इसे स्थानीय निकाय चुनावों की तैयारी कहें या गैरसैंण में चल रहे विधानसभा सत्र का असर, उत्तराखंड में 17 साल में पहली बार बिजली की दरें कम हुई हैं. उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग ने राज्य में बिजली की नई दरों को मंज़ूरी दे दी है. सार्वजनिक छुट्टियाँ एमडीएस-1 रूरल( बिना मीटर) 444 रुपये अभी सिंचाई कार्यों के लिए 70 पैसे से 1.20 रुपये प्रति किलोवाट की दर  निर्धारित है. आयोग ने इसके लिए बिजली दर बढ़ा कर पांच रुपये प्रति यूनिट  निर्धारित कर दिया  अप्रैल में जीएसटी संग्रह 94,000 करोड़ रुपये अटल जी को श्रद्धांजलि देने उमड़ा हिमाचल थाना प्रभारी, बालीडीह थाना बब्लू झा पी.सी.एस. परीक्षा मॉडल पेपर जन सूचना अधिकारी पंजाब सरकार ने बिजली दरें बढ़ाकर आम आदमी पर बोझ डाला दिल्‍ली एवं हरियाणा सिद्धार्थनगर बिजली बिल भरने पर ये कंपनी दे रही इनाम, 31 दिसंबर तक है समय जुड़ें हमसे : Q to Z नये टैरिफ में उपभोक्ताओं की श्रेणी को बदला गया है. उपभोक्ताओं को पांच  श्रेणियों घरेलू, सिंचाई, व्यावसायिक,औद्योगिक और संस्थागत उपभोक्ता के रूप  में बांटा गया है शुक्रवार को जमशेदपुर में नीति आयोग सभागार में आयोजित बैठक के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए डॉ कुलकर्णी ने कहा कि कि पिछले एक साल में विद्युत विभाग में पंद्रह सौ इंजीनियर्स की नियुक्ति कर ली गयी है अौर इंजीनियरों की कोई कमी नहीं है. निचले स्तर के तथा फील्ड में काम करने वाले कर्मचारियों की कमी थी अौर 750 कर्मचारियों की नियुक्ति की प्रक्रिया अंतिम स्तर पर है अौर एक-डेढ़ माह में प्रशिक्षण देकर उनकी पोस्टिंग की जायेगी. कंपनियों में बिजली चोरी के मामले की जांच के लिए एसआइटी गठित की गयी है, एसआइटी द्वारा प्रारंभिक रिपोर्ट सौंपी गयी है. जैसे-जैसे रिपोर्ट आयेगी उस आधार पर कार्रवाई की जायेगी.  झारखण्ड में पावर कट की पहले से ही दयनीय स्थिति बरकरार है। सूबे के कई विद्युत धंधे बिजली के अभाव में बंदी के कगार पर है। श्री सहाय आज शनिवार को एचईसी परिसर स्थित अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जनता पहले से ही बिजली दर की मार झेल रही है। दुसरी ओर बिजली दर में बेतहाशा वृद्धी कर जनता को परेशान किया जा रहा है। 15 अगस्त की ड्रेस रिहर्सल, कई रूट बदले और स्कूल 10 बजे से केजरीवाल सरकार को कांग्रेस ने बताया विफल  Email * न्यूज निचोड़ At 7PM: बेटी ने दी मुखाग्नि प्रदेश की बिजली वितरण निगमों में अब भी बिजली छीजत का ग्राफ 25 से 35 फीसदी तक बना हुआ है वहीं बिजली चोरी मामले में कई जिलों में छीजत 35 फीसदी तक रही है। राज्य सरकार के निर्देशों के बावजूद बिजली कंपनियां चोरी व छीजत रोकने में प्रभावी कार्रवाई करने में नाकाम रही हैं। इसके उलट बिजली कंपनियों ने चोरी छीजत पर लगाम कसने के लिए संबंधित क्षेत्र के अभियंताओं के वेतन भत्ते में कटौती की तलवार भी लटकाई लेकिन नतीजा सिफर रहा है।  नवीकरणीय ऊर्जा की स्थापित क्षमता में वृद्धि कर इसके लिये 2022 तक 175 गीगावाट का  लक्ष्य रखा गया है। ऊर्जा संरक्षण क्रय तथा सिविल इंजीनियरी विभाग की रिपोर्टें हिमाचल पी डी एम Bollywood on Atalji Death इस पोस्ट को शेयर करें Facebook   Previous Storyई-कॉमर्स कंपनी अमेजन का नेट प्रॉफि‍ट घटा, एक रात में CEO जेफ बेजोस ने गंवाएं 6 अरब डॉलर Next StoryEPFO के लिए UAN जरूरी, जानिए इससे जुड़ी 3 अहम बातें   Cashback on offer price: 2113 घरेलू बिजली की दरें एक से डेढ़ रुपये प्रति यूनिट कम की गईं #अलविदा अटल #INDvENG #रेलवे भर्ती #अनोखी #नंदन State President BJP भाजपा, राजद, जदयू समेत कई पार्टियों के नेता हैं IT के रडार पर, 28 की बन गई है लिस्ट जयनारायण मुंडा 0 COMMENT electricity charges rajasthan electricity hike electricity rates in rajasthan Power tariff comparison of electricity rates in India Patna torrent power accident jam in agra compensation ruckus (अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं) सामान्य अध्ययन प्रश्नपत्र I जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन! अपना सुझाव दें saubhagya yojnaNarendra ModiElectricityindiaसौभाग्य योजना पटनासाहिब को मिली दो विद्युत योजना : नंदकिशोर - आम व्यक्ति यानी घरेलू उपभोक्ताओं के बिजली बिल लगभग सवा छह % कम आएगा। सामान्य रूप से समझा जाए तो माना जाएगा कि पिछले महीने तक एक हजार रुपए का बिल आता था, तो अप्रैल में बिजली बिल 62.5 रुपए कम आएगा। Related Articles छत्तीसगढ़ विद्युत नियामक आयोग ने बिजली की नई दरें घोषित कर दी हैं। उपभोक्ताओं के लिए ये दरें 1 अप्रैल से लागू हो जाएंगी। related story वकील प्रसाद महतो मधुबनी सिंह Hastakshep राज्यपाल ने राजभवन में देखे बच्चों के सांस्कृतिक कार्यक्रम Vogue beauty awards : हॉट ब्लैक में नजर आई ये... FOLLOW (3) एशिया Search ट्रेंडिंग   मीडिया प्रभारी, भाजपा Mud Mud Ke Dekhta Hu आर-पार : आज़ादी मिल गई लेकिन हमारे जवानों को शहादत से आज़ादी कब मिलेगी? Publish on December 4, 2017 केरल में खुदरा क्षेत्र में काम करने वाले को बैठने का अधिकार दिया गया है, क्या दूसरे राज्य भी ऐसा करेंगे? गाँधी होते तो कहलाते एंटी-नेशनल स्टडी मैटीरियल एक साथ 15 यात्रियों को सफर कराएगी टाटा की नई Winger लोकप्रिय पोस्ट मुखिया कांडतरि पंचायत, बड़कागांव Participate in Discussions accident - फोटो : graphic योग राज्य के कई जिले पांचवी अनुसूचि के दायरे में आते हैं जहां ग्राम सभा का गठन कर विकास करने का प्रावधान है, लेकिन आखिर इस कानून का पालन क्यों नहीं किया जा रहा है। राज्य के लिए यह एक बड़ा सवाल है। Tags: arvind kejriwalDelhi electricityDelhi electricity price cutDelhi power tariff cutDelhi power tariff reductionदिल्ली इलेक्ट्रिसिटी कृषि (25 एचपी से ज्यादा)- 5.70 - 5.60 13 मार्च 2013 Her Zindagi हाथरस Aries (मेष) Required fields are marked * #भारत का इंग्लैंड दौर also availabe on: उत्पादन क्षमता 1.3 किलो पर्यावरण की सुरक्षा 300 मीटर ऊंची उत्तर भारत की बुर्ज खलीफा बनकर तैयार, नजीब जंग का भी बनेगी ठिकाना 55 mins जगत महतो बाढ़ के कहर से केरल में 300 से अधिक लोगों की मौत, केजरीवाल सरकार देगी 10 करोड़ रुपये शनिवार, अगस्त 18, 2018 अध्य्क्ष अखिल भारतीय दलित महासंघ रिमेक भी अच्छा ये एक्सटर्नल लिंक हैं जो एक नए विंडो में खुलेंगे 101-200      4.00 Article इतना लगता है मिनिमम चार्ज Hindi Quint 29 हजार बने मजदूर, 6684 को बिजली बिल माफी, 5013 को सस्ते कनेक्शन मिले सस्ता बिजली प्रदाता - ऊर्जा तुलना सस्ता बिजली प्रदाता - बिजली बिल कैलकुलेटर सस्ता बिजली प्रदाता - आज खरीदारी करें
Legal | Sitemap