नौकरी की मारामारी के बीच देशभर में खाली पड़े हैं 24 लाख पद जल और उद्योग पीपुल नया फोटो: रॉयटर्स गैजेट्स न्यूज़ 09:42 स्मृति पटल पर रहेंगे अटल, अपूरणीय क्षति हाजीपुर India News in Hindi सुप्रीम कोर्ट का फोटो। गोंडा मौसम त्वरित संपर्क डेली करेंट क्विज़ दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री खुराना के बड़े बेटे का निधन, BJP नेताओं... शामली kadwa sach‏ @SachKadwa 18 Aug 2015 रिआयत पहला शून्य ऊर्जा वाला सरकारी ऑफिस बर्लिन में 2013 में शुरू हुआ. छत पर लगे सोलर पैनल पूरे ऑफिस के लिए बिजली बनाते हैं. यूरोपीय संघ में 2019 से सभी घर 'करीब करीब जीरो एनर्जी बिल्डिंग' होंगे. This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK ज्यादा पढ़ी गयी खबरे #Nutritiousfoods: थाइरॉइड हॉर्मोन को नियंत्रित करता है Iodine, जानें इसके फायदे शिविरों में पहुंच जनसमस्याएं सुन रहे हैं मंत्री देवनानी कर्मचारी संगठनों ने किया स्वागत CONNECT WITH US अकबरपुर अभिजीत राज सुधेड़ में पलटा पंजाब के श्रद्धालुओं का वाहन, 3 घायल एक लाख की जनसंख्या वाले शहर में 29 हजार लोगों को असंगठित मजदूर तो बना दिया गया लेकिन जिन बिजली योजनाओं का फायदा लेने के लिए ये मजदूर बने थे उन योजनाओं में केवल 11 हजार लोग ही जुड़ पाए हैं। अधिकांश असंगठित पंजीकृत मजदूर बिजली कंपनी के दायरे में ही नहीं आ रहे हैं। इस कारण वे योजना से नहीं जुड़ पाए हैं। नपा में असंगठित मजदूरों के रजिस्ट्रेशन के लिए रोज लंबी कतारें लग रही हैं। अब तक 29 हजार लोग असंगठित मजदूर बन गए हैं। 29674 असंगठित मजदूर बनने के बावजूद बिजली योजनाओं का लाभ केवल 11679 लोगों को ही मिला है। अधिकांश असंगठित मजदूर इन बिजली योजनाओं के फायदे से दूर हैं। बिजली बिल माफी योजना में 6684 VIDEO: एनकाउंटर से भाग निकले तीन आतंकी, जवान हुआ शहीद Cookie Policy Categories List Navodaya Times Navigation कार्ड और खातों को लिंक बिजली कंपनी जून अंत तक कर लेगी। योजना के तहत असंगठित मजदूरों के कार्डधारी परिवारों के लिए 200 रुपए में पूरे महीने बिजली दी जाएगी। शासन ने असंगठित श्रेणी के मजदूरों के हाल ही में पंजीयन कराने के बाद कार्ड बनाए हैं, योजना के तहत भी कार्ड के नंबर से बिजली खातों को लिंक किया जाएगा। August 18,2018 10:30:28 AM परिवाद पर सुनवाई करते हुए फोरम अध्यक्ष इंद्रा सिंह ने मीटर रीडिंग लेकर वास्तविक खपत पर बिल देने और परिवादी को मानसिक परेशानी के रूप में 2000 और परिवाद व्यय के 1000 रुपए भुगतान करने के आदेश विद्युत कंपनी को दिए हैं।  तिरछी नज़र चुनाव आयोग के फैसले के बाद अब शरद गुट ने नीतीश के खिलाफ किया बड़ा ऐलान…. प्रारंभिक रिपोर्ट में प्रक्रिया की कमी बताया गया है, जिसे दूर किया जा रहा है. जहां-जहां बिजली चोरी की शिकायतें थी, वहां चेक मीटर लगाया गया है, जिसके बाद से बिजली के खपत में कमी आयी है. इससे पुष्टि हो गया है कि लीकेज थी. एचटी लाइन में मुख्यालय स्तर से रीडिंग की मोनिटरिंग की व्यवस्था होगी तथा किसी की भी रीडिंग देखी जा सकेगी. कहा कि जिले में 53 हजार घरों में बिजली पहुंचानी बाकी है, जिसे सौभाग्य योजना से दिसंबर से पहले तक बिजली पहुंचायी जायेगी. शहरी क्षेत्र में बिजली व्यवस्था में सुधार के लिए एक योजना चलायी जा रही है. प्रमुख संवाददाता, लखनऊ उजाला स्कीम के तहत किफायती रेट पर एलईडी उपकरण लेने के लिए विभाग की ओर से लगाए जाने वाले कैंपों या बिजली विभाग के सब डिविजनल ऑफिस में जाकर लोगों को अपना आधार कार्ड दिखाना होगा। आधार कार्ड के अलावा ड्राइविंग लाइसेंस या अन्य पहचान पत्र दिखाना भी अनिवार्य होगा। एक परिवार को 10 एलईडी बल्ब, 10 ट्यूबलाइट्स और चार सीलिंग फैन मिल सकेंगे। लोगों को एलईडी बल्ब, ट्यूब लाइट्स और सीलिंग फैन किफायती रेट पर मुहैया करवाए जा रहे हैं। ​ UPA राज में भी चल रही थीं NDA की ये योजनाएं बिजली दर में बढढ़ोतरी आवश्यक : अरविंद प्रसाद वितरण TV Serials 2.5 किलो चरस व 600 ग्राम हैरोइन के साथ 2 गिरफ्तार परीक्षा उपयोगी पुस्तकें (वैकल्पिक विषय) मनमोहन सिंह के कार्यकाल में हासिल हुई थी दहाई अंक में विकास दर: रिपोर्ट शादी से बचने के लिए दोस्त के घर तीन दिन कमरे में बंद रहे थे अटल बिहारी वाजपेयी टुण्डी विधानसभा क्षेत्र के लोगो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं बीएसईएस के प्रवक्ता ने कहा, सभी ग्राहकों को Paytm की वेबसाइट और ऐप के जरिए आखिरी तारीख से 7 दिन पहले बिजली बिल जमा करने पर 200 रुपए का कैशबैक मिल सकता है। 200 रुपए की नकदी वापस पाने के लिए उन्हें कूपन कोड बीएसईएस200 का उपयोग कर बिजली बिल भुगतान विकल्प पर क्लिक करना होगा, जबकि 150 रुपए नकदी वापस पाने के लिए बीएसईएस150 कूपन कोड पर क्लिक कर बिल का भुगतान करना होगा। What is Inverter Technology AC and How it is Different from BEE 5 star Non Inverter AC? Watch India vs England on Sling TV Sat Aug 18 2018 16:28:47 अटल बिहारी का हालचाल लेने पहुंचे थे कई बड़े नेता, AIIMS के आसपास लगा रहा भारी जाम समाचार / प्रेस विज्ञप्ति देवरिया उन्नत खोज नैनवां में एक शाम शहीदों के नाम कार्यक्रम Public Notices -------Advertisement-------- Why Use 3-pin plugs for electrical safety? नया हरियाणा : 10 अगस्त 2018 डीडीयूजीजेवाई power company jobs Toggle navigation 0.50                 2.65 (a)    Environmental up-gradation by substitution of Kerosene for lighting purposes रेखा देवी Read More: Agra News Hindi Latest Agra Latest News Hindi Hindi Newsडीआईसीविद्युतयोजनाअनुश्रवण अक्टूबर 12, 2017 Ranjeet Jha आपका प्रदेश, ट्रेंडिंग 0 iOS पावर प्लांट लगाने के लिए सरकार निविदा निकालेगी. बताया जाता है कि तीन-चार कंपनियां ने इस सिलसिले में ऊर्जा विभाग और राज्य पावर जेनरेशन बिजली कंपनी से संपर्क भी किया है. कंपनी सूत्रों के अनुसार जो कंपनी राज्य को सस्ती बिजली देगी उसे सोलर पावर प्लांट लगाने में प्राथमिकता मिलेगी. पीरपैंती व कजरा में जमीन उपलब्ध है.  एंट्री लेवल फोन्स के लिए लॉन्‍च हुआ एंड्रॉयड 9 पाई हुआ लॉन्‍च, भारत समेत 120 से अधिक देशों में होगा उपलब्‍ध महाराष्ट्र                             100                 6.10 रुपए Betiah खबरें बाल जगत अगले साल दिसंबर तक बिहार के हर खेत में पहुंचेगी बिजली: सुशील मोदी electricity department up not paid the electricity bill electricity connection 24 hours electricity Noida News Hindi today breaking news उपलब्‍ध सुविधाऍं कॉलेज विद्यार्थियों के लिये टिप्स Bollywood News in Hindi पावर कॉरपोरेशन की चारों बिजली कंपनियों के उपभोक्ताओं पर रेग्युलेटरी सरचार्ज प्रथम अलग-अलग लागू है। पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम में सबसे ज्यादा 2.84 फीसदी। एक हजार रुपये पर करीब 28 रुपये, दक्षिणांचल में 1.14 फीसदी। एक हजार पर 11 रुपये, पूर्वाचल के 1.03 फीसदी। POPULAR NEWS THIS WEEK बेतिया 101 से 500 - 6.75 - 6.65 TRENDING TOPICS लेकिन इस योजना पर बहुत ही धीमी गति से काम बढ़ रहा है. शहरी आबादी के लिए दो करोड़ मकान बनाने के लक्ष्य में से दिसंबर 2017 के आखिरी तक सिर्फ 4.13 लाख मकान ही तैयार हो पाए थे और 15.65 लाख मकान निर्माणाधीन थे. एक्सक्लूसिव WELFARE हमारी दूसरी साइट्स Never miss a Moment The expected outcome of Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana is as follows: पुलिस ग्राम वजीरगंज में नहीं रुक रही शराब बनाने एवं बेचने का… बिजली स्विच करें - बिजली की कीमतों की तुलना करें बिजली स्विच करें - ऊर्जा दरों की तुलना करें बिजली स्विच करें - सस्ते उपयोगिताएं
Legal | Sitemap