Time: 2018-08-18T05:27:18Z Contents of eenaduindia.com are copyright protected.Copy and/or reproduction and/or re-use of contents or any part thereof, without consent of UEPL is illegal.Such persons will be prosecuted. परावैद्युत कला और साहित्य राजधानी सहित नगर निगम शहरों में बिजली कटौती जारी जारी आरएसओपी परियोजनाओं की सूची रोहतक Terms & Conditions | Refund & Cancellation | Privacy Policy आखिरकार मोहम्मद शमी को मिली खुशी, पत्नी हसीन जहां के दावों पर कोर्ट ने सुनाया अपना फैसला क्या विदेशी निवेश बढ़ेगा बिजली सस्ती करने की तैयारी में सरकार, उपभोक्ताओं को सीधा लाभ मिलेगा! जालंधर To Top Navigation पश्चिमांचल को छोड़कर पूरे प्रदेश में घरेलू और किसानों की बिजली सस्ती हो गई है। बिजली बिल पर लगने वाले रेग्युलेटरी सरचार्ज में विद्युत नियामक आयोग ने कटौती कर दी है। भारी बारिश से कर्नाटक के कोडगू में हो रहे भूस्खलन, बाढ़ जैसे... Ludhiana GST के चलते बिगड़ा बजट तो बारिश ले डूबी सब्जियां स्वतंत्रता दिवस समारोह | मंत्री मेहदेले ने ध्वजारोहण कर ली परेड की सलामी August 11, 2018 दक्षिण अफ्रीका121/10(24.4) पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के कार्यक्रम वितरण प्रणालियाँ प्रभाग में उपलब्ध साफ्टवेयर सुविधाएँ - डीएसडी पर्यटन 15 शहरों में रिलांयस-बीपी करेगा घरों में गैस का वितरण, लाइसेंस लेने के लिए लगाई बोली बिजली कनेक्शन होगा सस्ता Col rai‏ @col_rai 18 Aug 2015 इसलिए इस मंदीर का विकास करना आवश्यक है। बालक भोजन में बाउरीसाई ,कितापीड ,लालबजार,सुबानसाईं,कराईकेला,पुरनाडीह, हुडांगदा, कोचासाई, बरडीह ,देंगसर्गी, गोपालपुर, रांगरिंग समेत 64 गांव के लोग शामिल हुए थे। ध्वनि प्रदूषण (विनियमन और नियंत्रण) नियम, 2000 बिजली बनाने के कई तरीके हैं. कोयले से बिजली बनती है, हवा से, सूरज की गर्मी से. हम ढेर सारी बिजली बना तो लें लेकिन बना कर उसे स्टोर कहां करें? क्या पहाड़ी गुफाएं इसमें मदद कर सकती हैं? Photos Updated: March 21, 2018, 4:59 PM IST अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति प्रशिक्षण योजनाबाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं ‘मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूं: लौटकर आऊंगा, कूच से क्यों डरूं?’ अध्यक्ष-नवजीवन सहकारिता हाउसिंग सोसायटी, उपाध्यक्ष-बस्ती बिकास समिति Copyright © 2017 Firstpost.com — All rights reserved. NETWORK 18 SITES अंतरराष्ट्रीय खबरें क्रिकेट खबरें - इस योजनान्तर्गत सुरक्षित एवं अर्द्धसंवेदनशील क्षैत्रों के साथ-साथ डार्क जोन में आने वाले जनजाति क्षैत्र के सभी श्रैणी के काश्तकारों को लघु सिंचाई उद्धेश्यों हेतु राज्य के 6 जिलो में बांसवाड़ा, उदयपुर, डूंगरपुर, चित्तोड़गढ़, सिरोही एवं बांरा की 25 पंचायत समितियों के काश्तकारों को जल धारा योजनान्तर्गत ऋण सुविधा 9 से 15 वर्ष की अवधि हेत उपलब्ध कराई जायेगी। ...जब अटल बिहारी ने ली चुटकी, कहा- अब तो इंदिरा मुझे बड़े प्यार से देखती हैं Like7.4M ऊधम सिंह नगर @AamAadmiParty ओर इसका सबूत भी होगा अ।प के पास सरल बिल योजना 1 जुलाई से शुरू हो रही है। इसका फायदा जिले के 1.25 लाख ग्राहकों को होगा और उन्हें सस्ते में बिजली मिलेगी। ये वो उपभोक्ता है जिन्होंने अपना पंजीयन श्रमिक डायरी के लिए कराया है। इससे उन्हें सस्ती बिजली मिलने लगेगी। 100 यूनिट जलाने पर ग्राहकों को सिर्फ 200 रुपए चुकाना होंगे। 100 यूनिट की खपत पर वर्तमान में 700 रुपए हैं, ऐसे में 500 रुपए सरकार देगी। उपभोक्ताओं को बिजली खातों को बिजली कंपनी पहुंच लिंक कराना होगा और फिर फायदा मिलने लगेगा। जिले में 3.70 लाख बिजली उपभोक्ता है। 45 फीसदी उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली मिलेगी। Rajasthan Scheme एसडीपीओ, बड़कागांव थाना इंदिरा गांधी ने ब्लू स्टार पर अटलजी से बात करने के लिए बनारस में टेलीफोन लाइन बिछवा दी थी 22 mins आईसीआईसीआई बैंक: केरल के ग्राहकों से इस महीने ईएमआई चुकाने में देरी पर पेनल्टी नहीं लेगा 9 mins भारतीय-विद्युत-परिदृश्य प्रदेश में बिजली उपभोक्ताओं की अनुदानित श्रेणी कृषि व घरेलू है और इनका हिस्सा क्रमश: 42 व 21 फीसदी है, वहीं देश में यह 23 व 24 फीसदी है जिसके चलते विद्युत लागत और राजस्व में अंतर ज्यादा रहा है। वहीं वर्ष 2005 में पड़ोसी राज्यों से? बिजली खरीद जहां 2.09 रुपए प्रति यूनिट रही, वहीं बिजली कंपनियों ने वर्ष 2008 में 8.83 रुपए प्रति यूनिट से बिजली खरीद कर कम दरों पर बिजली सप्लाई कर घाटे को बढ़ाया है।  मराठी किसान समाचार LIVE TV सौभाग्य इसके तहत 9 वाट का एलईडी बल्ब 65 रुपये में, ट्यूबलाइट 230 रुपये और फाइव स्टार पंखा 115 रुपये में दिया जा रहा है। इससे बिजली कम यूज होगी और लोगों के बिजली बिल कम आएंगे। हालाकि खरीदने वाले उपभोक्ताओं के उपकरण में अगर कोई खराबी आती है तो उसे चेंज कर दिया जाएगा। देश में अब कोयले की कमी नहीं है और बिजली उत्पादन में अतिरिक्त क्षमता के माध्यम से लक्ष्य से भी अधिक प्राप्त किया गया है।  राशि विकासनगर राशिफल: जानें कैसे रहेंगे 18 अगस्त को आपके सितारे Top colleges ranked by the prettiest girl students संबंधि‍त ख़बरें Raise your voice नई सेटिंग से छूटेंगे एसी उपभोक्ताओं के पसीने 25.06.2018 रंजन सिंह बागवानी फसलों के लिए जिलों में खुलेंगे... Online Services Main Menu TOLL FREE Solar Solar Energy बाकी समाचार एयर इंडिया के पायलटों ने कंपनी प्रबंधन को दी चेतावनी, कहा- भत्ता दो... उत्पाद का नाम: 1 चरण बिजली प्रीपेमेंट मीटर नोएडा. उत्तर प्रदेश के ऊर्चा मंत्री के निर्देशानुसार 30 जुलाई से गौतमबुद्ध नगर में दो दिवसीय अभियान ‘बिजली काटो, बिल वसूलो’ चलाकर बड़े बकायदारों के बिजली के कनेक्शन काटे जा रहे हैं। दरअसल इस अभियान के तहत जिन उपभोक्ताओं ने दो महीनों से ज्यादा समय से बिजली बिल का भुगतान नहीं किया है और जिनपर बिल बकाया है उनके बिजली कनेक्शन काटे जा रहे हैं। बाल वाटिका मौसम विभाग की चेतावनी, छह राज्यों में मूसलाधार बारिश की आशंका © 2018 Deutsche Welle | डाटा सुरक्षा | लीगल नोटिस | संपर्क करें | मोबाइल वर्जन बजट ध्वनि प्रदूषण (विनियमन और नियंत्रण) नियम, 2000 02018-07-17T12:09:49 अप्रैल में जीएसटी संग्रह 94,000 करोड़ रुपये ALL... निदान केबिल तथा संधारित्र प्रभाग (डीसीसीडी) गॉसिप 09:41 इस फिल्म में सलमान ने पहना खुद डिजाइन किया जैकेट बड़ी खबरें म. प्र. पावर ट्रांसमिशन क. लि. मनीष सिसोदिया के खिलाफ मानहानि की शिकायत खारिज दिल्ली में बिजली की दरों में बढोतरी की आहट सुनाई दे रही है. निजी बिजली कंपनियों ने घाटे का हवाला देकर बिजली की दरें बढ़ाने की मांग की है और दिल्ली इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी अथॉरिटी के पास अपनी अर्जी भी लगा दी है. Try Our Other Websites! पौड़ी नई दर से घरेलू उपभोक्ताओं को चार से आठ फीसदी तक राहत दी गई है। चुनावी साल में किसान महंगी बिजली का मुद्दा उठा रहे थे, जिसे देखते हुए आयोग ने किसानों को विशेष रियासत देते हुए 12 फीसदी तक बिजली के दाम कम किए हैं। उपभोक्ताओं को 531 करोड़ रुपये तक की छूट दी गई है। बिजली की नई दर एक अप्रैल से लागू होगी। Advertise with Us मुख्य पृष्ठspotlightविशेष लेख By Hussain Kanchwala on January 5, 2018 आरटीआई अधिनियम के बारे में April 27, 2018 श्रेढ़ी https://www.bbc.com/hindi/india-40469760 टास्क मेनेजर चार लोग बैठ सकते हैं. अध्यक्ष जिला परिषद् NewsLetter ‘बिजली कंपनी विलफुल डिफॉल्ट नहीं है तो उसे NCLT में नहीं ले जाया जा सकता’ Your name जानकारों का दावा है कि बिजली कंपनियों का मुनाफा बढ़ा है. जबकि दिल्ली की तीनों बिजली कंपनियों का कहना है कि उन्हें 21000 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है जिसकी भरपाई बिजली की दरों में करीब बीस से तीस फीसदी वृद्धि करके की जा सकती है. गैस और इलेक्ट्रिक बिल - विद्युत विकल्प गैस और इलेक्ट्रिक बिल - वाणिज्यिक विद्युत आपूर्ति गैस और इलेक्ट्रिक बिल - गैस और इलेक्ट्रिक कंपनियां
Legal | Sitemap