पढ़ाने का तरीका मिथुन अटल की ये कविताएं दिल जीत लेंगी आपका... Energy Efficiency and Other Articles बिना चिप वाले एटीएम कार्ड 31 दिसंबर के बाद अमान्य अधिनियम/नियम Atalji Last Rites October 3, 2017 schemes-admin सरकारी योजना BBC iD अर्थजगत M to P लिंक देखें आईसोपाम योजनाबाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं Have an account? Log in » भारत में न्‍यूक्लियर एनर्जी की धीमी रफ्तार की मुख्‍य वजह विदेशी रिएक्‍टर निर्माता कंपनियों की कम रुचि है। यह कंपनियां उस कानून का विरोध कर रही हैं, जो किसी दुर्घटना के समय मैन्‍यूफैक्‍चरर्स को जिम्‍मेदार ठहराता है। सितंबर 2015 में जनरल इलेक्ट्रिक ने लायबिलटी कानून की अनिश्‍चितता के चलते भारत के न्‍यूक्लियर एनर्जी सेक्‍टर में निवेश न करने का फैसला लिया। जनरल इलेक्ट्रिक के सीईओ जेफ इमेल्‍ट ने कहा था कि दुनिया में एक स्‍थापित एक लायबिलटी व्‍यवस्‍था है, इसे स्‍वीकार्यता मिली है और इसे अपनाया गया है। मैं अपनी कंपनी को जोखिम में नहीं डाल सकता। भारत लायबिलटी पर दोबारा नयिम नहीं बना सकता। यूनिट                   दर  msn समाचार कर्क राशि वालों आज आप तनाव महसूस कर सकते हैं लेकिन शाम तक आप इस मानसिक तनाव से बाहर आ सकते हैं।...Read more फाइनेंस entertainment3 hours ago   (ब्यूरो कार्यालय) भिण्ड (साई)। मध्य प्रदेश में शहीदों को राज्य शासन द्वारा दी जाने वाली सम्मान निधि में से 60 प्रतिशत राशि शहीद रेडियो Cashback on offer price: 3000 आज के समाचार Blogs UPA राज में भी चल रही थीं NDA की ये योजनाएं Library Infrastructure पश्चिमी सिंहभूम में भाजपा को मजबूत करने के संकल्प के साथ स्वंतत्रता दिवस की बधाई मध्य प्रदेश शासन Previous articleपत्नी का इलाज कराने जा रहे बाइक चालक की सड़क हादसे में दर्दनाक मौत न्यूज़ जैतापुर प्रोजेक्‍ट को दुनिया का सबसे बड़ा न्‍यूक्लियर कॉन्‍ट्रैक्‍ट माना जा रहा है और यह दुनिया की सबसे बड़ी न्‍यूक्लियर साइट भी है। 10,000 मेगावाट्स के इस प्रोजेक्‍ट में छह रिएक्‍टर्स होंगे, जिनमें प्रत्‍येक की क्षमता 1650 मेगावाट होगी। भारत सरकार ने 2017 तक 17,400 मेगावाट न्‍यूक्लिर पावर जनरेशन का लक्ष्‍य रखा था, जिसमें से वह केवल 30 फीसदी लक्ष्‍य ही हासिल कर पाई है। August 18, 2018 योर मनीः युवाओं के लिए कौनसे फंड हैं बेस्ट 6. राजधानी एक्सप्रेस में बुजुर्ग को चूहे ने काटा, साढ़े तीन घंटे निकलता रहा खून अजमेर में मंगलवार को कांग्रेस ने बिजली के बिलों में बेतहाशा वृद्धि को लेकर टाटा पावर के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया. सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ता रैली के रूप में सिटी पावर हाउस पहुंचे जहां उन्होंने पहले तो जमकर नारेबाजी की और बाद में विरोध जताते हुए रास्ता जाम कर दिया. प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसियों और पुलिस के बीच टकराव की स्थिति भी पैदा हुई. लेकिन बाद में माहौल को शांत किया गया. प्रदर्शकारियों ने कहा कि जब से टाटा पावर ने शहर की बिजली व्यवस्था को संभाला है तब से लगातार बिजली के बिलों में बढ़ोतरी की जा रही है जिससे आम आदमी परेशान हो चुका है. (अजमेर से अभिजीत दवे की रिपोर्ट) शिकायत सामान्य परिचय आत्मा योजना :   पुनरीक्षित दिशानिर्देष बाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं,   फार्म स्कूल - पुनरीक्षित दिशानिर्देष बाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, सास-बहू अपने घर में चला रही थीं देह व्यापार का धंधा Latest कृपया क्लिक करके, होम पेज पर वापस जाइए! Quintype कंपन प्रयोगशाला (40 मी विस्तृति) फैशन और स्टाइल भी बदलता रहता है.अपनी एज के मुताबिक फैशन फॉलो करने के चक्कर में कई बार महिलाएं इस… VIDEO : स्वामी अग्निवेश पर फिर हुआ हमला, जानें कब और कहां परिवादी गंगोत्री पत्नी रामवीर सिंह तोमर निवासी शिवपुरम कॉलोनी ने म.प्र. पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी आनंद नगर के खिलाफ परिवाद पेश किया था। परिवादी ने कंपनी द्वारा अनुमानित रीडिंग का बिल देने और खपत से ज्यादा बिल आने पर कंपनी कार्यालय में शिकायत की। साथ ही मीटर बदलने के लिए आवेदन किया। 18 फरवरी, 2016 को राशि जमा करके नया कनैक्शन लिया लेकिन कम्प्यूटर में जानकारी अपलोड नहीं होने से मार्च तक के बिल जारी नहीं किए। नवम्बर व दिसम्बर 2016 में एवरेज यूनिट खपत के बिल जारी किए। कंपनी ने अनुमानित रीडिंग 5508 यूनिट खपत का बिल दिया जबकि इतनी खपत नहीं है। कंपनी से परेशान होकर उपभोक्ता ने फोरम में परिवाद लगाया। S M L टेक वर्ल्ड MPINFO क्र वायरल हुआ शादी का अनोखा कार्ड..देखकर आप भी हो जाएंगे हैरान #Monsoon अनुसंधान परियोजनाएँ – डीएसडी Search for: प्रखंड प्रमुख चंदनकियारी SLING INTERNATIONAL 1:25 देखें 'सौ बात की एक बात' में आज दिनभर की सबसे बड़ी ख़बरें Categories Hariom nagar Submittingजमा करें निराश्रित महिलाओं हेतु पेंशन वितरण योजना बोर्ड रिजल्ट Allow Jeff's Helicopter to Stay उद्योग म.प्र नाबालिग से दुष्‍कर्म पर फांसी का प्रावधान करने वाला प्रथम राज्‍य -राज्यपाल, राष्‍ट्रपति पदक प्राप्‍त पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों से भेंट 16/08/2018 टीम दृष्टि स्वदेश विशेषView All HomeBIHARआपका प्रदेशगुड न्यूज : बिहार में बिजली कंपनी निकालने जा रही है 1200 पदों पर बहाली हरियाणा सरकार की ‘पावर टैरिफ सब्सिडी योजना’ – Power Tariff Subsidy Yojna क्राइम केरल में बाढ़ से बिगड़े हालात, PM मोदी का... @JarnailSinghAAP FROM NETWORK18 admin Akhila Singh‏ @akhila_singh 1 Jan 2016 Copyright © 2018 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. महानगर जिला अध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी हमारे बारे में गोपनीयता नीति RSS चन्दन जयसवाल पीसीबी यों का नियंत्रण विनियम 10 अगस्त 2018 जिम्मेदारियां महिन्द्रा मराज़ो के डैशबोर्ड से जुड़ी जानकारी आई सामने, जानिए राज्यवार खबरें/ प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना The total outlay of the project is Rs. 16, 320 crore while the Gross Budgetary Support (GBS) is Rs. 12,320 crore. The outlay for the rural households is Rs. 14,025 crore while the GBS is Rs. 10,587.50 crore. For the urban households the outlay is Rs. 2,295 crore while GBS is Rs. 1,732.50 crore. The Government of India will provide largely funds for the Scheme to all States/UTs. The States and Union Territories are required to complete the works of household electrification by the 31st of December 2018. बिजली कंपनी में अब फिर से अनुकंपा नियुक्ति शुरू होने जा रही है। इससे नियुक्ति का इंतजार कर रहे कर्मचारियों के बेटे-बेटियों को फायदा होगा और उन्हें नौकरी मिल सकेगी। इसके आदेश ऊर्जा विभाग ने जारी कर दिए हैं। World News in Hindi Copyright © 2017-18 Bhaskar Lite.,All Rights Reserved. म.प्र नाबालिग से दुष्‍कर्म पर फांसी का प्रावधान करने वाला प्रथम राज्‍य -राज्यपाल, राष्‍ट्रपति पदक प्राप्‍त पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों से भेंट वेबसाइट तक पहुंचाने वाले लिंक एटक नेता सिंदरी Friday, 20 Jul, 9.35 pm एनबीटी न्यूज, सेक्टर 23 नवभारत टाइम्स की ऐप के साथ फाजिल्का/फिरोजपुर अटल जी की इन 5 कविताओं को पढ़कर जीवन में... सपना चौधरी का नया वीडियो यूट्यूब पर वायरल, देखकर हो जाएंगे भावुक...कभी देखा नहीं होगा ऐसे रेडियो न्यूज़ चुनाव आयोग से पहले बीजेपी के अमित मालवीय ने बता दी कर्नाटक चुनाव की तारीख, आयोग करेगा जांच Hindi NewsMetroDelhiPower Road And Water DelhiCheapest Electricity In Delhi सबसे खतरनाक 10 पुल, यहां जान हथेली पर रखकर चलते हैं… अटल जी के सम्मान में आज सुप्रीम कोर्ट, दिल्ली हाईकोर्ट और जिला अदालतों में 1 बजे तक होगा काम प्रकाश पासवान प्रारंभिक रिपोर्ट में प्रक्रिया की कमी बताया गया है, जिसे दूर किया जा रहा है. जहां-जहां बिजली चोरी की शिकायतें थी, वहां चेक मीटर लगाया गया है, जिसके बाद से बिजली के खपत में कमी आयी है. इससे पुष्टि हो गया है कि लीकेज थी. एचटी लाइन में मुख्यालय स्तर से रीडिंग की मोनिटरिंग की व्यवस्था होगी तथा किसी की भी रीडिंग देखी जा सकेगी. कहा कि जिले में 53 हजार घरों में बिजली पहुंचानी बाकी है, जिसे सौभाग्य योजना से दिसंबर से पहले तक बिजली पहुंचायी जायेगी. शहरी क्षेत्र में बिजली व्यवस्था में सुधार के लिए एक योजना चलायी जा रही है. हरियाणा सरकार की ‘पावर टैरिफ सब्सिडी योजना’ – Power Tariff Subsidy Yojna कृषि एवं सिंचाई 1  5.79 4.29 1.50 4.07 1.50 व्यवसायियों ने जलाया बिजली नियामक आयोग का पुतला गलती कंपनियों की, भुगते जनता घरेलू सिलेंडर 66 रुपए महंगा जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन! मुख्यमंत्री मनोहर लाल का कहना है कि हरियाणा में पहली बार बिजली कंपनियां लाभ में आई हैं। उनके लाइनलॉस भी कम हुए हैं। हम अब प्रदेश की जनता को सस्ती बिजली देंगे। इसकी घोषणा करने से पहले मैंने बिजली कंपनियों से कहा है कि वे उत्पादन प्रभावित न होने दें। इसके लिए यदि कोयले की जरूरत है तो आवश्यक प्रबंध और बातचीत करें। हम नहीं चाहते कि बिजली सस्ती करने की घोषणा कर दें और समुचित आपूर्ति न कर पाएं। हमारी सरकार बिजली भी सस्ती देगी और आपूर्ति भी पूरी देगी। खेलकूद सरल बिजली बिल स्कीम में मुख्यमंत्री जन कल्याण (संबल) योजना-2018 में पंजीकृत श्रमिक उपभोक्ताओं को घरेलू कनेक्शन के लिए प्रति माह 200 रुपये अथवा पिछले 12 माह का औसत जो भी कम हो, का बिल ही भरना होगा। बिल की शेष राशि राज्य सरकार सब्सिडी के रूप में भरेगी। स्कीम का लाभ 88 लाख श्रमिक उपभोक्ताओं को मिलेगा। श्रमिकों के हक में मध्यप्रदेश सरकार द्वारा उठाया गया यह सबसे बड़ा कदम है। स्कीम के लागू होने से अब श्रमिक की आय का एक बड़ा हिस्सा बिजली खर्च से बचेगा। बची हुई यह राशि उनके बच्चों की पढ़ाई-लिखाई आदि में खर्च हो सकेगी। स्कीम का स्वरूप न सिर्फ व्यापक है बल्कि श्रमिकों का व्यापक हित भी इससे जुड़ा हुआ है, जिसके दूरगामी परिणाम सुखद होंगें। यह प्रावधान रखा गया है कि पंजीकृत श्रमिकों के परिवार की समग्र आई.डी. में दिखाये गये सदस्यों में से कोई भी उपभोक्ता होने पर वह लाभ का पात्र होगा। अगर उपभोक्ता चाहे तो नि:शुल्क नामांतरण भी करवा सकता है। बाजार में उछाल, सेंसेक्स 100 और निफ्टी में 30 अंक.. सुभाष ठाकुर ने कहा-  अटल बिहारी वाजपेयी का हिमाचल से था विशेष लगाव Work With Us August 16, 2018 अपने बिटकॉन्स के साथ एक कार खरीदें: वाहन बाज़ार बीपी क्रिप्टोकुरेंसी को अपनाता है Local गैस और इलेक्ट्रिक - टेक्सास में इलेक्ट्रिक कंपनियां गैस और इलेक्ट्रिक - उपयोगिता दरों की तुलना करें गैस और इलेक्ट्रिक - बिजली बचाओ
Legal | Sitemap