1.25 लाख उपभोक्ताओं को मिलेगी सस्ती बिजली हमें खेद हैं कि आप opt-out कर चुके हैं। सिंचाई (मीटर) आइएएस टू  1.20  5.00 Air Conditioner vs Air Purifier: Which is better for Air Purification? सुहाग’रात’ को ससुराल से गहने-पैसे लूटकर फरार हो गई दुल्हन Groups केन्द्र सरकार द्वारा बैटरी सहित 200 से 300 वाट क्षमता का सोलर पावर पैक दिया जाएगा, जिसमें हर घर को 5 एलईडी बल्ब, एक पंखा भी शामिल है। Submit नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच का आरोप है कि आने वाले विधानसभा चुनावों से ठीक पहले शिवराज सरकार ने चुनावी लाभ के उद्देश्य से कमजोर तबकों के वोट बैंक को साधने के लिए यह योजना शुरू की है। इनके अनुसार बकाया बिजली बिलों की माफी का सरकार का निर्णय मनमाना है। जिससे नियमित रूप से बिजली बिल भरने आम उपभोक्ताओं पर प्रत्यक्ष-परोक्ष रूप से आर्थिक बोझ बढ़ेगा। मोहन भागवत बोले- 'अटल चले गए विश्वास नहीं हो रहा' बिज़नस न्यूज़ से और NCR घरेलू (शहरी) (200 यूनिट से अधिक)  3.60  5.50 164 Views 3:07 AM - 4 Jun 2018 from New Delhi, India भाजयुमो प्रदेश कार्यसमिती सदस्य, झरिया Health & Fitness CONTACT US. PRIVACY POLICY. LEGAL DISCLAIMER. COMPLAINT. AUTHORS. INVESTOR INFO. CAREERS. WHERE TO WATCH ऑक्सीजन, पेट्रोल-डीजल, खाद्य पदार्थों, पेयजल की कमी बोर्ड रिजल्ट नैनीताल में अटल जी की याद में बनेगा संग्रहालय Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 11, 2018, 04:30 AM IST साइंटिफिक एक्सपेरीमेंट राज्‍यों से ऊर्जा विभाग अधिसूचनाये डी एन पी 3 प्रयोगशाला अब मीडिया सरकार के कामकाज पर नजर नहीं रखता बल्कि सरकार मीडिया पर नजर रखती है पीयूष पांडेय, नई दिल्ली Updated Sat, 04 Aug 2018 05:20 AM IST Raise Your Voice सरायकेला देश में 25 करोड़ घर हैं और इनमें से 4 करोड़ घरों यानी लगभग 25 प्रतिशत घरों में बिजली नहीं है। विद्युत् मंत्रालय के अनुसार सरकार ने बिजली से वंचित 18,452 गाँवों को बिजली पहुँचाने का लक्ष्य रखा था। इसमें से 14,483 गाँवों को बिजली पहुँचा दी गई है जबकि 2981 में अभी बिजली पहुँचाई जानी है, वहीं 988 गाँव ऐसे हैं जहाँ कोई नहीं रहता। आईएफएस इधर बिजली का बड़ा उपभोक्ता रेलवे है, जिसका कहना है कि उद्योग जगत में लागत घटाने के लिए, बाज़ार में बने रहने के लिए बड़े उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली देनी चाहिए। आपको बता दें कि पश्चिम मध्य रेल्वे विद्युत वितरण कंपनी से बिजली 7 से 8 रुपए प्रति यूनिट पर बिजली खरीद रही थी। लेकिन खुले बाज़ार में उसे ये सिर्फ 4 से 5 रुपए प्रति यूनिट की कीमत पर खरीदी की। जिससे उसे वित्तीय वर्ष में दो सौ करोड़ रुपयों से ज्यादा का फायदा हुआ है। दिल्ली से बिजली खरीदना चाहता है बिहार 400 फीट ऊंचे टाॅवर से पहली बार यह विशेष तस्वीर भाजपा बुद्धि जीवी प्रकोष्ठ का जिला संयोजक July 20, 2018 क्वालिफाइंग हिंदी भाषा प्रश्नपत्र FROPKY पिछली कहानी ऊर्जा उत्पादक संघ के पावर प्रोडक्शन के प्रबंध निदेशक अशोक खुराना के मुताबिक, अगर सरकार सभी पक्षकारों की राय के मुताबिक आगे बढ़ती है, तो उपभोक्ताओं को सीधे तौर पर फायदा मिलेगा। केंद्रीय ग्रिड तंत्र सीमित नहीं रहेगी और सभी संयंत्रों में एकरूपता आएगी। नई बिजली दरों की हुई घोषणा (प्रतीकात्मक फोटो) पाकिस्‍तान जाकर नवजोत सिंह सिद्धू को याद आए अटल, जानिए- क्या कहा राजधानी में पवेलियन ग्राउंड से शुरू हुई पीएम 'सौभाग्य' योजना। राज्य के सभी जिलों में योजना की हुई शुरुआत। दीपिका रणवीर इटली में रचाएंगे ब्याह, मेहमानों को इस वजह से मोबाइल लाने की मनाही 7.70             6.60 ऑडियो आर्टिकल्स नागरिक अधिकार जब देशभर से आए वीआईपी चार्टर्ड प्लेन से भर गया IGI मुंबई। अगर आप समय पर अपना फोन और बिजली का बिल देते हैं तो हो सकता है कि यह रिकॉर्ड आपके भविष्य मेें काम आ जाए। क्योंकि आपको बैंक लोन देते समय ब्याद दर कम कर सकता है। एनबीटी की की एक रिपोर्ट के मुताबिक अगर आप समय पर अपना फोन और बिजली बिल देते हैं तो इसका फायदा होम लोन पर कम ब्याज दर के तौर पर मिल सकता है। भूजल ट्रंप के मीडिया पर हमलों के खिलाफ खड़े हुए अमेरिका के… ​ मनरेगा केरल बाढ़ को लेकर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने जताई चिंता। इंटीरियर डैकोरेशन शहीदों के माता-पिता को मिलेगी सम्मान निधि की 40 फीसदी रकम Leave a Reply © सीपीआरआई, इण्डिया 2012 सभी अधिकार सुरक्षित . Mickler's Beach Must Be Restored or We'll Lose It रोजाना सुबह खाली पेट खाएं 1 चम्‍मच घी, होंगे ये 5 फायदे प्रशिक्षण राष्ट्रीय पर्व को मनाते हैं लेकिन राष्ट्रीयता का मतलब नहीं समझते हैं – प्रधानाध्यापक Source: 20-Jan-16 10:32 केरल में खुदरा क्षेत्र में काम करने वाले को बैठने का अधिकार दिया गया है, क्या दूसरे राज्य भी ऐसा करेंगे? ऊर्जा विभाग सांसद रघु शर्मा ने जन्मदिन पर पुष्कर में की पूजा अर्चना ऊर्जा मीटर परीक्षण प्रयोगशाला All rights reserved. Story first published: Monday, September 1, 2014, 14:43 [IST] शहरी इलाकों में सरकार आवास के निर्माण एवं खरीद के लिए मदद करती है। इसके तहत लोन में ब्याज पर छूट मिलती है और कुछ राशि की मदद भी मिलती है। यूपीए के दौर में यह स्कीम राजीव गांधी आवास योजना के नाम से चल रही थी। Hindi NewsPhotomazzaBusiness PhotogalleryDeendayal Electricity Scheme EVENTS You Are At: हजारीबाग समेत समस्त प्रदेश वासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं बिजली बदलें - बिजली का मीटर बिजली बदलें - सस्ता बिजली बिल बिजली बदलें - ऊर्जा योजनाओं की तुलना करें
Legal | Sitemap