रों में अनुसंधान संपन्न कर रहे हैं। अनुसंधान कार्यक्रमों को, उपलब्ध सीमित संसाधनों से, अत्यधिक परिणामोंन्मुखी बनाना चाहिए । Norsk शहरी शहरी घरेलू उपभोक्ताओं को अब 10 रुपये प्रति किलोवाट अधिक फिक्स चार्ज देने के साथ 45-50 पैसे प्रति यूनिट ज्यादा भुगतान करना पड़ेगा। राज्य विद्युत नियामक आयोग ने वर्ष 2017-18 के लिए 30 नवंबर को नई बिजली दरों का एलान किया था। सभी श्रेणियों में कुल मिलाकर औसतन 12.73 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। अस्‍थायी कनेक्‍शन के लिए 34.75 प्रतिशत ज्यादा भुगतान करना होगा। Complaints दीनदयाल उपाध्‍याय ग्राम ज्‍योति योजना से ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युत वितरण की अवधि में सुधार होगा। इसके साथ ही अधिक मांग के समय में लोड में कमी, उपभोक्‍ताओं को मीटर के अनुसार खपत पर आधारित बिजली बिल में सुधार और ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली की अधिक सुविधा दी जा सकेगी।   साइन इन करें वैद्युत उपस्कर Home » देश » बिहार में महंगी हुई बिजली, नई दर एक अप्रैल से Pashto پښتو राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना राजौरी सक्षम प्राधिकारी द्वारा पारित आदेशों के खिलाफ प्रशासनिक सचिव, उद्योग एवं वाणिज्य को ऐसे आदेश प्राप्त होने की तिथि से 30 दिनों की अवधि के भीतर अपील की जा सकती है। अपील में प्रशासनिक सचिव द्वारा पारित आदेश अंतिम होगा। Pages आदेश और परिपत्र जरा हट के सीवान 2560023990खरीदे बढ़ी हुई आर्थिक गतिविधियों और नौकरियां जिले की अब तक कि सबसे बड़ी विद्युत प्रसारण योजना का काम अब अपने अंतिम पड़ाव पर है। 400 केवी डबल सर्किल बाड़मेर से भीनमाल तक की 144 किलोमीटर लंबी लाइन में 399 हाई टेंशन टॉवर लगने के कार्य हो रहे हैं। 139.02 करोड़ रुपए की इस परियोजना में अब तक 377 टॉवर लग चुके हैं। राजस्थान राज्य विद्युत प्रसारण निगम बाड़मेर के निर्माण कार्य विभाग के सहायक अभियंता सवाई सिंह खत्री के अनुसार बाड़मेर के गेहूं गांव में जिले इकलौते 400 केवी सब स्टेशन से भीनमाल तक की इस 400 केवी डबल सर्किल बाड़मेर से भीनमाल लाइन का काम जुलाई 2016 में शुरू हुआ था। यह काम अगस्त में पूरा हो जाएगा। डिस्कॉम की कनिष्ठ अभियंता स्नेहा राजपुरोहित के मुताबिक इस काम की नियमित मॉनिटरिंग की जा रही है। इस काम के पूरे हो जाने के बाद बाड़मेर भीनमाल-सिरोही, उदयपुर से देबारी विद्युत चक्र से जुड़ जाएगा। यहां की उत्पादित विद्युत के त्वरित प्रसारण के साथ निर्बाध बिजली सप्लाई होगी। आयाम: 165x90x33mm Google + मोदी सरकार द्वारा बीते चार सालों में बदलाव के बड़े दावों के साथ शुरू की गईं विभिन्न योजनाएं कोई बड़ी उपलब्धि हासिल कर पाने में नाकाम रही हैं. जिले के प्रत्येक जेई को अभियान के तहत कम से कम 20 बिजली कनेक्शन काटने का लक्ष्य दिया गया है। जिसके लिए सभी जेई अपने-अपने डिविजन की सूची तैयार कर अभियान में जुड़ गए हैं। राज्य सरकार की नीति में उल्लेख नहीं था कि योजनाओं को नदियों का पानी प्रयोग करने के बाद कितना नीचे की धारा में छोड़ना चाहिए। पानी सुरंगों में डालने तथा प्रयोग करने के बाद नीचे नदी की पुरानी घाटी में बहाव कितना रहेगा ? पाँच योजनाओं की जाँच करने के बाद देखा गया कि नदियों की सुरंगों के समाप्त होने के बाद निचले भागों में पानी नहीं था और वे बिलकुल सूखे पड़े थे। कहीं कुछ बूदें रिसती दिखाई दे रही थीं। जो वातावरण को बनाए रखने लायक नहीं थी। नदियों से रिसकर जो पानी भूमितल में जमा होता था वह भी समाप्ति पर था। बिना सोचे-समझे राज्य सरकार नदियों पर जो अंधाधुंध जल-विद्युत योजनाएं बना रही थी उनका मिला-जुला नतीजा वातावरण के लिए घातक था। अभी 42 जल-विद्युत परियोजनाएं कार्य कर रही थीं, 203 और या तो बन रही थीं या तैयारी में थी। बहुत सारी अन्य विचाराधीन थी। बागेश्वर लंबे समय तक हेल्दी जीवन जीना है तो अपनाएं 6 मंत्र दिल्ली को मिलेगी 25% सस्ती बिजली, विंड एनर्जी से होगा फायदा Paresh Agarwal‏ @semanticscorp 18 Aug 2015 2011 के दौरान लेने के लिए अनुमोदित एनपीपी Copyright © 2018 Naidunia. यह भी पढ़ें- Great Innovation: एक घंटे साइकिल चलाइए 24 घंटे बिजली मुफ्त पाइए, कीमत 12,000 से 15,000 रुपए jharkhand वॉशिंग मशीन, बाइक और फ्रिज जितने का मौका Day Update उज्जवल डिस्कॉम एश्योरेंस योजना का प्रस्तुतिकरण दिनांक 9th नवंबर 2015 लुधियाना Firstpost ध्वनि प्रदूषण (विनियमन और नियंत्रण) नियम, 2000 Facebook Lite 2:30 सस्ता बिजली प्रदाता - इलेक्ट्रिक कंपनी की दरों की तुलना करें सस्ता बिजली प्रदाता - गैस आपूर्तिकर्ता सस्ता बिजली प्रदाता - सस्ता इलेक्ट्रिक कंपनी
Legal | Sitemap