Chandigarh News in Hindi पेनाल्टी के रूप में निगम द्वारा दिये गये  टैरिफ प्रस्ताव से 120 करोड़ रुपये घटा दिया गया है. आयोग के निर्देश के बावजूद वितरण निगम ने उपभोक्ताओं को  सिक्यूरिटी डिपोजिट पर इंटरेस्ट भी नहीं दिया है. अगर अगले छह महीने तक उपभोक्ताओं को  सिक्यूरिटी पर इंटरेस्ट नहीं मिलता है, तो फिक्स चार्ज में पांच फीसदी की कटौती की  जायेगी. छह महीने के अंदर डिमांड बेस्ड मीटर लग जाने के बाद डिमांड बेस्ट  टैरिफ लागू की जायेगी.  Baba Dham विद्युत रोधन प्रयोगशाला (*On an order value between Rs. 10, 000 and Rs. 14,999) आखिर क्यों संजू बाबा बॉलीवुड के बेस्ट... मीडियाकर्मियों के लिए पद का नाम: 27 जुलाई 2018 Spacial प्रतीकों के साथ 7 खंड एलसीडी राशिफल: जानें कैसे रहेंगे 18 अगस्त को आपके सितारे सपा Toggle navigation दूरस्थ शिक्षा कार्यक्रम मणिपुर गैजेट्सनया Delhi ऐप्स कार्यक्रम को संबोधित करते हुए झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक राहुल पुरवार ने कहा कि झारखंड के सभी ठच्स् एवं ।च्स् परिवार के घरों तक बिजली दिसंबर तक पहुंचा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि संथाल परगना के सभी 6 जिले दुमका, देवघर, साहेबगंज, जामताड़ा, पाकुड़ एवं गोड्डा में से दुमका एवं देवघर जिला में सभी घरों तक जुलाई तक बिजली पहुंचा दी जाएगी तथा शेष बचे 4 जिलो साहेबगंज, जामताड़ा, पाकुड़ एवं गोड्डा के सभी घरो तक बिजली अक्टूबर महीने तक पहुंचा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि पूरे झारखंड में 500 सब स्टेशन बनाने का लक्ष्य है। जिनमें से 150 सब स्टेशन बनाया जा चुका है। बचे हुए लक्ष्य को बहुत जल्द पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पूरे झारखंड राज्य में 1.50 लाख ट्रांसफर्मर लगाना है जिनमें से 30 हजार ट्रांसफर्मर लगा दिया गया है। उन्होंने कहा कि अरबन ग्रामीण क्षेत्रों में रिंग सिस्टम को लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मार्च 2020 तक 15 प्रतिशत बिजली लॉस पर कामयाबी प्राप्त कर ली जाएगी । उन्होंने कहा कि आप सभी अपना बिजली बिल प्रज्ञा केंद्र के माध्यम से जमा कर सकते हैं, पूरे झारखंड में 4000 प्रज्ञा केंद्र है, जिनमें से 2000 प्रज्ञा केंद्र एक्टिव मोड में कार्य कर रही है। बचे हुए प्रज्ञा केंद्र को भी बहुत जल्दी एक्टिव मोड में लाने की दिशा में कार्य चल रही है। इस प्रज्ञा केंद्र के माध्यम से आप सभी अपना बिजली बिल आसानी से जमा कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि कंज्यूमर को शिकायत दर्ज करने में परेशानी होती था जिसे ध्यान में रखते हुए सरकार ने कंज्यूमर कॉल सेंटर की स्थापना की। इस कंज्यूमर कॉल सेंटर के माध्यम से आप अपनी शिकायत दर्ज कर पाएंगे। सोशल मीडिया के माध्यम से भी आप अपनी शिकायत दर्ज करने में किसी प्रकार की परेशानी नही होगी। इस प्रकार की प्रक्रिया हम लोगों ने बनाए हैं अब कंज्यूमर को अपने शिकायत दर्ज करने में किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगा । गंगापार आईएफएस सेहत जवाब -हमारे देश में घरेलु विद्युत् कनेक्शन लेने वाले लोगों का प्रतिशत बहुत कम है। इस सौभाग्य योजना का उद्देश्य देश के सभी ग्रामीण और शहरी इलाकों में रहरहे सभी शेष गैर-विद्युतीकृत परिवारों को अंतिम छोर तक बिजली कनेक्शन द्वारा ऊर्जा प्रदान करना है। उल्लेखनीय है कि कृषि एवं उद्योग तथा कुछ अन्य श्रेणियां तो सबसिडी से लाभान्वित होंगी परंतु घरेलू और कमॢशयल उपभोक्ताओं पर ही इसका बोझ पड़ेगा और ऐसा करके स्वयं को जनहितैषी बताने वाली कांग्रेस सरकार ने लोगों पर बोझ ही डाला है। & ldquo; सिचुआन ने एक तरफ, नीति स्तर पर एक परिपत्र जारी किया, जिसके लिए नए छोटे जल विद्युत स्टेशनों की आवश्यकता नहीं थी; [उसी समय] पावर कंपनी उत्तरार्द्ध की पावर ग्रिड को बढ़ावा देने के लिए छोटे जल विद्युत स्टेशनों के अधिग्रहण को आगे बढ़ा रही है, [छोड़कर] बिटकॉइन कम लागत वाली विद्युत स्थान तेजी से तंग है। & Rdquo; भूमिका तथा प्रकार्य pallavi kumari | Noida, Uttar Pradesh, India सबसे ऊपर चलें जब इमरान खान की चुनौती ने बदलवा दी गावस्कर के रिटायरमेंट की तारीख... बिज़नस यूनिट        अभी है         आयोग का फैसला      zee media websites मप्र में बिजली के दामों में 8 से 10% बढ़ोतरी The fastest way to share someone else’s Tweet with your followers is with a Retweet. Tap the icon to send it instantly. यह सामग्री जिला प्रशासन के अधीन है। यूरोप Category इन्वेस्टर कॉलम प्रोफ़ेसर दिवाकर ने कहा, ''रियल एस्टेट और शराब में सबसे ज़्यादा काला धंधा होता है, लेकिन इसे जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है. अगर सरकार काले धन पर काबू चाहती है तो रियल एस्टेट को बेलगाम कैसे छोड़ सकती है? सरकार नहीं चाहती है कि रियल एस्टेट में लगने वाले काले धन को नियंत्रण में रखे इसलिए उसे जीएसटी के दायरे से बाहर रखा है.'' जारी परामर्श - डीएसडी 1- नवकूपडगवैल/डगकमबोरवैल/केविटिपाइप बोरवैल योजना.. मलेशिया में सरकार के खिलाफ बोलने की आजादी मिली; पहले 6 साल जेल और 85 लाख रु जुर्माना होता था 5 mins रोहतास Recent Comments सुहाग’रात’ को ससुराल से गहने-पैसे लूटकर फरार हो गई दुल्हन अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति प्रशिक्षण योजनाबाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं 1999018990खरीदे VIDEO: उत्तराखंड में आफत की बारिश, बहते-बहते बचा बाइक सवार अवस्था संपादित करने के स्वीकृत नई दिल्ली। इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी बीएसईएस ने मोबाइल कॉमर्स प्लेटफॉर्म Paytm के साथ गठबंधन किया है। इसके तहत बिजली बिल भुगतान करने पर उपभोक्ताओं को कैशबैक दिया जाएगा। बीएसईएस के प्रवक्ता ने कहा कि पेमेंट करने के एक हफ्ते बाद बिलों का भुगतान करने वाले ग्राहकों को 200 रुपए तक कैशबैक मिलेगा। हालांकि कंपनी के मुताबिक पेमेंट डेट से पहले अन्य सभी भुगतानों के लिए यह योजना फरवरी से मार्च तक वैध रहेगी। एक्ट्रेस मनीषा कोइराला के जन्मदिन की फोटोज आई सामने, शाहरुख ने कहा 'कैंडल तो बुझा लो' किसी को नहीं, यह अपने आप मिला है कबीर अमृतवाणीः सुुनिए कबीरदास के 10 बेहतरीन दोहे अब आपको मिलवाते हैं कश्मीर की रहनेवाली इंशा बशीर से। इंशा बशीर इन दिनों चर्चा में हैं क्योंकि इन्होंने व्हीलचेयर पर होने के बावजूद कश्मीर के लिए बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया और अब इंशा बाकी युवाओं के लिए मिसाल बन गई हैं। धनबाद सहित समस्त झारखण्ड वासियो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं अन्य खेल खबरें उन्होंने कहा कि मंथली मिनिमम चार्जेज डीएस 3, एनडीएस 2 एवं एनडीएस 3 उपभोक्ता से मासिक न्यूनतम चार्जेज हटा लिए गए हैं। नेगी ने कहा कि एनडीएस 2 श्रेणी में .5 किलो वाट (आधा किलोवाट) के लिए नए स्लैब का सृजन किया गया है। फिल्म रिव्यू ऊर्जा राज्य मंत्री पुष्पेंद्र सिंह ने दावा किया कि 2019 तक प्रदेश के हर घर को बिजली कनेक्शन दे दिया जाएगा। जंगल या अन्य कारणों से कुछ आबादी क्षेत्र हैं और जहां बिजली नहीं दी जा सकती, उन्हें सौर ऊर्जा से बिजली से जोड़ा जाएगा। ऐसी बसावटों को चिन्हित कर लिया गया है। ऊर्जा राज्य मंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में 93 लाख घरेलू आवास हैं, उनमें से 67 लाख कनेक्शन दिए जा चुके हैं। 100 से कम आबादी की ढाणियों में दीनदयाल उपापध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत दो साल के भीतर 20 लाख घरेलू बिजली कनेक्शन दिए जाएंगे। अपने पसंदीदा टॉपिक्स चुनें close बसंतपुर के पुल से फरीदाबाद-दिल्ली की कनेक्टिविटी होगी बेहतर पुनःसंरचित एपीडीआरपी नया हरियाणा : 22 घंटे पहले कंज्यूमर क्यों झेले 'एक्स्ट्रा' करंट? आलेख   ⁄  City News Computer में Folder Lock कैसे सेट करे बेस्ट तरीका TweetWhatsAppPrintMore बिजली के खंभे के लिए गड्ढा खोद रहे थे मजदूर, मिला 'खजाना' Time: 2018-08-18T05:25:45Z Tags: Final Report Gorakhpur Final Report news Gorakhpur Gorakhpur City News Gorakhpur Final Report Gorakhpur Local News Gorakhpur News in Hindi Latest Gorakhpur News जुलाई से 200 रुपए महीने में बिल  Prelims Test Series - 2019, Starting from 2nd September, 2018.  View Details ग्वालियर। वो जमाना गया जब बिजली विभाग बेचारा और उपभोक्ता चोर हुआ करते थे। अब तो बिजली कंपनियां अपने उपभोक्ताओं को खुलेआम लूट रहीं हैं। इतना ही नहीं लूटने वाले अधिकारियों को सम्मानित भी किया जा रहा है। यहां रोशनी घर जोन ने कुल 33 लाख यूनिट बिजली उपभोक्ताओं को सप्लाई की, जबकि 45 लाख यूनिट के बिल जारी करके, वसूली कर ली। मात्र एक जोन में 12 लाख यूनिट के फर्जी बिल वसूल लिए गए। आश्चर्यजनक तो यह है कि इस तरह की फर्जी बिल जारी करने वाले अधिकारियों को 15 अगस्त के अवसर पर सम्मानित किया जाने वाला है।  नवभारत टाइम्स ऑन फेसबुक अटल ने आडवाणी से मतभेदों पर लखनऊ में दी थी सफाई, कही थी ये बातें कमरे रोशनी से भरपूर हैं और हवा की गुणवत्ता अच्छी है. साथ ही तापमान भी स्थिर रहता है. इस तरह का घर बनाना सामान्य से महंगा है लेकिन इसके बाद ऊर्जा की बचत के कारण खर्चा कम होता है. 1699914088खरीदे 18 नई विद्युत योजनाएं, 1850 करोड़ का सालाना बजट मंजूर आर.टी.आई. Bihar News in Hindi पत्रिका स्टिंग: बिना किसी परमिशन के चल रहे हैं पानी प्लांट पीयूष पांडेय, नई दिल्ली Updated Sat, 04 Aug 2018 05:20 AM IST गैस और इलेक्ट्रिक बिल - बिजली बदलें गैस और इलेक्ट्रिक बिल - विद्युत कंपनी आज बदलें गैस और इलेक्ट्रिक बिल - गैस और इलेक्ट्रिक की तुलना करें
Legal | Sitemap