Jio Phone 2 लॉन्च: जानिए कीमत, जरूरी बातें ...तो क्या इस बार कोई महिला संभालेगी राजस्थान यूनिवर्सिटी कुलपति यूनिवर्सिटी का जिम्मा Saroj Kumar Meher Top हिमाचल में भारी बारिश से तबाही, मलबे ने रोकी रफ्तार पावर कॉरपोरेशन की चारों बिजली कंपनियों के उपभोक्ताओं पर रेग्युलेटरी सरचार्ज प्रथम अलग-अलग लागू है। पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम में सबसे ज्यादा 2.84 फीसदी। एक हजार रुपये पर करीब 28 रुपये, दक्षिणांचल में 1.14 फीसदी। एक हजार पर 11 रुपये, पूर्वाचल के 1.03 फीसदी। पहाड़ में सब्सिडी का लाभ लेकर पिरुल से पैदा करे बिजली : सीडीओ Cancer (कर्क) प्रिया की तरह एक वीडियो से छा गया MP का यह शख्स, देश भर में वायरल हुआ ... सूत न कपास, जुलाहों में लट्ठम लट्ठा . . . posted on August 18, 2018 Recent Comments BUDGET 2017 केरल में बाढ़ और बारिश का तांडव, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी, प्रधानमंत्री.. हसीन जहां नहीं, सिर्फ अपनी बेटी का खर्च उठाएंगे मोहम्‍मद शमी, कोर्ट से मिली बड़ी राहत Ceiling Fan blade angle can impact electricity consumption पटना : राज्य में लगने वाले दो सोलर पावर पावर प्लांट में उन कंपनियों को  राज्य सरकार प्राथमिकता देगी जो बिहार को सस्ती बिजली उपलब्ध करायेगी. बिजली कंपनी यह आकलन कर रही है कि इस पर कितना खर्च आयेगा. साथ ही इसका भी आकलन हो रहा है कि बिहार को किस कीमत पर बिजली मिलेगी.  बताया जा रहा है कि बिजली कंपनी सस्ती बिजली उपलब्ध करानेवाली कंपनी को पावर प्लांट लगाने में तरजीह देगी. #अटल बिहारी वाजपेयी अशोक लीलैंड बांग्लादेश को निर्यात करेगा 300 डबल डेकर बसें अपनी बात एक्ट्रेस मनीषा कोइराला के जन्मदिन की फोटोज आई सामने, शाहरुख ने कहा 'कैंडल तो बुझा लो' क्या खास है इस योजना में ? Español अरबाज खान के साथ अपनी मां के घर दिखीं मलाइका VIDEO VIRAL : वरमाला के समय हुआ कुछ ऐसा, दुल्हन ने जड़ दिया तमाचा Menu 71 साल पहले ऐसे मना था देश का पहला स्‍वतंत्रता... बिल बकाया होने पर बिजली कनेक्शन काटा, लाइनमैन को पीटा प्रबंध निदेशक श्रावस्ती कर्क प्रमुख, कटकमसांडी पहले चरण का प्रशिक्षण आसान था. इसमें सभी प्रशिक्षुओं को 5000-12,000 रुपये देने थे. इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं कि नेशनल स्किल डेवलपमेंट काउंसिल (एनएसडीसी) पहले चरण का लक्ष्य प्राप्त कर लिया. इसने 18 लाख लोगों को प्रशिक्षण दिया और अतिरिक्त 12 लाख लोगों को प्रमाणित भी किया. हरियाणा के ग्रामीण क्षेत्रों को 24 घंटे बिजली उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से शुरू की गई म्हारा गांव-जगमग गांव योजना एक बेहतरीन प्रयोग है जिसने परंपरागत राजनैतिक सांस्कृति को बदलने का कार्य किया है। इससे पूर्व सत्ता में आने की इच्छा रखने वाले सभी राजनेता लोगों को बिजली के बिल फाडऩे के लिए प्रेरित करते थे और सत्ता में आने के पश्चात उन पर गोलियां चलवाते थे। वर्तमान सरकार ने इस परंपरा को तोड़ते हुए लोगों को 24 घंटे बिजली उपलब्ध करवाने की  शुरूआत की है। ऊर्जा राज्य मंत्री पुष्पेंद्र सिंह ने योजना की घोषणा करते हुए कहा कि पहले फेज में 11 केवी की लाइन से 650 मीटर तक बसी ढाणियों और मकानों को बिजली कनेक्शन दिए जाएंगे। 11 केवी लाइन से 150 मीटर तक बसे मकानों को डिमांड राशि 10 हजार रुपए लगेगी। 150 से 500 मीटर दूरी पर बसे मकानों को कनेक्शन लेने के लिए पोल का चार्ज  हर मीटर पर 100 रूपए अतिरिक्त देने होंगे। Publish Date:Mon, 09 Jul 2018 08:55 PM (IST) प्रधानमंत्री उज्जवला योजना क्रिप्टोसमाचार इंग्लैंड396/7 कोलकाता सभी को देखें होम (घर) / ऊर्जा / नीतिगत सहायता / दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना Her Zindagi आईपीओ मणिदीप शर्मा [Edited by: मोनिका गुप्ता] @manideepsharma3 Read More: Designed by : 4C Plus कार रिव्‍यूज ITR फाइलिंग में फिर किया गया बदलाव नए बैच / उपलब्ध पाठ्यक्रम/ पाठ्यक्रम अवधि परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार के अनुसार कोल इंडिया लिमिटेड और इसकी सहायक कंपनियां हरियाणा सरकार से किए समझौते पर खरी नहीं उतर रही हैं। उन्होंने केंद्रीय राज्य मंत्री आरपी सिंह के समक्ष कहा कि पर्याप्त कोल लिंकेज और हमारे उत्पादन परिसंपत्तियों के लिए धुले हुए कोयले सहित अच्छी क्वालिटी का कोयला उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने कोयला मंत्रालय और कोल इंडिया लिमिटेड को अपनी कोल वाशरीज लगाने का भी सुझाव दिया है। छत्तीसगढ़Sat, 18 Aug 2018 06:33 AM (IST) राजसमंद By Hussain Kanchwala on July 4, 2018 अमेरिका और चीन के बीच... AAM AADMI PARTY इतने बड़े पैमाने पर भारत के ग्रामीण इलाकों का विद्युतीकरण होने के बावजूद बिजली की खपत में इजाफा क्यों नहीं हुआ, इसका जवाब सरकार ने नहीं दिया है. सरकार के मुताबिक उस गांव का विद्युतीकरण हुआ माना जाता है जहां बिजली पहुंचने की आधारभूत संरचना मौजूद है और 10 फीसदी घरों और सार्वजनिक जगहों पर बिजली का क्नेक्शन है. अभी सिंचाई कार्यों के लिए 70 पैसे से 1.20 रुपये प्रति किलोवाट की दर  निर्धारित है. आयोग ने इसके लिए बिजली दर बढ़ा कर पांच रुपये प्रति यूनिट  निर्धारित कर दिया  इवेंट्स प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सौभाग्य-प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना की शुरुआत की, जिसका उद्देश्य उन सभी घरों तक बिजली पहुँचाना है, जहाँ अभी तक नहीं पहुँची  है। tegbir singh pannu‏ @tegbirpannu Jun 7 लेटेस्ट न्यूज़ Address : Civil Lines, Pucca Bagh Jalandhar Punjab Posted on April 11, 2017 मेघालय अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने वालों का लगा तांता 5.95             4.50 गैजेट्स नया 97 Manoj vaishnava Aug 12, 2018 08:38 PM प्रोग्राम (अंग्रेजी) DGCA ने किया हाईकोर्ट में विमानन कंपनियों का बचाव, बहुत ज्यादा किराया नहीं वसूल रहीं एयरलाइंस आज का मुद्दा इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि और गैर-कृषि उपभोक्ताओं को विवेकपूर्ण तरीके से विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करना सुलभ बनाने के लिए कृषि और गैर–कृषि फीडर सुविधाओं को अलग–अलग किया जाएगा। इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में वितरण और उप - पारेषण प्रणाली को मजबूत किया जाएगा जिसमें वितरण ट्रांसफार्मर, फीडर और उपभोक्‍ताओं के लिए मीटर लगाना सम्मिलित होगा। अरुण कुमार सोनी Portuguese Português do Brasil NEXT STORY बिस्टूपुर मंडल अध्यक्ष झाविमो शिक्षा बिजली चुनें - ऊर्जा आपूर्तिकर्ताओं की तुलना करें बिजली चुनें - शीर्ष ऊर्जा कंपनियां बिजली चुनें - ऊर्जा प्रदाता
Legal | Sitemap